Connect with us

Sports

VIDEO: 49 की उम्र में नया खेल सीखने निकले सचिन तेंदुलकर, कहा-ये रिवर्स स्विंग की तरह

Published

on


Image Source : SACHIN TENDULKAR INSTAGRAM
कायाकिंग सीखते सचिन तेंदुलकर

Sachin Tendulkar Video: भारत के दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद भी रोज नई-नई चीजें सीखते रहते हैं। वह उन खिलाड़ियों में से हैं जो सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय हैं और लगातार अपने फैंस से जुड़े रहने की कोशिश करते हैं। 49 साल की उम्र में सचिन की सीखने की इच्छा खत्म नहीं हुई है और यही कारण है कि उन्होंने एक नए खेल को अपनी पसंद बना लिया है। मास्टर ब्लास्टर के नाम से मशहूर सचिन इस वक्त थाईलैंड में हैं और अब कायाकिंग सीखने निकल चुके हैं।

सचिन ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर कायाकिंग सीखते हुए का वीडियो अपने फैंस का साथ शेयर किया और अपनी उत्सुकता को दिखाने की कोशिश की। वीडियो में सचिन कायाकिंग के इस खेल की बारीकियां सीखते नजर आ रहे हैं।

बता दें कि कायाकिंग एक तरह का वॉटर स्पोर्ट्स है जिसमें जिसमें चप्पू जिसे ‘कयाक’ कहते हैं, उसकी मदद से एक छोटी नाव में बैठकर पानी को पार किया जाता है। इसमें कयाक के सहारे पानी के बहाव को बदलते हुए नौका को अलग-अलग दिशाओं में घुमाया जाता है। सचिन ने वीडियो में कायाकिंग सीखते हुए इसे क्रिकेट से भी जोड़ा और कयाक का इस्तेमाल करते हुए कहा कि यह काफी हद तक रिवर्स स्विंग की तरह है। बता दें कि रिवर्स स्विंग गेंदबाजी में इस्तेमाल किया जाता है, जिसे पुरानी गेंद को मूव कराने में मदद मिलती है।

बात करें सचिन की तो उन्होंने इसी महीने की शुरुआत में फुटबॉल वर्ल्ड कप के दौरान खुद को फुटबॉल के रंग में रंगने की कोशिश करते हुए एक वीडियो शेयर किया था। इसमें वह फुटबॉल खेलते नजर आए थे। जबकि उससे पहले वह नवंबर में राजस्थान की राजधानी जयपुर में नाश्ता और लस्सी पीकर मस्ती कर रहे थे। वहीं उससे पहले वह गोआ भी गए थे। 

Latest Cricket News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन





Source link

Sports

IND vs AUS: बुमराह के खराब स्पेल से जब कोहली का मूड हुआ था खराब, उठाने जा रहे थे यह कदम, फिर ईशांत ने संभाला

Published

on

By


नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह चोट से उबरकर वापसी के लिए तैयार हैं। पिछले कुछ सालों में बुमराह टीम इंडिया के लिए तेज गेंदबाजी के अगुआ बन चुके हैं। हालांकि चोट के कारण उनका करियर भी काफी प्रभावित रहा है। बुमराह ने उस समय टीम इंडिया में अपने पैर जमाए जब ईशांत शर्मा जैसे अनुभवी खिलाड़ी के हाथ में तेज गेंदबाजी की कमान थी। विराट कोहली की कप्तानी में अपने करियर को संवारने वाले बुमराह की शुरुआती समय कुछ खास नहीं था।

इसी को लेकर ईशांत शर्मा ने क्रिकबज से बात करते हुए एक रोचक किस्सा शेयर किया है जब टीम के कप्तान कोहली बुमराह की गेंदबाजी से काफी निराश थे। दरअसल यह घटना साल 2018 की है जब भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई थी। इस दौरान बुमराह का एक स्पेल बहुत खराब रहा था।

इसके बाद कप्तान कोहली बुमराह से उनकी गेंदबाजी को लेकर बात करने वाले थे लेकिन ईशांत की सालह मानकर उन्होंने ऐसा नहीं किया। ईशांत ने बताया कि, ‘कोहली काफी परेशान थे, उन्होंने मुझसे कहा मैं बुमराह से बात करना चाहता हूं लेकिन मैंने उसे मना कर दिया और समझाया कि उसे अपने हाल पर छोड़ दो। वह एक स्मार्ट गेंदबाज है। उसे छोड़ दो उसको पता है कि क्या करना है और क्या नहीं।’

सीरीज में बुमराह ने लिए 21 विकेट

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर चार टेस्ट मैचों की उस सीरीज में जसप्रीत बुमराह सबसे बेहतरीन गेंदबाज साबित हुए। उन्होंने चार मैचों में 21 अपने नाम किए जिसमें पांच विकेट हॉल भी शामिल था। बुमराह की दमदार गेंदबाजी के बदौलत ही टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में 2-1 से हराकर इतिहास रचा था।

घरेलू टेस्ट सीरीज में अब ऑस्ट्रेलिया की चुनौती

वहीं भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीम बॉर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज के लिए पूरी तरह से तैयार है। ऑस्ट्रेलियाई टीम को लंबे समय से भारत में जीत का इंतजार है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच सीरीज का पहला टेस्ट मैच 9 से 13 फरवरी के बीच नागपुर में खेला जाएगा। इसके अलावा दूसरा टेस्ट मैच में 17 से 21 फरवरी के बीच दिल्ली में खेला जाएगा। वहीं 1 से 5 मार्च के बीच तीसरा टेस्ट मैच हिमाचल के धर्मशाला में खेला जाना जबकि आखिरी टेस्ट मैच 9 से 13 मार्च के बीच अहमदाबाद में खेला जाएगा।

WI vs ZIM: शिवनारायण चंद्रपॉल के बेटे ने जिम्बाब्वे के खिलाफ जड़ी डबल सेंचुरी, बना डाला गजब रिकॉर्ड
IND vs AUS: ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों का डर तो देखिए…नागपुर टेस्ट से पहले पूरी टीम में घबराहट का माहौल
Javed Miandad: भाड़ में जाए… जावेद मियांदाद ने फिर उगला भारत के खिलाफ जहर, बदमिजाजी की इंतहा तो देखिए



Source link

Continue Reading

Sports

वुमेंस प्रीमियर लीग का शेड्यूल जारी, खिलाड़ियों की नीलामी की तारीख का भी हुआ ऐलान

Published

on

By


Image Source : TWITTER
Women’s IPL winners

वुमेंस प्रीमियर लीग (डब्ल्यूपीएल) की टीम बीडिंग के बाद से क्रिकेट जगत इस नई हाई प्रोफाइल भारतीय लीग के शेड्यूल का इंतजार कर रहा है। अब इस इंतजार की घड़ियां खत्म होती नजर आ रही है। इसी कड़ी में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की गवर्निंग काउंसिल के अध्यक्ष अरुण धूमल ने सोमवार को एक बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने वुमेंस प्रीमियर लीग के पहले सीजन के आयोजन की तारीखों का खुलासा करते हुए कहा कि यह 4 से 26 मार्च तक मुंबई में खेला जाएगा।

मुंबई में होंगे सारे मैच आयोजित

आईपीएल चेयरमैन ने बताया कि वुमेंस प्रीमियर लीग के सारे मैचों की मेजबानी मुंबई का ब्रेबॉर्न स्टेडियम और डीवाई पाटिल स्टेडियम करेगा। गुजरात जायंट्स और मुंबई इंडियंस के स्वामित्व वाली फ्रेंचाइजी के बीच टूर्नामेंट का पहला मैच खेले जाने की उम्मीद जताई गई है।

खिलाड़ियों की नीलामी 13 फरवरी को मुंबई में

धूमल ने यह भी पुष्टि की कि डब्ल्यूपीएल के लिए खिलाड़ियों की नीलामी महिला टी20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ भारत के मैच के एक दिन बाद 13 फरवरी को मुंबई में होगी। बता दें कि लगभग 1500 खिलाड़ियों ने लीग में ऑक्शन के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है और अंतिम लिस्ट इस सप्ताह के अंत में जारी होने की उम्मीद है। अगले महीने होने वाली खिलाड़ियों की नीलामी में हर टीम के पास 12 करोड़ रुपये होंगे और उसे कम से कम 15 और ज्यादा से ज्यादा 18 खिलाड़ियों को खरीदना होगा। वुमेंस प्रीमियर लीग में मैच के दौरान हर टीम को सहयोगी सदस्य देश के एक सहित कुल पांच विदेशी खिलाड़ियों को प्लेइंग इलेवन में रखने की अनुमति दी जाएगी। उद्घाटन सत्र में कुल 22 मैच खेले जाएंगे जिसमें लीग स्टेज में टॉप की टीमें सीधे फाइनल के लिए क्वालीफाई करेगी। दूसरे और तीसरे स्थान की टीमें खिताबी मुकाबले में जगह बनाने के लिए भिड़ेंगी।

डब्ल्यूपीएल के पहले सीजन में कुल पांच टीमें हिस्सा लेंगी। इन पांच टीमों में से तीन फ्रेंचाइजी आईपीएल टीम के मालिकों मुंबई इंडियंस, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और डेल्ही कैपिटल्स ने खरीदी हैं। बाकी की दो टीमें कैप्री ग्लोबल होल्डिंग्स (लखनऊ) और अडानी स्पोर्ट्सलाइन ने खरीदी हैं।

दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी लीग

वुमेंस प्रीमियर लीग की पांच टीमों की नीलामी से कुल 4669.99 करोड़ रुपए की कमाई हुई और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने इस टूर्नामेंट के मीडिया राइट्स को 951 करोड़ रुपए में बेचा। इस तरह से आईपीएल के बाद डब्ल्यूपीएल दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी लीग बन चुकी है।

Latest Cricket News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन





Source link

Continue Reading

Sports

‘भाड़ में जाओ’ वाली बात पर वेंकटेश प्रसाद ने कर दी जावेद मियांदाद की बोलती बंद, किया ये ट्वीट

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान टीम के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने एशिया कप 2023 को लेकर चल रहे विवाद पर अपने मौजूदा रुख को लेकर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) पर जोरदार हमला किया। एशिया कप 2023 की मेजबानी को लेकर पूरा मसला खड़ा हुआ है, क्योंकि इसकी मेजबानी पाकिस्तान के पास है, लेकिन बीसीसीआई ने स्पष्ट कर दिया है कि वह पाकिस्तान के दौरे पर टीम नहीं भेजेंगे। ऐसे में एशियन क्रिकेट काउंसिल यानी एसीसी ने टूर्नामेंट को न्यूट्रल वेन्यू पर आयोजित करने का फैसला किया है, जिससे पाकिस्तान खफा है। यही कारण है कि पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर भारत पर हमलावर हैं। 

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान जावेद मियांदाद ने एक कमेंट किया है, जिस पर भारत के दिग्गज क्रिकेटर वेंकटेश प्रसाद ने तीखी प्रतिक्रिया दी है और उनकी बोलती बंद कर दी है। शनिवार को बहरीन में हुई मीटिंग को लेकर उनका कहना था कि आईसीसी को बीसीसीआई के खिलाफ कड़ा एक्शन लेना चाहिए कि वे पाकिस्तान क्यों नहीं आना चाहते। उन्होंने एक पब्लिक इवेंट में कहा था, “मैं तो पहले भी कहा था कि अगर नहीं आना (पाकिस्तान) तो भाड़ में जाएं। हमें कोई फर्क नहीं पड़ता।” 

मियांदाद ने कहा था, “मैंने हमेशा पाकिस्तान का समर्थन किया है और मैं कभी भी इंडिया को छोड़ नहीं सकता है, जब भी कोई भी बात हो, लेकिन अब हमें हमारी तरफ देखना है और हमें इसके लिए लड़ाई लड़नी है। हमें किसी की परवाह नहीं हैं, क्योंकि हम अपनी क्रिकेट की मेजबानी कर रहे हैं। यह आईसीसी का काम है। यदि आईसीसी इस मुद्दे को नियंत्रित नहीं कर सकती तो इस निकाय का कोई काम नहीं है। उन्हें हर टीम के लिए समान नियम लागू करने की जरूरत है। अगर इस तरह की टीमें नहीं आती हैं तो उन्हें प्रतिबंधित कर दिया जाना चाहिए। इंडिया होगा, अपने लिए होगा। हमारे लिए नहीं है।”

वॉर्मअप मैच में बुरी तरह हारा भारत, ऑस्ट्रेलिया ने 44 रनों से जीता लो स्कोरिंग मैच

इसी आर्टिकल को रिट्वीट करते हुए वेंकटेश प्रसाद ने लिखा है, “लेकिन वे नरक में जाने से इनकार कर रहे हैं।” वेंकटेश प्रसाद ने इशारों ही इशारों में बता दिया है कि पाकिस्तान नरक है। ऐसा इसलिए भी कहा जा सकता है कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा आयोजित किए जा रहे पाकिस्तान सुपर लीग यानी पीएसएल के मैच को भी कैंसिल करना पड़ा था, क्योंकि रविवार को बम धमाके हो गए थे। 

बता दें कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने इस बात की भी धमकी दे दी है कि अगर भारत की टीम एशिया कप 2023 के लिए पाकिस्तान नहीं आएगी तो पाकिस्तान की टीम भी भारत में होने वाले वर्ल्ड कप में हिस्सा नहीं लेगी। यहां तक कि रिपोर्ट्स की मानें पीसीबी आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 को भारत से बाहर आयोजित कराने के लिए मांग कर रही है। इस पर फैसला अगले महीने होगा, जब दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख आईसीसी और एसीसी की मीटिंग का हिस्सा होंगे। 



Source link

Continue Reading