Connect with us

TRENDING

LIVE UPDATE: कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में ट्विस्ट : खड़गे की एंट्री, जी-23 के हुड्डा का मिला समर्थन

Published

on


कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन का आज आखिरी दिन है. शशि थरूर, दिग्विजय के बाद मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम भी सामने आया है. यही नहीं G-23 में शामिल भूपेंद्र हुड्डा ने भी खड़गे का अध्यक्ष पद के लिए समर्थन किया है. बता दें कि अशोक गहलोत का नाम अध्यक्ष पद की रेस से बाहर हो गया है. इस बीच सूत्रों के हवाले से खबर है कि मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम भी रेस में है और वह आज पर्चा भर सकते हैं. वहीं दिग्विजय सिंह भी आज ही नामांकन करेंगे, हालांकि एनडीटीवी से बातचीत में उन्होंने राजस्थान संकट पर कुछ भी बोलने से मना कर दिया. कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ को छोड़कर दिग्विजय सिंह बुधवार देर रात दिल्ली पहुंचे और पार्टी अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए बृहस्पतिवार को नामांकन पत्र हासिल किया. पार्टी के केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के कार्यालय से नामांकन पत्र लेने के बाद दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘‘नामांकन पत्र लेने आया हूं. संभवतः शुक्रवार को इसे भरूंगा.”उन्होंने 10 नामांकन फॉर्म लिए.

कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए घोषित कार्यक्रम के अनुसार, अधिसूचना 22 सितंबर को जारी की गई और नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया 24 सितंबर से आरम्भ हुई, जो 30 सितंबर तक चलेगी. नामांकन पत्र वापस लेने की अंतिम तिथि 8 अक्टूबर है. एक से अधिक उम्मीदवार होने पर 17 अक्टूबर को मतदान होगा और परिणाम 19 अक्टूबर को घोषित किए जाएंगे.

LIVE UPDATES:

दिग्विजय सिंह भी कांग्रेस अध्यक्ष पद की रेस से हुए बाहर
वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए नामांकन नहीं भरेंगे. सूत्रों के मुताबिक- दिग्विजय सिंह ने आज मल्लिकार्जुन खड़गे से मुलाकात थी, इसके बाद ही संभवत: उन्होंने चुनाव न लड़ने का फैसला किया. इ

मल्लिकार्जुन खड़गे से मिले दिग्विजय सिंह
दिग्विजय सिंह आज मल्लिकार्जुन खड़गे से मिले. दोनों की मुलाकात 20 मिनट चली. इस मुलाकात को लेकर उन्होंने कोई बयान नहीं दिया है.

भूपेंद्र हुड्डा ने किया मल्लिकार्जुन खड़गे का समर्थन
G-23 में शामिल और हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे का समर्थन किया है.  

मल्लिकार्जुन खड़गे से मिलने पहुंचे दिग्विजय सिंह
आज कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए नामांकन का आखिरी दिन है. इस बीच दिग्विजय सिंह आज मल्लिकार्जुन खड़गे से मिलने पहुंचे हैं.

आज दोपहर 12.15 मिनट पर भरूंगा नामांकन : शशि थरूर
शशि थरूर ने जानकारी दी है कि कांग्रेस अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए मैं आज दोपहर 12.15 भर नामांकन भरूंगा.

पार्टी को आगे ले जाना मकसद : शशि थरूर
वरिष्ठ नेता शशि थरूर नामांकन भरने के लिए घर से निकल चुके हैं. उन्होंने कहा कि पार्टी को आगे ले जाना मकसद है. जितने ज्यादा उम्मीदवार उतना ही अच्छा है. आज दोपहर को मैं नामांकन भरूंगा.



Source link

TRENDING

भारत का चीन पर एक और डिजिटल स्ट्राइक, 232 ऐप को किया बैन

Published

on

By



इन ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने और ब्लॉक करने की सिफारिश की गई थी। इसके बाद बीते सप्ताह इसकी प्रक्रिया शुरू की गई। इन चीनी ऐप को भाइन ऐप्स पर प्रतिबंध लगानरत की संप्रभुता और अखंडता के लिए खतरा बताया गया है।



Source link

Continue Reading

TRENDING

इवेंट में गिरते गिरते बचीं ऋतिक रोशन की एक्स वाइफ सुजैन खान, VIDEO देखकर लोग बोले- खुद की गलती होने के बावजूद…

Published

on

By


नई दिल्ली:

बॉलीवुड एक्टर ऋतिक रोशन ( Hrithik Roshan) की एक्स वाइफ सुजैन खान (Sussanne Khan) इन दिनों सुर्खियों में बनी हुई हैं. जहां वह अपने अर्सलान गोनी के साथ रिलेशनशिप को लेकर चर्चा में हैं तो वहीं हाल ही में एक इवेंट में शिरकत करते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. वीडियो में सुजैन गिरने से बाल बाल बचती हुई नजर आ रही हैं. वहीं वीडियो देखने के बाद फैंस अपना रिएक्शन कमेंट पर शेयर करते दिख रहे हैं. 

यह भी पढ़ें

दरअसल, हाल ही में सुजैन खान मुबंई के एक इवेंट में पहुंची थीं. इस दौरान वह ब्लैक ड्रेस में नजर आईं, जिसमें वह बार्बी डॉल की तरह बेहद खूबसूरत लग रही थीं. वहीं फैंस उनके लुक की तारीफें करते नहीं थक रहे थे. लेकिन इस इवेंट के दौरान सुजैन खान ब्लैक ड्रैस के साथ पहनी हील्स में लड़खड़ाती हुई नजर आईं, जिसके कारण वह गिरने से बाल बाल बचती दिखीं. इस दौरान उनके चेहरे पर डर साफ देखने को मिला. हालांकि उन्होंने इस ऊप्स मोमेंट को भुलाकर पैपराजी के सामने पोज भी दिए. 

सुजैन खान की यह वीडियो देखकर सोशल मीडिया यूजर्स  उनके लिए चिंता जाहिर करते नजर आए. हालांकि कुछ यूजर्स ने उनका मजाक भी उड़ाया. एक यूजर ने लिखा,’ खुद की गलती होने के बाद भी जमीन पर देख रही हैं.’ वहीं दूसरे ने मजाक करते हुए लिखा, ‘छेद कर दिया जमीन में.’ ऐसे ही कई लोगों ने उन्हें ट्रोल भी किया है.

बता दें, ऋतिक और सुजैन की दिसंबर 2000 में शादी हुई थी, जिससे उनके दो बच्चे रेहान और रिदान हैं. इसके बाद 2014 में दोनों ने तलाक ले लिया था. वहीं अब अलग होने के बावजूद अपने बच्चों के साथ वक्त बिताते नजर आते हैं. हालांकि दोनों अपनी पर्सनल लाइफ में काफी आगे बढ़ चुके हैं. जहां ऋतिक एक्ट्रेस सबा आजाद को डेट कर रहे हैं तो वहीं सुजैन, अर्सलान गोनी को डेट कर रही हैं, जिसकी वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर दोनों शेयर करते रहते हैं. 





Source link

Continue Reading

TRENDING

जब एक सेकंड की देरी ने बचाई थी परवेज मुशर्रफ की जान, राष्ट्रपति रहते कार के उड़ गए थे परखच्चे

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

Pervez Musharraf Death: पड़ोसी देश पाकिस्तान के राष्ट्रपति रहे परवेज मुशर्रफ का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया है। वह 79 वर्ष के थे। 1999 में उन्होंने तत्कालीन नवाज शरीफ सरकार का तख्ता पलट कर पाकिस्तान की बागडोर संभाली थी। जब वह राष्ट्रपति थे तो एक भयानक बम विस्फोट में उनका मौत से सामना हुआ था। 

अपनी आत्मकथा ‘In the Line of Fire: A Memoir’ में परवेज मुशर्रफ ने लिखा है कि 14 दिसंबर, 2003 को जब वह राष्ट्रपति थे, तब कराची से चकलाला एयरफोर्स बेस पर उनका विमान लैंड किया था। यह बेस  रावलपिंडी आर्मी हाउस से चार किलोमीटर की दूरी पर था और इस्लामाबाद से 10 किलोमीटर दूर था। बेस पर उतरते ही उन्हें दो बड़े समाचार मिले थे। पहला कि पाकिस्तान ने भारत को पोलो मैच में हरा दिया है, और दूसरा कि सद्दाम हुसैन पकड़े जा चुके हैं।

मुशर्रफ ने लिखा है, “जब हम कार में इस पर अपने मिलिट्री सेक्रेटरी मेजर जनरल नदीम ताज से चर्चा कर रहे थे, जो मेरे दाहिनी तरफ बैठे थे, तभी भयानक विस्फोट की आवाज सुनाई पड़ी। हमारी कार हवा में उछल गई। उसके चारों पहिए निकल कर बिखर चुके थे। उस वक्त कार एक पुलिया पर से गुजर रही थी। मैं तुरंत समझ गया था कि बड़ा बम विस्फोट हुआ है।”

पूर्व तानाशाह ने लिखा है कि तब उनके मिलिट्री सेक्रेटरी ने बताया था कि वह एक बड़ा धमाका था, जिसमें तीन टन वजनी उनकी मर्सिडिज कार हवा में उड़ गई थी। जब थोड़ी देर बाद वह रावलपिंडी के आर्मी पहुंचे तो उनके काफिले के पीछे चल रहे डिप्टी मिलिट्री सेक्रेटरी लेफ्टिनेंट कर्नल असीम बाजवा ने बताया था कि यह हमला उनकी हत्या की एक कोशिश थी, जिसमें वह बाल-बाल बच गए थे।

घर पहुंचते ही परवेज मुशर्रफ ने अपनी पत्नी सेहबा मुशर्रफ को धमाके के बारे में बताया जो कुछ देर पहले धमाके की आवाज सुन चुकी थीं। मुशर्रफ ने बताया कि अगर एक सेकंड पहले उनकी कार ब्रिज पर आई होती तो वह जिंदा नहीं बचते और उनकी कार 25 फीट ऊपर उड़ गई होती। उन्होंने अपनी बूढ़ी मां को इस घटना के बारे में नहीं बताया था।

मुशर्रफ ने इसी किताब में लिखा है कि उन्होंने अपनी जिंदगी में कुल पांच बार इसी तरह से मौत का सामना किया है। एक बार तो आतंकियों ने उन्हें घेर लिया था लेकिन किसी तरह जान बच गई। एक बार बचपन में भी पेड़ से गिरने के बाद वो बच गए थे। मुशर्रफ ने लिखा है कि जब 17 अगस्त 1988 को  जियाउल हक का विमान सी-130 क्रैश हुआ था, तब भी किस्मत से वह बच गए थे क्योंकि लास्ट मिनट में उनकी जगह दूसरे अधिकारी को ब्रिगेडियर नियुक्त कर दिया गया था।



Source link

Continue Reading