Connect with us

Fashion

Sweets Recipes : इस जन्माष्टमी घर पर बनाएं लौकी की स्वादिष्ट मिठाई, एक बार चखने के बाद बार-बार खाने पर होंगे मजबूर

Published

on


Image Source : PIXBAY
bottle gourd barfi

Highlights

  • महज कुछ मिनटों में बनाएं लौकी की बर्फी
  • लौकी की बर्फी बनाने की सही विधि

Sweets Recipes : त्योहारों का सिलसिला शुरू हो गया है और बिना मिठाई हर त्योहार अधूरा है। पूजा-पाठ हो या फिर कोई व्रत, मिठाई का भोग लगना तो ज़रूरी है। ऐसे में जन्माष्टमी का व्रक आने को है। तो क्यों न इस दिन घर पर ही महज़ कुछ ही देर में शुद्ध मिठाई बनाई जाए। पूजा-पाठ और व्रत के दौरान घर पर बनी हुई मिठाईयों का ही सेवन करना चाहिए। बाहर से आने वाली मिठाई में मिलावट होती है और व्रक के दौरान सभी इन्हें खाने से बचते हैं। 

लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। आज हम आपके लिए लेकर आए सीज़न की एक सब्जी से बनने वाली आसान मिठाई। हम बात कर रहे हैं लौकी की बर्फी की। लौकी इस सीज़न में काफी ताज़ा-ताज़ा मिलता है। यूं तो लौकी के कई फायदे हैं। लेकिन फायदों से परे आज हम अपनी ज़ुबान के स्वाद के लिए लौकी की बर्फी कैसे बनाई जाती हैं वो बताएंगे। 

Angry Foods: इन फूड्स को खाने से पारा हो जाता है हाई, गर्म मिजाज के लोग बनाएं दूरी

लौकी की बर्फी बनाने के लिए सामग्री

  1. 1 कप घिसी हुई लौकी
  2. 125 ग्राम खोया
  3. 1/4 कप चीनी
  4. 1 चम्मच घी
  5. 1/2 लीटर फुल क्रीम दूध
  6. 1चम्मच पिसी हुई इलायची 

bottle gourd barfi

Image Source : FREEPIK

bottle gourd barfi

Kitchen Tips: बारिश के मौसम में इस तरह रखें नमक-मसालों का ख्‍याल, बना रहेगा जायका और नहीं आएगी सीलन

लौकी की बर्फी बनाने की विधि

लौकी की बर्फी बनाने के लिए एक कढ़ाही में दूध को उबाल लें। दूध के अच्छे से उबल जाने के बाद इसमें घिसी हुई लौकी डालें। दूध के साथ लौकी को अच्छे से पकने दें और बीच-बीच में इसे चलाते रहें। 15-20 मिनट तक इसे धीमी आंच पर पकने दें। फिर इसमें चीनी डालें और इसे चलाते रहें।  जब तक लौकी दूध सोख न ले और यह मिक्सचर गाढ़ा न हो जाए इसे पकाते रहें। लौकी जब पूरा दूध सौख लें, तब इसमें खोया डालकर मिलाएं। फिर घी और पीसी हुई इलायची डालें। 5 मिनट बाद इस मिक्सचर को एक बड़ी प्लेट पर फैला लें। ध्यान रहें प्लेट पर घी अच्छे से लगा लें।

प्लेट पर पूरे मिकस्चर को अच्छे से फैला लें। अब इसे ठंडा होने के लिए रख दें। मिक्सचर का तापमान नॉर्मल होने के बाद इसे फ्रीज में रख दें। 30 मिनट बाद इसे बाहर निकालें और इसे छोटे-छोटे पीस में काट लें। साथ ही ड्राई फ्रूट्स से सज़ा लें। आपकी लौकी की बर्फी तैयार है। 

कटे हुए फलों को लंबे समय तक ताजा रखने का ये है सबसे आसान तरीका, कई दिनों तक बने रहेंगे फ्रेश

Latest Lifestyle News





Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Fashion

सर्दियों में स्किन के लिए इन 4 तरीकों से इस्तेमाल करें ग्लिसरीन, जानें खास फायदे

Published

on

By


Image Source : FREEPIK
Glycerine_benefits_for_skin

ग्लिसरीन के फायदे: ग्लिसरीन एक प्रकार (glycerine benefits for face) का ह्यूमेक्टेंट है जो कि त्वचा को नमी देने वाला होता है। ये आपके ओपन पोर्स को भर सकता है और इसमें ताजगी ला सकता है। ग्लिसरीन में वो खूबी होती है कि आप इसमें कई चीजों को मिला कर अपनी स्किन के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही आप इसे अपने स्किन को साफ करने और इसमें ताजगी लाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं।  इसके अलावा भी आप स्किन के लिए इसका कई प्रकार से इस्तेमाल कर सकते हैं। कैसे, जानते हैं। 

1. ड्राई स्किन के लिए

ड्राई स्किन वालों की सबसे बड़ी समस्या होती है कि उनकी स्किन सर्दियों में फटने लगती है और ग्लिसरीन इसमें कारगर तरीके से मदद करने लगता है। ग्लिसरीन न केवल त्वचा को मॉइस्चराइज करता है, यह त्वचा के निचले स्तर डर्मिस से ऊपरी स्तर एपिडर्मिस तक नमी को खींचता है। इस तरह ये त्वचा को खुद को मॉइस्चराइज करने में मदद करता है। 

Hair Oil Applying Tips: आयुर्वेद के हिसाब से बालों में इस तरीके से लगाएं तेल, ड्राइनेस, डैंड्रफ से मिलेगा छुटकारा

2. ऑयली स्किन के लिए

ऑयली स्किन वालों के लिए भी ग्लिसरीन का इस्तेमाल काफी फायदेमंद है। ग्लिसरीन एक्सफोलिएशन प्रक्रिया में एक भूमिका निभाता है, जिससे त्वचा की चमक में सुधार करने में मदद मिलती है। साथ ही अगर आप इसमें विटामिन ई मिला कर लगाएं तो ये ऑयल प्रोडक्शन को कम करने में मदद करता है। 

3. सेंसिटिव स्किन के लिए

ग्लिसरीन संवेदनशील त्वचा को कोमल बनाता है और ऑयल कंट्रोल करता है। इसके अलावा ये त्वचा की नमी की सुरक्षात्मक परत को बनाए रखने में मदद करता है जिससे आपसी स्किन तक कोई चीज सीधे नहीं पहुंचती है। इससे आपकी स्किन को नुकसान नहीं होता है। साथ ही ये झुर्रियों को कम करने में भी मददगार है। 

पेट में गैस बनने पर कैसे सोना चाहिए? जानें तरीका और फायदे

4. एक्ने वाली स्किन के लिए 

एक्ने वाली स्किन के लिए आप ग्लिसरीन का कई प्रकार से इस्तेमाल कर सकते हैं। आप इसमें एलोवेरा मिला कर लगा सकते हैं। आप इसमें नीम पीस कर मिला सकते हैं और चेहरे के लिए कई प्रकार से इस्तेमाल कर सकते हैं। ये एंटीबैक्टीरियल तरीके से काम करेगा और स्किन को अंदर से साफ करके एक्ने को कम करने में मदद करेगा। इतना ही नहीं आप अपने फटे होंठों के लिए ग्लिसरीन का इस्तेमाल कर सकते हैं। तो, सर्दियों में अपनी स्किन के लिए ग्लिसरीन का इस्तेमाल जरूर करें। 

(डिस्क्लेमर: इस लेख में व्यक्त विचार लेखक के हैं। इंडिया टीवी इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता।)

Latest Lifestyle News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Fashion and beauty tips News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन





Source link

Continue Reading

Fashion

Sesame Oil Benefits: सफेद बालों से छुटकारा दिला सकता है तिल का तेल, ऐसे करें उपयोग

Published

on

By


Image Source : FREEPIK
Sesame Oil Benefits

सफेद बालों से छुटकारा पाने के लिए डाइट और लाइफस्टाइल के साथ-साथ हेयर केयर रूटीन में भी कुछ बदलाव करना जरूरी होता है। प्रदूषण और स्ट्रेस के कारण सफेद हो रहे बालों के लिए तिल का तेल किसी वरदान से कम नहीं होता है। सेसम ऑयल हमारे बालों के लिए बेहद फायदेमंद बताया गया है और डैमेज बालों को भी अंदर से हेल्दी बनाने का काम करता है। वहीं, कम उम्र में बालों से जुड़ी हो रही परेशानियों के लिए तिल का तेल दवा की तरह काम कर सकता है। लेकिन इसे लगाने के तरीके के बारे में जानकारी आवश्यक है।

तिल के तेल का उपयोग कई तरीके से किया जा सकता है। इसमें कई औषधीय गुण मौजूद होते हैं, जो हमारी सेहत के साथ-साथ हमारे बालों के स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी होते हैं। तिल के तेल का उपयोग बालों में लगाने के साथ-साथ खाने में भी किया जा सकता है। यह ऑयल मधुमेह से बचाव करने के लिए, दिल के स्वास्थ्य के लिए और कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए भी जाना जाता है। तिल के तेल में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण (Anti-inflammatory)  मौजूद होते हैं, जो शरीर की सूजन जैसी समस्याओं के लिए भी फायदेमंद होते हैं। 

ऐसे करें तिल के तेल से बालों की मालिश

तिल के तेल को बालों में लगाने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखें। यह तेल बालों के लिए कई फायदे दे सकता है, लेकिन इसे लगाने का सही तरीका पता होना चाहिए। दरअसल, इसे अपने बालों की जड़ों में लगाने के बाद अच्छी तरीके से मालिश करें, जिससे स्कैल्प का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर रहेगा और बालों को पोषण भी मिलेगा। बालों की जड़ों तक इस तेल के पोषण को पहुंचाना जरूरी है। इसलिए 10 से 15 मिनट तक बालों की मसाज करें, ताकि तेल के अंदर मौजूद विटामिन ई और एंटी ऑक्सीडेंट बालों की जड़ों के अंदर तक पहुंच पाए।

Almond Soup Recipe: सर्दियों के मौसम में बनाए बादाम सूप, टेस्ट के साथ मिलेंगे अनगिनत फायदे

एलोवेरा और तिल का तेल

एलोवेरा और तिल के तेल को मिलाकर आप एक खास तरह का हेयर पैक भी तैयार कर सकते हैं, जो आपके बालों को हेल्दी बनाने का काम करेगा और आपके बालों के टेक्सचर में भी सुधार ला सकता है। सफेद बालों को काला करने के लिए यह फेस पैक आपकी मदद कर सकता है। इसके लिए आपको एक कटोरी में दो चम्मच तिल का तेल और एलोवेरा जेल को मिलाना है और एक स्मूथ पेस्ट बना लेना है। अब इस पेस्ट को अपने बालों पर लगाएं। उसके बाद 1 घंटे के लिए इसे ऐसे छोड़ दें। फिर अपने बालों को ठंडे पानी से धो लीजिए।

Night Skin Routine: ग्लोइंग स्किन के लिए सोने से पहले जरूर करें ये 5 काम, त्वचा रहेगी हेल्दी

Stress Relief Tips: टेंशन को कहा जाता है स्लो पॉइजन, इन बदलाव से दूर करें तनाव

Latest Lifestyle News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Fashion and beauty tips News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन





Source link

Continue Reading

Fashion

पेट में गैस बनने पर कैसे सोना चाहिए? जानें तरीका और फायदे

Published

on

By


Image Source : FREEPIK
gas_problem_in_hindi

खराब लाइफस्टाइल, लोगों को रह-रह कर परेशान कर सकती है। ऐसे में कुछ समस्याएं जैसे कि गैस, बदहजमी और सीने में जलन की दिक्कत लोगों को ज्यादा होती है। ऐसी स्थिति में जरूरी यह है कि आप अपनी लाइफस्टाइल को सुधारें और कोशिश करें कि उन टिप्स को अपनाएं जो कि आपको इस समस्या से राहत पाने में मदद करे। ऐसी ही एक समस्या है पेट में गैस होना जिसमें आपके सोने का तरीका, इससे राहत पाने में मदद कर सकता है। कैसे, जानते हैं। उससे पहले जानते हैं पेट में गैस का कारण।

पेट में गैस की समस्या क्यों होती है? 

पेट में गैस की समस्या खराब डाइट और लाइफस्टाइल के कारण होती है। जैसे कि ज्यादा तेल मसाले वाली चीजों का सेवन गैस की समस्या का कारण बन सकता है। दरअसल, जब हमारा पाचन तंत्र इसे सही से पचा नहीं पाता तो इससे एसिड बाइल जूस ऊपर की ओर आने लगता है और गले में एक जलन पैदा करता है। इससे गैस की समस्या होने लगती है। ऐसे में अगर आप अपने सोने के तरीके को ठीक करें तो इस समस्या से बच सकते हैं।

जूतों से आ रही बदबू की वजह से उठानी पड़ती है शर्मिंदगी, ट्राई करें ये टिप्स, चुटकियों में होगा हल

पेट में गैस बनने पर कैसे सोना चाहिए-How to sleep for gas relief in hindi

पेट में गैस बनने पर बाईं करवट (left side sleeping) हो कर सोएं। दरअसल, ये तरीका सच में कारगर तरीके से काम करता है। दरअसल, बाईं करवट सोने सेगुरुत्वाकर्षण छोटी आंत से बड़ी आंत तक पाचन तंत्र के माध्यम से वेस्ट प्रोडक्ट को अधिक आसानी से स्थानांतरित करने में मदद करती है। यह गैस और सूजन और अन्य पाचन संबंधी असुविधाओं से होने वाली परेशानी को कम करने में मदद करता है। 

Night Skin Routine: ग्लोइंग स्किन के लिए सोने से पहले जरूर करें ये 5 काम, त्वचा रहेगी हेल्दी

बाईं करवट सोने के फायदे-left side sleeping benefits

बाईं करवट करके सोने के कई फायदे हैं। दरअसल, इस करवट सोने से आपका डाइजेशन सही होता है और फूड मेटाबोलिज्म तेजी से होता है। इसके अलावा इस करवट सोने से ब्रेन और पेट के बीच सही पाचन को लेकर बातचीत यानी कम्युनिकेशन रहता है और पेट अपना काम आसानी से करता है। इसके अलावा इस करवट सोने से बाइल जूस या कहें कि खाना पचाने वाला एसिडिक जूस फूड पाइप के जरिए ऊपर की ओर नहीं जाता जिससे सीने में जलन की समस्या नहीं होती है। 

(डिस्क्लेमर: इस लेख में व्यक्त विचार लेखक के हैं। इंडिया टीवी इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता।)

Latest Lifestyle News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Features News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन





Source link

Continue Reading