Connect with us

Sports

Naresh Kumar: डेविस कप के पूर्व कप्तान और लिएंडर पेस के ‘गुरु’ नरेश कुमार का 93 साल की उम्र में हुआ निधन

Published

on


कोलकाता: दिग्गज टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस के शुरुआती दिनों के कोच और भारत के पूर्व डेविस कप कप्तान नरेश कुमार का बुधवार को निधन हो गया। वह 93 साल के थे। उनके परिवार में पत्नी सुनीता, बेटा अर्जुन, बेटी गीता और परिहा हैं। नरेश की कप्तानी में डेविस कप में डेब्यू करने वाले जयदीप मुखर्जी ने कहा, ‘वह पिछले हफ्ते से उम्र संबंधी समस्याओं से जूझ रहे थे। मुझे बताया गया कि उनके बचने की संभावना बहुत अच्छी नहीं थी। मैंने एक महान मार्गदर्शक खो दिया है।’

नरेश का जन्म आजादी से पहले के भारत लाहौर में 22 दिसंबर 1928 को हुआ था। टेनिस में उनके सफर की शुरुआत 1949 एशिया कप से हुई। इसके बाद वह और रामनाथन कृष्णन 1950 के दशक में भारतीय टेनिस का चेहरा बने रहे।

डेविस कप में उन्होंने 1952 में डेब्यू किया और फिर भारतीय टीम के कप्तान भी बने। तीन साल के बाद उन्होंने विंबलडन के चौथे दौर में पहुंच कर अपने करियर की सबसे बड़ी उपलब्धि हासिल की। एमेच्योर खिलाड़ी के तौर नरेश कुमार ने रिकॉर्ड 101 विंबलडन मैच खेले हैं। उन्होंने अपने करियर में पांच एकल खिताब जीते – आयरिश चैंपियनशिप (1952 और 1953), वेल्श चैंपियनशिप (1952), फ्रिंटन-ऑन-सी एसेक्स चैंपियनशिप (1957) और अगले साल स्विट्जरलैंड में वेंगेन टूर्नामेंट में खिताब हासिल किया।

उन्होंने 1969 में एशियाई चैंपियनशिप में अपना अंतिम टूर्नामेंट खेला। नरेश ने 1990 में गैर-खिलाड़ी भारतीय कप्तान के रूप में जापान के खिलाफ डेविस कप टीम में 16 वर्षीय लिएंडर पेस को शामिल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। पेस इसके बाद भारतीय टेनिस के सबसे सफल खिलाड़ी बनकर उभरे।

अर्जुन पुरस्कार विजेता नरेश कुमार 2000 में द्रोणाचार्य ‘लाइफटाइम अचीवमेंट’ पुरस्कार प्राप्त करने वाले पहले टेनिस कोच बने थे। खिलाड़ी और कोच के अलावा नरेश कुमार एक प्रसिद्ध खेल कमेंटेटर और लेखक भी थे।

Australia odi captain: ऑस्ट्रेलिया ढूंढ रहा वनडे कप्तान, ये 3 खिलाड़ी ले सकते हैं फिंच की जगह, कोहली का साथी भी है रेस में
Australia Cricket Team: World T20 से पहले ऑस्ट्रेलिया के लिए बुरी खबर, भारत दौरे से बाहर हुए 3 स्टार क्रिकेटर
ENG w vs IND w: 13 चौके वाली स्मृति की झामफाड़ फिफ्टी, अंग्रेजों की तो बैंड बजा दी, 8 विकेट से मारा मैदान



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Sports

भारत के खिलाफ ODI सीरीज में बांग्लादेश की कप्तानी मिली लिटन दास को, टी20 वर्ल्ड कप में बजाई थी भारतीय गेंदबाजों की बैंड

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

रोहित शर्मा की अगुवाई में भारतीय क्रिकेट टीम तीन मैचों की वनडे इंटरनेशनल और दो मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए बांग्लादेश पहुंच चुकी है। 4 दिसंबर को भारत और बांग्लादेश के बीच पहला वनडे इंटरनेशनल मैच खेला जाना है। तमीम इकबाल चोट के चलते वनडे सीरीज से बाहर हो गए हैं, ऐसे में लिटन दास को बांग्लादेश का वनडे कप्तान बनाया गया है। शुक्रवार को बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने इसकी घोषणा की। ग्रोइन इंजरी के चलते तमीम इकबाल वनडे सीरीज में नहीं खेल पाएंगे।

BAN पहुंचा भारत, कैमरामैन को चिढ़ाते दिखे रोहित, देखिए मजेदार वीडियो

तमीम का पहला टेस्ट मैच में खेलना भी मुश्किल नजर आ रहा है। 10 दिसंबर को वनडे सीरीज खत्म होगी, जबकि 14 दिसंबर से दो मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जानी है। लिटन दास इससे पहले टी20 फॉर्मेट में बांग्लादेश की कप्तानी कर चुके हैं। 2021 में न्यूजीलैंड दौरे के समय जब रेगुलर कप्तान महमूदुल्लाह इंजर्ड हुए थे, तब लिटन को कप्तानी सौंपी गई थी। लिटन दास ने हाल में आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2022 में भारत के खिलाफ दमदार प्रदर्शन किया था।

भारत में टेस्ट सीरीज नहीं खेल पाएंगे मार्श, तीन महीने करना होगा आराम

लिटन दास बांग्लादेश क्रिकेट टीम के लीडरशिप ग्रुप में शामिल हैं। शाकिब अल हसन को जब वापस टेस्ट कप्तानी सौंपी गई, तब लिटन दास को टेस्ट टीम का उप-कप्तान बनाया गया था। वनडे सीरीज का पहला मैच 4, दूसरा मैच 7 और आखिरी मैच 10 दिसंबर को खेला जाना है। पहले दो मैच ढाका के शेर-ए-बांग्ला नैशनल स्टेडियम में खेले जाएंगे, जबकि आखिरी मैच चटगांव के जहूर अहमद चौधरी स्टेडियम में खेला जाएगा। 



Source link

Continue Reading

Sports

सौराष्ट्र दूसरी बार बना चैंपियन, नई ‘सेंचुरी मशीन’ गायकवाड़ का फॉर्म नहीं आया महाराष्ट्र के काम

Published

on

By


Vijay Hazare Trophy Final: यह फाइनल मुकाबला सौराष्ट्र के गेंदबाजों और महाराष्ट्र के बल्लेबाजों के बीच था, जिसमें अनुभवी कप्तान जयदेव उनादकट ने सौराष्ट्र को 2007 के बाद दूसरी बार चैंपियन बनाने में मदद की।

 



Source link

Continue Reading

Sports

Vijay Hazare Trophy: ऋतुराज गायकवाड़ के शतक पर शैल्डन जैक्सन ने फेरा पानी, सौराष्ट्र ने दूसरी बार खिताब जीता

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

सौराष्ट्र ने विजय हजारे ट्रॉफी के खिताबी मुकाबले में महाराष्ट्र को 5 विकेट से हरा दिया है। शेल्डन जैक्सन के शानदार शतक की बदौलत सौराष्ट्र की टीम दूसरी बार विजय हजारे ट्रॉफी का खिताबा जीतने में कामयाब हुई है। वहीं महाराष्ट्र की टीम का पहली बार चैंपियन बनने का सपना अधूरा रह गया है। फाइनल में सौराष्ट्र ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी थी। पहले बल्लेबाजी करने उतरी महाराष्ट्र ने निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 248 रन बनाए।

टीम के लिए कप्तान ऋतुराज ने सर्वाधिक 108 रन बनाए। इसके जवाब में सौराष्ट्र ने शेल्डन जैक्सन की शतकीय पारी की बदौलत 21 गेंद शेष रहते ये मैच अपने नाम किया। 

 



Source link

Continue Reading