Connect with us

Business

Zomato के को-फाउंडर मोहित गुप्ता ने दिया इस्तीफा

Published

on


गुप्ता करीब साढ़े चार साल पहले जोमैटो में शामिल हुए थे
बीएस वेब टीम / नई दिल्ली 11 19, 2022






ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म Zomato के को-फाउंडर मोहित गुप्ता ने शुक्रवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। इस बात की जानकारी एक रेगुलेटरी फाइलिंग ने दी। गुप्ता से पहले कंपनी के दो और बड़े अधिकारी ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। 



मोहित के इस्तीफे से ऑनलाइन फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म को एक बड़ा झटका मिला है। बता दें कि गुप्ता करीब साढ़े चार सालों से जोमैटो के साथ थे। 



उन्हें फूड डिलीवरी बिजनेस के CEO पोस्ट से प्रमोशन दिया गया था और वह कंपनी के को-फाउंडर पद पर थे। 


बता दें कि कोरोना के कारण कंपनी को जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई में अभी तक लगी हुई है।


जोमैटो (Zomato) ने BSE को एक लेटर में गुप्ता का लेटर भेजा है, जिसमें उन्होंने कहा, “Zomato से आगे बढ़ने का फैसला कर रहे हैं, ताकि अन्य अज्ञात मौकों की तलाश कर सकें, जो उन्हें जिंदगी में मिलती है.”


हालांकि, मोहित गुप्ता के इस्तीफा देने की सही वजह अभी स्पष्ट नहीं है। खबरों के मुताबिक, ऐसा कहा जा रहा है कि मोहित ने को-फाउंडर के पद से इस्तीफा दिया है, लेकिन वे बतौर निवेशक कंपनी के साथ जुड़े रहेंगे। 


बता दें कि मोहित से पहले जोमैटो के न्यू इनीशिएटिव हेड राहुल गंजू ने अपने पद से इस्तीफा दिया था। उनके अलावा सात नवंबर को ग्लोबल ग्रोथ के वाइस प्रेजीडेंट सिद्धार्थ झावर ने भी अपना पद छोड़ दिया था।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Business

सोने की कीमतों में मामूली बढ़त, चांदी पड़ी फीकी

Published

on

By


बीएस वेब टीम / नई दिल्ली 11 28, 2022






संबंधित खबरें

वैश्विक बाजारों से मिले नकारात्मक संकेतों के बीच सोमवार को शुरुआती कारोबार में सोने में मामूली बढ़त देखी गई। वहीं चांदी की चमक हल्की फीकी हुई। 

इंडिया बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन (IBJA) के मुताबिक शुरुआती कारोबार में सोना सोमवार को 13 रुपये की मामूली बढ़त के साथ 52,673 रुपए प्रति दस ग्राम पर कारोबार कर रहा है। वहीं चांदी का भाव 384 की गिरावट के साथ 61,445 रुपये रुपये प्रति किलो पर आ गया। इस बीच 22 कैरेट सोना 52 रुपये की तेजी के साथ 48,289 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया। 

घरेलू वायदा बाजार में भी सोने और चांदी की कीमतों में गिरावट दर्ज की गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज यानी MCX पर सोने का दिसंबर वायदा 94 रुपये यानी 0.18 फीसदी लुढ़ककर 52450.00 पर कारोबार कर रहा है। 

इसी तरह चांदी का दिसंबर वायदा 241 रुपये यानी 0.39 फीसदी लुढ़ककर 61435.00 पर आ गया।   

 








कमोडिटी 

27/11/2022

28/11/2022

अंतर 

सोना 24 कैरेट (999)

52660

52673

13

सोना 24 कैरेट (995)

52449

52462

13

सोना 22 कैरेट (916)

48237

48289

52

चांदी 

61829

61445

-384

 

नोट- सोने का भाव रुपये प्रति दस ग्राम, चांदी रुपये प्रति किलो

 



Source link

Continue Reading

Business

चीन में कड़े कोविड प्रतिबंधों को लेकर प्रदर्शन, लुढ़के एशियाई बाजार

Published

on

By


शंघाई और हांगकांग के बाजारो में 3 फीसदी की गिरावट, SGX निफ्टी भी टूटा
बीएस वेब टीम / नई दिल्ली 11 28, 2022






चीन में कड़े कोविड प्रतिबंधों को लेकर हो रहे प्रदर्शन का असर अब एशियाई बाजारों पर भी साफ-साफ दिखाई देने लगा है। SGX निफ्टी 66.00 अकं की गिरावट दिखा रहा है। वहीं ताइवानी बाजार 1.17 फीसदी की गिरावट के साथ 14,605.82 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। 


निवेशक पैसा निकालने के लिए तैयार


सोमवार को एशियाई बजारों में नजर आ रही सुस्ती को देखते हुए ऐसा लग रहा है कि निवेशक आज पैसा निकालने का मन बनाकर बैठे हुए हैं। हैंगसैंग 2.27 फीसदी लुढ़कर 17,174.06 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। कोस्पी में 0.95 फीसदी की गिरावट आई है। शंघाई कम्पोजिट 1.05 फीसदी के साथ 3,069.13 के स्तर पर कारोबार कर रहा है। 


चीन में बिगड़े हालात

 

चीन में कोविड प्रतिबंधों को लेकर जनता में रोष दिखाई दे रहा है। रविवार को पूरे चीन में विरोध प्रदर्शन फैल गया। स्थानीय अधिकारियों और कम्युनिस्ट पार्टी पर अपना गुस्सा और हताशा निकालते हुए आम जनता सड़कों और विश्वविद्यालय परिसरों में उतर गई। इसे देखते हुए कुछ इलाकों में भारी पुलिस बल को तैनात किया गया था। शंघाई में भारी भीड़ जमा थी वहीं राजधानी बीजिंग में भी प्रदर्शनों की सूचना मिली थी।

 



Source link

Continue Reading

Business

FIFA World Cup 2022: जर्मनी ने स्पेन से 1-1 से ड्रॉ खेला

Published

on

By


भाषा / नई दिल्ली November 28, 2022






जर्मनी ने स्पेन के खिलाफ फीफा विश्व कप फुटबॉल प्रतियोगिता में अपना मैच 1-1 से ड्रॉ खेला और अब अगर चार बार के विश्व चैंपियन को लगातार दूसरी बार पहले दौर में बाहर होने से बचना है तो उसे अपने अंतिम लीग मैच में हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी। 


स्थानापन्न खिलाड़ी निकलास फुलक्रुग ने रविवार को खेले गए इस मैच में 83वें मिनट में गोल करके जर्मनी को बराबरी दिलाई। इससे पहले अल्वारो मोराटा ने 62वें मिनट में स्पेन को बढ़त दिलाई थी। जर्मनी ने इस मैच में एक अंक लेकर अपनी उम्मीदें तो जीवंत रखी लेकिन उसके लिए आगे की राह भी आसान नहीं है लेकिन फुलक्रुग को विश्वास है कि उनकी टीम नॉकआउट चरण में जगह बनाने में सफल रहेगी। 


फुलक्रुग ने कहा,‘‘ हमारे लिए यह अंक हासिल करना महत्वपूर्ण था। हमारे पास निश्चित तौर पर अगले दौर में जाने का मौका है। अब हम अंतिम मैच में अच्छी भावना के साथ उतरेंगे और उम्मीद है कि सब कुछ सही होगा।’’ 


जर्मनी अपने पहले मैच में जापान से हार गया था और अब उसके भाग्य का फैसला गुरुवार को कोस्टारिका के खिलाफ होने वाले मैच से तय होगा। कोस्टारिका ने अपने दूसरे मैच में जापान को 1-0 से हराया। जर्मनी के लिए आखिरी मैच में जीत ही पर्याप्त नहीं होगी और उसे अन्य मैचों में भी अपने अनुकूल परिणामों के लिए दुआ करनी होगी। 


अगर जर्मनी और स्पेन दोनों अपने अंतिम मैच में जीत दर्ज करते हैं तो वे आगे बढ़ जाएंगे। यदि जापान और स्पेन का मैच ड्रॉ रहता है तो फिर जर्मनी और जापान में बेहतर गोल अंतर रखने वाली टीम नॉकआउट में पहुंचेगी। अगर जापान जीत दर्ज करता है तो फिर जर्मनी को गोल अंतर में स्पेन से आगे निकलना होगा जिसने अपने पहले मैच में कोस्टारिका को 7-0 से हराया था। 


जर्मनी के कोच हैंसी फ्लिक ने कहा, ‘‘उम्मीद है कि इस एक अंक से हमारा मनोबल बढ़ेगा। हम जानते हैं कि आगे बढ़ने के लिए यह पहला कदम है और कोस्टारिका के खिलाफ हमें देखना होगा कि क्या हम अंतिम 16 में जगह बनाने के लिए परिस्थितियों के अनुसार आगे बढ़ सकते हैं।’’ 


स्पेन के कोच लुइस एनरिक ने कहा कि जर्मनी के खिलाफ ड्रॉ बुरा परिणाम नहीं है। उन्होंने कहा,‘‘ हम अभी मौत के इस समूह में शीर्ष पर काबिज हैं। अभी हमारा भाग्य हमारे हाथ में है और जापान के खिलाफ ड्रॉ पर्याप्त होगा लेकिन हम वह मैच जीतने की कोशिश करेंगे।’’ 


जर्मनी और स्पेन के बीच मैच में दोनों टीम ने कुछ प्रयास किए लेकिन पहला गोल स्पेनिश टीम ने दागा जब मोराटा ने जोर्डी अल्बा के क्रॉस को बड़ी खूबसूरती से गोल में डाला। जर्मनी कुछ अवसरों पर ही स्पेन को परेशानी में डाल पाया लेकिन खेल आगे बढ़ने के साथ उसके प्रदर्शन में भी सुधार होता रहा और आखिर में फुलक्रुग के करीब से जमाए गए शॉट से वह बराबरी करने में सफल रहा।



Source link

Continue Reading