Connect with us

TRENDING

Moringa Benefits: मोरिंग के 5 गजब फायदे, जानिए घर पर मोरिंग पाउडर और Moringa Water बनाने का तरीका

Published

on


मोरिंग के फायदे (Benefits Of Moring) कमाल के हैं और इसको मोरिंगा पाउडर या मोरिंग वाटर (Moringa Water) के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. वसंत कुंज में फोर्टिस अस्पताल के एक चिकित्सक डॉ. मनोज के. आहूजा के अनुसार, “मोरिंगा नामक पोषक तत्व से भरपूर पौधे में विटामिन, कैल्शियम, आयरन और जरूरी अमीनो एसिड प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं. ये जरूरी पोषक तत्व समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करते हैं और हमें भीतर से पोषित करें.

अपनी डाइट में मोरिंगा को कैसे शामिल करें? | How To Add Moringa In Your Diet?

ड्रमस्टिक का व्यापक रूप से कई क्लासिक भारतीय व्यंजनों में उपयोग किया जाता है – सांभर, माचेर झोल और पचड़ी कुछ नाम हैं. इसके अलावा, आप पत्तियों से मोरिंगा पाउडर भी तैयार कर सकते हैं और इसके लाभों का पूरा आनंद लेने के लिए इसे चाय, स्मूदी या डिटॉक्स वॉटर में मिला सकते हैं.

इन दो बेहतरीन फ्लेवर्स के साथ पोटैटो बाइट को दें नया ​ट्विस्ट- Video Inside

Photo Credit: iStock

घर का बना मोरिंगा पाउडर रेसिपी | घर पर मोरिंगा पाउडर कैसे बनाएं ?:

हमें लगभग हर दवा की दुकान पर पैक मोरिंगा पाउडर मिलता है. हम सुझाव देते हैं कि इसे घर पर बिना किसी प्रीजरवेटिब्स या रंगों के तैयार करें और पूरी तरह से लाभ उठाएं.

मसाला जलेबी के इस लेटेस्ट Bizarre Food ने इंटरनेट पर लोगों को किया निराश

मोरिंगा पाउडर के लिए स्टेप-बाय-स्टेप रेसिपी:

मोरिंगा के पत्तों का एक गुच्छा साफ करें और उन्हें एक साफ कपड़े पर फैला दें.

इसे दूसरे कपड़े से ढककर धूप में सूखने दें.

सूख जाने के बाद, एक ग्राइंडिंग जार में डालें और महीन पीस लें.

इसे साफ, हवाबंद जार में धूप से दूर रखें.

मोरिंगा पाउडर से मोरिंगा ड्रिंक कैसे बनाएं ? | How To Make Moringa Drink from Moringa Powder?

यहां हम आपके लिए मोरिंगा वॉटर रेसिपी लेकर आए हैं जिसमें मोरिंगा पाउडर, सेंधा नमक और शहद के गुण शामिल हैं, लेकिन रेसिपी शुरू करने से पहले आइए एक हेल्दी ड्रिंक के लाभों पर गौर करें.

करौंदे को अपनी डाइट में क्यों करें शामिल, क्या है इसके सेवन के फायदे

5oe9ou5o

Photo Credit: iStock

मोरिंगा पानी के स्वास्थ्य लाभ | रोजाना मोरिंगा का पानी पीने से क्या होता है ?:

1) वजन घटाने में सहायता करता है

सिंथिया ट्रेनर की किताब ‘How To Lose Back Fat’ के अनुसार मोरिंगा को वजन घटाने को बढ़ावा देने का सुझाव दिया गया है. पत्तों को लो फैट और पोषक तत्वों से भरपूर माना जाता है. मोरिंगा पानी पीने से “फैट स्टोरेज के बजाय एनर्जी प्रोडक्शन” को बढ़ावा मिलता है.

सर्दियों में रोजाना करें स्टार फ्रूट का सेवन मिलेंगे ये 6 अद्भुत फायदे

2) पाचन को बढ़ावा देना

कई अध्ययनों से पता चला है कि सहजन की पत्तियों का सेवन पाचन में मदद करता है. इसलिए विशेषज्ञों का सुझाव है कि कब्ज, सूजन आदि जैसी समस्याओं वाले लोग अपने दैनिक आहार में सहजन की पत्तियों को शामिल कर सकते हैं.

3) रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं

मोरिंगा की पत्ती में हाई एंटीऑक्सीडेंट जैसे क्वेरसेटिन और क्लोरोजेनिक एसिड होता है. ये यौगिक विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करते हैं, ब्लड को शुद्ध करते हैं और कई मौसमी बीमारियों को रोकते हैं. ये सभी कारक आगे इम्यून हेल्थ को बढ़ावा देने में मदद करते हैं.

4) हार्ट हेल्थ

डॉ. मनोज के आहूजा के अनुसार मोरिंगा पाउडर में शरीर में कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने की क्षमता होती है, जिससे दिल से संबंधित जोखिम कम होते हैं. इसके अलावा, मोरिंगा में जिंक की मात्रा शरीर में ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने में भी मदद कर सकती है.

न्यू ईयर पर फैमिली के लिए डिनर में बनाएं स्वादिष्ट सतरंगी बिरयानी, यहां है आसान रेसिपी

5) त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ावा दें

मोरिंगा की पत्तियां विटामिन ए से भरपूर होती हैं, जो कोमल त्वचा को बढ़ावा देती हैं. एंटीऑक्सिडेंट के अलावा, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-वायरल गुण खून को शुद्ध करने में मदद करते हैं और त्वचा की उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करते हैं.

घर पर मोरिंगा का पानी कैसे बनाएं? | How to make Moringa water at home?

  • 1 गिलास पानी उबालें. इसमें 1-2 टेबल स्पून मोरिंगा पाउडर डालें.
  • एक चुटकी सेंधा नमक और 2 चम्मच शहद मिलाएं.
  • सभी चीजों को अच्छे से मिलाएं और एक सिप लें.
  • जब आप पीते हैं तो डिटॉक्स पानी गुनगुना होना चाहिए.

मोरिंगा का पानी कब पीना चाहिए?

नाश्ते के साथ मोरिंगा का पानी पीने की सलाह दी जाती है. अगर मोरिंगा को सुबह खाली पेट लिया जाए, तो पेय एक हल्के रेचक के रूप में कार्य कर सकता है. हालांकि, इसे भोजन के साथ या भोजन के बाद लेने से पाचन को बढ़ावा देने में मदद मिलती है.

स्वस्थ खाओ, फिट रहो!

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Featured Video Of The Day

यूपी: सीतापुर में पुल से तालाब में गिरी बस, 20 से अधिक यात्री घायल



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

TRENDING

IMF ने भारत की वृद्धि दर 2023 में 6.1 फीसदी रहने का अनुमान रखा बरकरार

Published

on

By


IMF ने 2023 के लिए भारत की विकास दर 6.1% रहने का अनुमान जताया

इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड (IMF) ने साल 2023 में ग्लोबल इकोनॉमी ग्रोथ का अनुमान जारी किया है. आईएमएफ ने भारत की वृद्धि दर 2023 में 6.1 फीसदी रहने के अनुमान को बरकरार रखा है. IMF (अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष) ने भारत के लिए 2023 की इकोनॉमिक ग्रोथ 6.1 फीसदी रहने का अनुमान जताया है. आईएमएफ के मुताबिक भारत तेजी से वृ​द्धि करने वाली अर्थव्यवस्था बनी रहेगी. 

यह भी पढ़ें





Source link

Continue Reading

TRENDING

वित्त मंत्री आज संसद में पेश करेंगी आर्थिक सर्वेक्षण, देश की अर्थव्यवस्था की सेहत का मिलेगा लेखा-जोखा

Published

on

By


Photo:FILE आर्थिक सर्वेक्षण

संसद का बजट सत्र आज से शुरू हो रहा है। 11 बजे राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के के अभिभाषण के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आर्थिक सर्वेक्षण (इकोनॉमिक सर्वे) पेश करेंगी। इस आर्थिक सर्वेक्षण में देश की अर्थव्यवस्था की सेहत का लेखा-जोखा मिलेगा। आपको बता दें कि हर साल बजट से ठीक एक दिन पहले देश में आर्थिक सर्वेक्षण पेश किया जाता है। इसमें अर्थव्यवस्था के प्रमुख घटक की ग्रोथ रफ्तार, और चिंता के बारे में विस्तृत ब्योरा पेश किया जाता है। आर्थिक विशेषज्ञों का कहना है कि वैश्विक मंदी के बीच इस आर्थिक सर्वेक्षण में वित्त वर्ष 2023-24 में ग्रोथ की रफ्तार तीन साल में सबसे कम रह सकती है। आर्थिक सर्वेक्षण में देश की जीडीपी वृद्धि की रफ्तार 6 से 6.8 फीसदी रहने की संभावना है। 

क्या होता है आर्थिक सर्वेक्षण 

इकोनॉमिक सर्वे मौजूदा वित्त वर्ष का एक लेखा-जोखा होता है। इसके लिए विभिन्न सेक्टर्स, इंडस्ट्री, एग्रीकल्चर, इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन, रोजगार, महंगाई, एक्सपोर्ट जैसे डेटा का सहारा लिया जाता है। आसान भाषा में समझें तो यह सरकार का रिपोर्ट कार्ड होता है। सरकार को कहां से आय होगी, कहां खर्च होगा, महंगाई कितनी रहेगी, कौन सा सेक्टर पास हुआ कौन सा फेल हुआ, इस सब की जानकारी आर्थिक सर्वेक्षण में होती है। एक तरह से अगले दिन आने वाले आम बजट की एक बाहरी तस्वीर आर्थिक सर्वेक्षण से सामने आ जाती है। इसी सर्वे से आकलन लगाया जाता है कि कहां पर नुकसान हुआ और कहां पर फायदा हुआ है।

घर बैठे देख सकते हैं आर्थिक सर्वेक्षण

आप घर बैठे संसद में पेश होने वाले आर्थिक सर्वेक्षण का देख सकते हैं। आर्थिक सर्वेक्षण का लाइवस्ट्रीम सरकार के सभी ऑफिसियल चैनल जैसे संसद टीवी, पीआईबी इंडिया आदि पर किया जाएगा। आप इस लिंक की मदद से भी आर्थिक सर्वेक्ष्ण देख सकते हैं: https://www.youtube.com/@pibindia/videos केंद्रीय वित्त मंत्रालय के फेसबुक पेज का लिंक: https://www.facebook.com/finmin.goi ट्विटर पर लाइव अपडेट का लिंक: https://twitter.com/FinMinIndia

2 बजे प्रेस कांफ्रेंस कर दी जाएगी जानकारी 

संसद में आर्थिक सर्वेक्षण पेश हो जाने के बाद दिल्ली के नेशनल मीडिया सेंटर में चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर डॉ. वी अनंत नागेश्वरन प्रेस कांफ्रेंस करेंगे। इस दौरान वह पत्रकारों को आर्थिक सर्वेक्षण पर विस्तृत जानकारी देंगे और उनके सवालों के जवाब देंगे। आपको बता दें कि आर्थिक सर्वेक्षण मुख्य आर्थिक सलाहकार के नेतृत्व वाली टीम द्वारा तैयार किया जाता है। इस टीम में CEA के साथ वित्त और आर्थिक मामलों के जानकार शामिल रहते हैं। 

Latest Business News





Source link

Continue Reading

TRENDING

आर अश्विन बोले- हम रोहित और विराट की बात करते हैं, लेकिन ये खिलाड़ी भी दिग्गज है

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

जिस तरह से सीमित ओवरों की क्रिकेट में हाल के समय में शुभमन गिल और ईशान किशन ने अपना खेल दिखाया है, उस वजह से शिखर धवन के लिए व्हाइट बॉल क्रिकेट में दरवाजे फिलहाल के लिए बंद हो गए हैं। दिग्गज ओपनर को इस समय टीम में चुना नहीं जा रहा है। ऐसे में इस क्रिकेटर के लिए ODI क्रिकेट में कमबैक करना कठिन है। उनको लगातार तीन वनडे सीरीजों में नजरअंदाज किया गया है, लेकिन ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन का कुछ और ही मानना है।   

आर अश्विन ने शिखर घवन की तारीफ करते हुए कहा है कि 37 वर्षीय खिलाड़ी टीम के लिए सीमित ओवरों की क्रिकेट में साइलेंट कॉन्ट्रिब्यूटर रहा है। उन्होंने बाएं हाथ के बल्लेबाज को भारतीय क्रिकेट का दिग्गज कहा और एक दिलचस्प सवाल भी किया कि क्या टीम प्रबंधन को भविष्य के बारे में सोचते हुए ईशन किशन को बैक करना चाहिए या धवन को टीम में वापस लाना चाहिए।

आर अश्विन ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, “जब टॉप 3 विफल रहे, तो हमें अतीत में समस्याएं हुईं। शिखर धवन, रोहित शर्मा, विराट कोहली। हम रोहित और कोहली के बारे में काफी बातें करते हैं, लेकिन धवन भी दिग्गज हैं। वह चुपचाप अपना काम कर रहे थे। क्या उनकी जगह भरने में समस्या होगी? क्या हमें शिखर धवन के पास वापस जाना चाहिए या हमें इशान किशन को तैयार करना चाहिए, जिन्होंने अभी-अभी दोहरा शतक बनाया है?” 

उन्होंने सवाल उठाया कि एक बड़े स्कोर के आधार पर किसी खिलाड़ी का समर्थन करने के बजाय हमें यह देखना चाहिए कि टीम को क्या चाहिए? कौन सा खिलाड़ी दबाव में अच्छा प्रदर्शन उतरेगा? कौन सा किरदार लंबे समय तक हमारी सेवा करेगा? हालांकि, शुभमन गिल के प्रदर्शन से अश्विन काफी खुश नजर आए। गिल ने 3 मैचों की वनडे सीरीज में न्यूजीलैंड के खिलाफ 360 रन बनाए थे। इसमें एक दोहरा शतक और एक शतक शामिल था। 

आज से खेले जाएंगे रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल मैच, जानिए किससे भिड़ेगी कौन सी टीम

अश्विन बोले, “शुभमन गिल का खेल टीम इंडिया ने बीते दिनों देखा है। उन्होंने बहुत रन बनाए हैं और समय के साथ टीम के लिए सबसे कंसिस्टेंट बल्लेबाज रहे हैं। वह स्लॉग स्वीप और पारंपरिक स्वीप भी खेलते हैं, तेज गेंदबाजों को कट और पुल कर सकते हैं। स्मार्ट बल्लेबाजी, गुणवत्तापूर्ण बल्लेबाजी और अंत की ओर तेजी। उन्होंने आखिरी चार ओवरों में खूबसूरती से तेजी दिखाई और हैदराबाद वनडे में 200 रन पूरे किए।” 



Source link

Continue Reading