Connect with us

Sports

Ravindra Jadeja: रविंद्र जडेजा ने मांजरेकर को मारा ताना, दुश्मनी से कब हुई दोस्ती, क्रिकेट की केमेस्ट्री समझिए

Published

on


नई दिल्ली: भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा और पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर के अतीत से कौन वाकिफ नहीं है। एक समय था जब मांजरेकर ने जडेजा की आलोचना करते हुए ‘पिट्स एंड पीस’ क्रिकेटर कह दिया था। उनके इस बयान के बाद जडेजा ने भी तिखी प्रतिक्रिया दी थी। दोनों के तरफ से सोशल मीडिया पर खूब बयानबाजी भी देखने को मिली लेकिन हाल के कुछ दिनों में जडेजा और मांजरेकर के बीच रिश्तों में सुधार आया है और माना जा रहा है कि दोनों के बीच दोस्ती की शुरुआत हो गई है।

रविंद्र जडेजा ने अपने सोशल मीडिया पर संजय मांजरेकर की एक तस्वीर शेयर कर मजाकिया अंदाज में लिखा, ‘मैं अपने खास दोस्त को स्क्रीन पर देख रहा हूं।’ यह पहली बार नहीं है जब इन दोनों ने एक दूसरे के लिए सोशल मीडिया पर कोई पोस्ट किया है। हालांकि जडेजा ने बेशक मजाकिया लहजे में मांजरेकर को लेकर ट्वीट किया है लेकिन अब यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि दोनों के बीच के रिश्तों में पहले से सुधार आया है। मांजरेकर इन दिनों लीजेंड्स लीग क्रिकेट में कमेंट्री कर रहे हैं।

जडेजा के इस ट्वीट पर संजय मांजरेकर ने भी रिप्लाई किया है। मांजरेकर ने हस्ते हुए लिखा, ‘…और आपका यह खास आपको फिर से क्रिकेट के मैदान पर देखना चाहता है।’

बता दें कि संजय मांजरेकर अपनी तिखी टिप्पणी और आलोचनाओं के लिए जाने जाते हैं। उन्होंने कई मौकों पर सोशल मीडिया और कमेंट्री के दौरान खुले तौर पर खिलाड़ियों की आलोचना की है, जिसमें जडेजा भी उनके निशाने पर आए थे।

एशिया कप में मांजरेकर ने लिया था जडेजा इंटरव्यू

हाल ही में संपन्न हुए एशिया कप में संजय मांजरेकर प्रेजेंटेशन के दौरान जडेजा के इंटरव्यू को लेकर चर्चा में थे। मांजरेकर जब जडेजा के साथ बात करने पहुंचे थे तो उन्होंने सबसे पहले उनसे पूछा कि क्या आप मेरे सवालों का जवाब देने में सजह हैं। इस जडेजा ने भी मुस्कुराते हुए कहा क्यों नहीं। फिर क्या था दोनों के बीच अच्छी खासी बात चीत हुई। संजय मांजरेकर एशिया कप में उनके खेल से काफी प्रभावित दिखे और उनकी जमकर तारीफ की।

जडेजा को घुटने में लगी चोट

रविंद्र जडेजा को एशिया कप के दौरान ही घुटने में चोट लगी थी। उन्होंने हाल ही में अपने घुटने का ऑपरेशन भी कराया है। घुटने में इस चोट के कारण वह ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व से भी बाहर हो गए हैं। ऐसे में भारतीय टीम को एक बड़ा झटका लगा है। जडेजा टीम इंडिया के लिए शानदार फॉर्म में चल रहे थे। वह अपनी गेंदबाजी के साथ टीम के लिए बल्लेबाजी में लगातार कमाल दिखा रहे थे।

Naseem Shah covid positive: पहले निमोनिया और अब कोरोना, बुमराह की तरह यह पाकिस्तानी पेसर भी हो सकता है WC से बाहर
CPL 2022: 7 चौके, 8 छक्के… टी20 वर्ल्ड कप टीम में नहीं मिली थी जगह, वेस्टइंडीज के बल्लेबाज ने मैदान पर मचाया तूफान
Sachin Tendulkar: सचिन तेंदुलकर का जलवा बरकरार, ब्रेट ली की आउट-स्विंगर पर बैकफुट से जड़ दिया चौका

आखिर जसप्रीत बुमराह की फिटनेस को हुआ क्या है? वर्ल्ड कप से भी बाहर



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Sports

PSL 2023: ‘वह मेरे बेटे जैसा है’, बाबर आजम के साथ मनमुटाव की अटकलों पर वसीम अकरम ने तोड़ी चुप्पी

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

कुछ वक्त पहले बाबर आजम और वसीम अकरम के बीच मनमुटाव की रिपोर्ट्स सामने आई थीं। खबरों में कहा गया कि बाबर ने पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) 2023 में इसलिए टीम बदली, क्योंकि वह वसीम से नाराज थे। बाबर आगामी सीजन में पेशावर जल्मी फ्रेंचाइजी के लिए खेलेंगे। इससे पहले, वह कराची किंग्स का हिस्सा था। वसीम कराची टीम के बॉलिंग कोच हैं। वसीम ने अब अटकलों पर अपनी चुप्पी तोड़ी है और उन्होंने बाबर के संग मतभेद की रिपोर्ट्स के पूरी तरह खारिज कर दिया है। 

वसीम ने क्रिकेट पाकिस्तान से बातचीत में कहा, ”मैं बाबर से कभी नाराज नहीं हुआ। कुछ पत्रकार घर बैठे हैं जो ऐसी खबरें बना रहे हैं। उनका काम ट्विटर पर ही रहना है। वे खाना नहीं खाएंगे, वे चाय नहीं पिएंगे, वे 24 घंटे और सातों दिनों ट्विटर पर हैं। मैं उनसे एक बार भी नहीं मिला हूं।” पूर्व दिग्गज गेंदबाज ने आगे कहा, ”लीग क्रिकेट में खिलाड़ियों का ट्रेड साधारण चीज है। यह मेरी टीम नहीं है। यह मालिक की टीम है। मैं बाबर से नियमित रूप से बात करता रहता हूं। वह मेरे अपने बेटे जैसा है। मैं उससे नाराज क्यों होऊंगा? मैं उसे पूरा सपोर्ट करता हूं।”

वसीम ने इसके अलावा बाबर को पाकिस्तान टीम का कप्तान बनाए रखने की हिमायत की। बता दें कि पाकिस्तान टीम ने पिछली कुछ घरेलू सीरीज में निराशाजनक प्रदर्शन किया है, जिसके बाद से बाबर को कप्तानी से हटाने की चर्चा हो रही है। वसीम ने कहा, ”हमें अपने कप्तान का समर्थन करना होगा। मैं ऐसा इसलिए कह रहा हूं क्योंकि मैं सात कप्तानों के अंडर खेला हूं। फिलहाल हमारा कप्तान अनुभवहीन है लेकिन उसे हटाने से कोई फायदा नहीं होगा। उसका सपोर्ट करेंगे तो लाभ होगा। हमें दुश्मनों की जरूरत नहीं है। हमारे अपने ही लोग काफी हैं। मैं देख रहा हूं कि कैसे लोग हर तरफ से बाबर की आलोचना कर रहे हैं। यह शर्मनाक है। मेहरबानी करें और अपना मजाक उड़वाना बंद करें। इससे मुझे वाकई दुख होता है।”



Source link

Continue Reading

Sports

Ind vs Nz 2nd T20I: भारत के लिए करो या मरो का मैच, न्यूजीलैंड के खिलाफ वापसी के लिए क्या करेंगे हार्दिक पंड्या?

Published

on

By


लखनऊ: न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला मैच गंवाने वाली भारतीय टीम (IND vs NZ) को तीन मैचों की टी20 सीरीज में बने रहने के लिए रविवार को लखनऊ में होने वाले दूसरे मैच में हर हाल में जीतना होगा। भारत के लिए शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की नाकामी और मुख्य गेंदबाजों के लचर प्रदर्शन हार की बड़ी वजह थी। हार्दिक पंड्या की अगुवाई वाली टीम रांची में पहले मैच में न्यूजीलैंड के स्पिन जाल में फंस गई थी और उसे 21 रन से हार का सामना करना पड़ा था।


अर्शदीप-उमरान रहे महंगे

इस मैच में भारतीय तेज गेंदबाजों की कमजोरी भी सामने आई क्योंकि तेज गेंदबाज अर्शदीप सिंह और उमरान मलिक ने रन लुटाकर टीम को दबाव में डाला। मलिक ने जहां अपने एक ओवर में 16 रन दिए उन्हें अर्शदीप ने पारी के अंतिम ओवर में 27 रन लुटाए। अर्शदीप का आखिरी ओवर आखिर में मैच का टर्निंग प्वाइंट साबित हुआ। भारत की बल्लेबाजी में शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसके चोटी के तीन बल्लेबाज केवल 15 रन जोड़ पाए। भारत यदि हार का अंतर कम कर पाया तो उसका श्रेय ऑलराउंडर वाशिंगटन सुंदर को जाता है जिन्होंने अर्धशतकीय पारी खेली। वाशिंगटन ने बाद में स्वीकार किया कि 150 का स्कोर बराबरी का होता।

कप्तान पंड्या इसके बावजूद तेज गेंदबाज मुकेश कुमार को पदार्पण का मौका देंगे इसकी संभावना कम लगती है। वह संभवत: अर्शदीप को वापसी का मौका दे सकते हैं। शुभमन गिल वनडे में बेहतरीन फॉर्म में थे लेकिन टी20 में वह इसे बरकरार नहीं रख पाए। उन्होंने अब तक केवल चार टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच खेले हैं और उन्हें आगे मौका दिया जाना तय है लेकिन टीम के लिए सबसे बड़ी चिंता ईशान किशन और दीपक हुड्डा की फॉर्म है।

नहीं चल रहा ईशान का बल्ला

किशन ने पिछले साल दिसंबर में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे में दोहरा शतक जड़ा था लेकिन इसके बाद वह इस फॉर्म को बरकरार नहीं रख पाए। सलामी बल्लेबाज के रूप में उतर रहे इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने उसके बाद 37, 2, 1, 5, नाबाद 8, 17 और 4 रन की पारियां खेली हैं। अगर टी20 अंतरराष्ट्रीय की ही बात करें तो इस प्रारूप में उन्होंने अपना आखिरी अर्धशतक 14 जून 2022 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लगाया था। हुड्डा भी ‘पावर हिटर’ के रूप में खास सफलता हासिल नहीं कर पाए हैं। पिछली 13 पारियों में उनका औसत केवल 17.88 है। इस बीच उनका सर्वोच्च स्कोर श्रीलंका के खिलाफ मुंबई में नाबाद 41 रन रहा।

पहले मैच में हार के बावजूद भारत के लिए वाशिंगटन सुंदर का प्रदर्शन सकारात्मक पहलू रहा। उन्होंने किफायती गेंदबाजी करने के अलावा छठे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 28 गेंदों पर 50 रन भी बनाए। विश्व के नंबर एक टी20 बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव शानदार फॉर्म में चल रहे हैं लेकिन उन्हें शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों से सहयोग की जरूरत है। जहां तक न्यूजीलैंड की बात है तो वह भारत में श्रृंखला जीतने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगा। उसका दारोमदार एक बार फिर से डेवोन कॉनवे और डेरिल मिशेल पर टिका रहेगा।

टीमें इस प्रकार हैं

भारत: हार्दिक पंड्या (कप्तान), सूर्यकुमार यादव (उपकप्तान), ईशान किशन (विकेटकीपर), शुभमन गिल, पृथ्वी साव, दीपक हुड्डा, राहुल त्रिपाठी, जितेश शर्मा (विकेटकीपर), वाशिंगटन सुंदर, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, अर्शदीप सिंह, उमरान मलिक, शिवम मावी और मुकेश कुमार।

न्यूजीलैंड: मिशेल सेंटनर (कप्तान), फिन एलेन, डेवोन कॉनवे (विकेटकीपर), ग्लेन फिलिप्स, डेन क्लीवर (विकेटकीपर), मार्क चैपमैन, माइकल ब्रेसवेल, डेरिल मिशेल, माइकल रिपन, लॉकी फर्ग्यूसन, ईश सोढ़ी, ब्लेयर टिकनर, जैकब डफी , हेनरी शिपले और बेन लिस्टर।

IND vs NZ: तीन ओवर में न्यूजीलैंड ने निकाली टीम इंडिया के टॉप ऑर्डर की हवा, नहीं चला लोकल बॉय का जादूIND vs NZ: हम भी इंसान हैं…चार ओवर में 51 रन लुटाने वाले अर्शदीप के बचाव में उतरा ये इंडियन प्लेयरIND vs NZ: एमएस धोनी का कीवी चेला दे रहा टीम इंडिया को जख्म, मैच से पहले स्टेडियम में ही लिया था गुरुमंत्र



Source link

Continue Reading

Sports

IND vs AUS : भारत दौरे से पहले डेविड वॉर्नर ने दिया आजीबोगरीब बयान, कहा- मैं थका हुआ हूं

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

ऑस्ट्रेलिया के स्टार सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर नौ फरवरी से नागपुर में भारत के खिलाफ शुरू हो रही आगामी चार टेस्ट मैचों की सीरीज से पहले काफी थके हुए हैं। वॉर्नर (36 वर्ष) ने गर्मियों के व्यस्त कार्यक्रम में कई प्रारूपों के मुकाबले खेले जिसमें जिम्बाब्वे, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, वेस्टइंडीज और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज शामिल हैं। वॉर्नर टी20 विश्व कप में खेलने के साथ बिग बैश लीग में सिडनी थंडर्स के लिए आधा दर्जन मैचों में भी खेले।

वॉर्नर ने ‘क्रिकबज’ से कहा, ”यह काफी चुनौतीपूर्ण है। मैं काफी थका हुआ हूं।” उन्होंने कहा, ”कुछ खिलाड़ी यूएई (संयुक्त अरब अमीरात) लीग के लिए गए हैं लेकिन क्रिकेट आस्ट्रेलिया के पुरस्कार समारोह में शिरकत नहीं कर रहे हैं। पर अगर मेरी बात करें तो घर पर परिवार के साथ एक और रात घर पर रहना अच्छा होता। लेकिन यह आपके हाथ में नहीं है।”

कौन हो सकते हैं भारत के फ्यूचर कप्तान?, पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने दो नाम चुने

वॉर्नर ने अपने 100वें टेस्ट में दोहरा शतक लगाकर खराब फॉर्म से वापसी की। वह सिडनी थंडर्स के लिए 20 गेंद में नाबाद 36 रन की पारी के दौरान अच्छी फॉर्म में दिखे। उन्होंने कहा, ”मैं थंडर्स टीम में कुछ ऊर्जा भरने की कोशिश कर रहा हूं। लेकिन इस साल यह अच्छा नहीं रहा। लेकिन उम्मीद करता हूं कि अगले साल मैं अब की तुलना में ज्यादा तरोताजा होकर खेलूं।”



Source link

Continue Reading