Connect with us

TRENDING

Weight Loss: कौन से हाई फाइबर फूड्स पेट की चर्बी और बॉडी वेट घटाने में प्रभावी हैं? जानें क्यों बेहद जरूरी है फाइबर

Published

on


अघुलनशील फाइबर मुख्य रूप से मल में वजन एड कर एक बल्किंग एजेंट के रूप में कार्य करता है और इसे आंत के माध्यम से बाहर निकालने में सहायता करता है. इससे कब्ज में आराम मिल सकता है. बीटा-ग्लूकन और ग्लूकोमैनन घुलनशील फाइबर हैं जो पानी के साथ मिलकर एक चिपचिपा, जेल जैसा मटेरियल बनाते हैं जो उस दर को धीमा कर देता है जिस पर पेट पचा हुआ भोजन आंत में छोड़ता है.

डायबिटीज में शुगर लेवल को प्रभावी तरीके से कंट्रोल करते हैं ये शक्तिशाली सर्दियों के फल और सब्जियां

अधिक घुलनशील फाइबर खाने से आप पेट की चर्बी बढ़ने से बच सकते हैं और चर्बी कम कर सकते हैं. कई अन्य अध्ययनों से पता चला है कि जो लोग अधिक घुलनशील फाइबर का सेवन करते हैं उनमें फैट का जोखिम कम होता है. अब जब हम समझ गए हैं कि ये फाइबर कैसे अलग होते हैं, तो आइए जानें कि ये वजन कम करने में आपकी मदद कैसे कर सकते हैं.

ताजे फल और सब्जियां फाइबर से भरी होती हैं. Photo Credit: iStock

फाइबर वजन कम करने में कैसे मददगार है? | How Is Fiber Helpful In Reducing Weight?

फाइबर वजन घटाने का एकमात्र समाधान नहीं है. हालांकि, लोकप्रिय मान्यताओं के विपरीत यह हमारे वजन घटाने में बाधा या खराब प्रभाव नहीं डालता है. बैलेंस डाइट के साथ सही तरीके से सेवन करने पर यह आपके वजन घटाने में मदद कर सकता है. ऐसे कई तरीके हैं जिनसे घुलनशील फाइबर फैट को घटाने में सहायता कर सकते हैं.

हेल्दी रहना हो या लंबी उम्र जीना, इन 4 नियमों पर टिका है तंदरुस्ती का पूरा गणित

1) गट बैक्टीरिया आंत के स्वास्थ्य में सुधार करते हैं

गट बैक्टीरिया, अन्य जीवाणुओं के विपरीत सौम्य होते हैं. बैक्टीरिया विटामिन बनाने और कचरे को संसाधित करने जैसे कार्यों में मदद करते हैं. कई अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि जो लोग अधिक घुलनशील फाइबर का सेवन करते हैं उनमें बैक्टीरिया की व्यापक विविधता और बेहतर स्वास्थ्य परिणाम होते हैं. भले ही यह स्पष्ट न हो कि ऐसा क्यों है. इसके अलावा हाल के एक अध्ययन में पाया गया है कि हेल्दी गट पेट में फैट को कम करता है.

2) भूख कम करता है

वजन कम करने के लिए कुछ खा रहे हैं तो आपके पास लो कैलोरी वाले फूड्स होने चाहिए. इसका तात्पर्य यह है कि आपके शरीर में जितनी कैलोरी (एनर्जी) अवशोषित होती है, उससे अधिक खर्च करनी चाहिए. आपकी भूख पर अंकुश लगाने वाली किसी भी चीज़ से आपकी कैलोरी की मात्रा कम हो सकती है. अगर लो कैलोरी वाली चीजों से आपकी भूख कम हो जाती है तो आपका वजन अपने आप कम हो सकता है. फाइबर भूख को कम कर सकता है.

3) वजन बनाए रखने में मदद करता है

अगर आप लो फाइबर वाले फूड्स के बजाय हाई फाइबर वाले फूड्स का सेवन करते हैं तो आप शायद कम खाएंगे और लंबे समय तक भरा हुआ महसूस करेंगे क्योंकि वे आमतौर पर अधिक संतोषजनक होते हैं. इसके अलावा हाई-फाइबर फूड्स उपभोग करने में अधिक समय लेते हैं और कम “एनर्जी इंटेंसिव” होते हैं, जिसका अर्थ है कि उनमें प्रति यूनिट भोजन में लो कैलोरी होती है.

सिर्फ ठंड की वजह से नहीं आती सर्दियों में ज्यादा नींद, इस एक विटामिन की कमी से भी होता है ऐसा

4) ब्लड शुगर लेवल में सुधार करता है

डायबिटीज या इंसुलिन सेंसिटिविटी होने से न केवल वजन कम होना धीमा हो जाता है बल्कि आपके लिए अनावश्यक वजन बढ़ाना भी आसान हो सकता है. फाइबर खासकर से घुलनशील फाइबर, शुगर के अवशोषण को धीमा करके डायबिटीज रोगियों में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है. अघुलनशील फाइबर खाने से टाइप 2 डायबिटीज के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है.

kl0n094o

फाइबर से भरपूर फूड्स डायबिटीज को प्रभावी ढंग से मैनेज करने में मदद कर सकते हैं. Photo Credit: iStock

5) खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है

लो डेंसिटी वाले लिपोप्रोटीन या “खराब,” कोलेस्ट्रॉल के लेवल सेम, ओट्स, अलसी और जई चोकर में निहित घुलनशील फाइबर से कम हो सकते हैं, जो कुल ब्लड कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में मदद कर सकते हैं. अध्ययनों के अनुसार, हाई फाइबर वाले फूड्स ब्लड प्रेशर और सूजन को कम करके आपके दिल की मदद कर सकते हैं. यह आपके वजन बढ़ने की संभावना को कम करने में मदद करता है और समग्र स्वास्थ्य में सुधार करता है.

अब जानते हैं कि फाइबर शरीर के लिए कैसे फायदेमंद हो सकता है. इसे अपनी डाइट में भरपूर मात्रा में शामिल करें.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Featured Video Of The Day

“पठान” की स्क्रीनिंग में दीपिका पादुकोण, अनिल कपूर, मलाइका अरोड़ा का जलवा



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

TRENDING

VIDEO: KL Rahul से शादी के बाद पहली बार स्पॉट हुईं अथिया शेट्टी, सैलून से बाहर निकलती दिखीं एक्ट्रेस

Published

on

By


शादी के बाद पहली स्पॉट हुईं अथिया शेट्टी

नई दिल्ली :

अथिया शेट्टी हाल ही में क्रिकेटर केएल राहुल के साथ शादी के बंधन में बंधी हैं. अपनी शादी के कुछ दिनों बाद शनिवार को वह पहली बार पब्लिक प्लेस पर दिखीं. पैपराजो अकाउंट द्वारा इंस्टाग्राम पर शेयर किए गए एक वीडियो में अथिया सैलून से बाहर निकलती नजर आ रही हैं. क्लिप में पैपराजो ने उन्हें रुकने के लिए कहा, लेकिन वह अपनी कार की तरफ तेजी से बढ़ गईं. जैसे ही फोटोग्राफर्स ने उन्हें बधाई दी, अथिया ने ‘धन्यवाद’ कहा. फिर ‘अलविदा’ कहा और अपनी कार में चली गईं. नई दुल्हन ने व्हाइट पैंट और हील्स के साथ लाइनिंग ब्राउन और क्रीम शर्ट पहनी थी.

यह भी पढ़ें

अथिया और केएल राहुल ने मंगलवार को खंडाला में अपने सुनील शेट्टी के फार्महाउस पर शादी की. शादी के बाद सुनील ने फोटोग्राफर्स से बात की और उनका शुक्रिया अदा किया. सुनील ने यह भी खुलासा किया कि दोनों की शादी का रिसेप्शन आईपीएल सीजन के बाद होगा. शादी में शामिल होने वाले चुनिंदा दोस्तों में पति आदित्य सील के साथ डायना पेंटी, कृष्णा श्रॉफ, अंशुला कपूर और अनुष्का रंजन शामिल हुई थीं. क्रिकेटर वरुण आरोन और ईशांत शर्मा, पत्नी प्रतिमा सिंह के साथ भी शामिल हुए.

फेरे लेने के कुछ घंटों बाद अथिया और केएल राहुल ने तस्वीरें पोस्ट कीं. शनिवार को अथिया ने अपने शादी समारोह से कुछ और खूबसूरत तस्वीरें साझा कीं. इंस्टाग्राम पर, उसने तस्वीरों की एक सेट में वह अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों के साथ जमकर मस्ती करते देखे गए. अथिया ने एक गुलाबी ब्लाउज के साथ एक गोल्डन साड़ी पहनी थी और भारी गहनों के साथ अपने लुक को एक्सेसराइज़ किया था.

 

 

Featured Video Of The Day

‘बूढ़ा पहाड़’ 40 साल से झेल रहा था नक्‍सलियों का दंश, जानिए कैसे कराया गया मुक्‍त 





Source link

Continue Reading

TRENDING

…जब ‘आप की अदालत’ में किरन रिजिजू ने गाया गाना ‘तेरे जैसा यार कहां’, देखिए VIDEO

Published

on

By


Image Source : INDIA TV
‘आप की अदालत’ में किरन रिजिजू

Aap Ki Adalat :  देश के सबसे चर्चित और लोकप्रिय शो आप की अदालत में केंद्रीय कानून मंत्री किरन रिजिजू ने गाना गाकर दर्शकों का दिल जीत लिया। वे कटघरे में बैठकर इंडिया टीवी के एडिटर इन चीफ रजत शर्मा के सवालों के जवाब दे रहे थे। इसी दौरान एक दर्शक ने सोशल मीडिया पर वायरल एक गाने का जिक्र करते हुए उसकी कुछ पंक्तियां सुनाने का आग्रह किया। इस पर किरन रिजिजू ने कहा कि यह आप की अदालत है और यहां बिन जज साहेब की इजाजत के गाना सुनाना सही नहीं होगा। इस पर जज ने कहा कि नहीं, आप जरूर सुनाएं, क्योंकि ये जनता की मांग है। इसके बाद रजत शर्मा ने भी गाना सुनाने का आग्रह किया। इस पर किरन रिजिजू ने ‘तेरे जैसा यार कहां.. कहां ऐसा याराना’ गाने को गुनगुनाया। इस पर दर्शकों ने खूब तालियां बजाई। आप की अदालत में किरन रिजिजू शो का प्रसारण शनिवार (28 जनवरी 2023) रात 10 बजे इंडिया टीवी पर किया गया।

किरन रिजिजू ने इस शो में सवालो का जवाब देते हुए कि कहा कि सरकार, न्यायपालिका के साथ टकराव नहीं चाहती और ना सरकार, न्यायपालिका के काम में दखल देना चाहती है। लेकिन जजों को भी तय करना होगा कि ज्यूडिशियरी, सरकार के अधिकार क्षेत्र में दखल ना दे। आपकी अदालत में किरण रिजीजू ने साफ साफ लफ्जों में कहा कि हम ज्यूडिशियरी के काम में किसी तरह का दखल नहीं देना चाहते हैं और न ही करेंगे।

अदालतो में 4.9 करोड़ केस पेंडिंग-रिजिजू

 वहीं देश की अदालतों में लंबित मुकदमों के बारे में किरन रिजिजू ने कहा कि देश की अदालतों में करीब 4.9 करोड़ केस पेंडिंग पड़े हैं। मोदी सरकार पूरी कोशिश में जुटी है कि इन मामलों का जल्दी निपटारा हो। किरन रिजिजू ने कहा कि भारत के जजों को एक दिन में 100 केस तक भी सॉल्व करना पड़ते हैं। बड़ी मुश्किल से केस के लिए डेट मिलती है। केस पेंडिंग लगातार न होते रहें, इसके लिए कई केस आपस में मिलकर भी सुलझाए जा सकते हैं, कम्प्रोमाइज किया जा सकता है। गांव स्तर के कई मामले छोटे स्तर पर भी सुलझाए जा सकते हैं।

भारत के जजों पर दुनिया का सबसे ज्यादा प्रेशर, किरन रिजिजू ने बताया एक दिन में कितने केस हो रहे सॉल्व

‘किरन रिजिजू को नहीं है कानून का लीगल एक्सपीरिएंस!’, जानिए जवाब में क्या बोले कानून मंत्री?

‘जो वकील अंग्रेजी बोलते हैं उनकी फीस ज्यादा होती है’, जानें ‘आप की अदालत’ शो में ऐसा क्यों बोले किरन रिजिजू

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





Source link

Continue Reading

TRENDING

नीतीश कुमार पर जमकर बरसे सुशील मोदी, कहा- ‘जब आप और लालू केंद्र में ताकतवर मंत्री थे तब…’

Published

on

By


Image Source : FILE
सुशील मोदी

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के विशेष राज्य का दर्जा की मांग पर पूर्व उपमुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने जबरदस्त निशाना साधते हुए कहा कि नीतीश का बार-बार विशेष राज्य की मांग करना अपनी विफलता पर पर्दा डालना और ‘थेथरोलॉजी’ मात्र है। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि जब लालू प्रसाद और नीतीश कुमार केंद्र में ताकतवर मंत्री थे, तब बिहार को विशेष राज्य का दर्जा क्यों नहीं दिला पाये?

‘मोदी सरकार ने बिहार को 1.40 लाख करोड़ रुपये का सहायता पैकेज दिया’ 

सुशील मोदी ने कहा कि लालू प्रसाद तो बिहार में राष्ट्रपति शासन लगवाने के लिए आधी रात के बाद राष्ट्रपति को जगा कर उनका हस्तक्षर करवाने का सुपर पावर रखते थे। वे तेजस्वी यादव को बतायें कि विशेष दर्जा दिलाने में क्यों विफल रहे? उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने बिहार को 1.40 लाख करोड़ रुपये के विशेष पैकेज के रूप में जो सहायता दी, वह विशेष दर्जा से अधिक लाभकारी है। राज्य सरकार विशेष पैकेज की योजनाएं लागू करने के लिए जमीन नहीं उपलब्ध करा पाई।

‘नीतीश कुमार विभिन्न समितियों की रिपोर्ट को झुठलाना चाहते हैं’

मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार विशेष राज्य के मुद्दे का राजनीतिकरण कर विभिन्न समितियों की रिपोर्ट को झुठलाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की पहल पर तत्कालीन वित्त मंत्री चिदम्बरम ने विशेष राज्य के मुद्दे पर इंटर मिनिस्ट्रियल ग्रुप बनाया था और रघुराम राजन कमेटी ने भी इस पर विचार किया था। ग्रुप और कमेटी, दोनों ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग स्वीकार नहीं की।

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें बिहार सेक्‍शन





Source link

Continue Reading