Connect with us

TRENDING

Jeff Bezos ने एक रात में गंवाए $10 बिलियन, Elon Musk मस्क की संपत्ति एक दिन में हुई इतनी कम…

Published

on


अमेरिकी शेयर बाजार में बड़े अरबपति कारोबारियों को बड़ा नुकसान हो रहा है ( File Photo)

अमेरिका (US) के सबसे अमीरअरपतियों को पिछले कुछ दिनों में बड़ा नुकसान हुआ है. इन्हें मंगलवार को  $93 बिलियन का नुकसान हुआ. यह अब तक एक दिन में हुआ नौवां सबसे बड़ा नुकसान है. यह खबर तब आई है जब अमेरिका (US) में महंगाई का आकंड़ा बाजार में चढ़ा हुआ है.  ब्लूमबर्ग के बिलियनर्स इंडेक्स में जेफ बेज़ोस (Jeff Bezos) को संपत्ति में सबसे बड़ा नुकसान हुआ. उनके $9.8 बिलियन डूब गए हैं. इलॉन मस्क (Elon Musk) की नेटवर्थ में जबकि $8.4 बिलियन का नुकसान हुआ है. मार्क ज़ुकरबर्ग, लैरी पेज, सर्गेई ब्रिन, स्टीव बॉलमर सभी की संपत्ति में $4 बिलियन से अधिक का नुकसान हुआ है.  जबकि वॉरेन बफे ने $3.4 बिलियन और बिल गेट्स ने $2.8 बिलियन गंवाए हैं.   

यह भी पढ़ें

अरबपतियों का बड़ा दैनिक नुकसान दिखाता है कि अमेरिकी स्टॉक मार्केट में बड़े पैमाने पर बिकवाली हो रही है. निवेशक दावा कर रहे हैं कि कंज्यूमर प्राइस इंडेक्ट डेटा के उम्मीद से अधिक रहने के कारण केंद्रीय बैंक इंट्रेस्ट रेट और बढ़ाएगा. जून 2020 से S&P 500 4.4%, गिरा है जबकि अधिक टेक कंपनियों वाली Nasdaq 100 इंडेक्स 5.5% गिरा है. यह मार्च 2020 में 12% गिरने के बाद सबसे अधिक है. 

यह बजार इस साल अरपतियों के लिए कई बार खराब रहा है. इस श्रेणी में यह ताजा नुकसान है. पिछले महीने ही इन अमेरिकी अरपतियों ने एक दिन में $78 बिलियन गंवाए थे.  केंद्रीय बैंक के अध्यक्ष जेरोम पॉवेल के आठ मिनट के भाषण के बाद यह नुकसान हुआ था.  

कुल मिला कर दुनिया के 500 सबसे अमीर लोगों की संपत्ति साल की शुरुआत से अब तक करीब $1.2 trillion कम है. मेटा इंक के चीफ एक्ज़ीक्यूटिव ऑफिसर  जुकरबर्ग ने $68.3 बिलियन गंवाए है यह उनकी संपत्ति का कुल 54% है. जबकि बिनांस (Binanc) के सीईओ Changpeng Zhao की संपत्ति $61 बिलियन या फिर अपनी संपत्ति  का 64% गंवा चुके हैं.  



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

TRENDING

मंत्रियों को समझाएं कि कॉलेजियम पर ना बोलें, हम संसद के कानून खारिज कर दें तो क्या होगा: SC

Published

on

By



अदालत ने गुरुवार को अटॉर्नी जनरल आर. वेंकटरमानी से कहा कि वह केंद्रीय मंत्रियों को सलाह दें कि कॉलेजियम की व्यवस्था की सार्वजनिक आलोचना करने से बचें। कानून मंत्री ने कॉलेजियम पर टिप्पणी की थी।



Source link

Continue Reading

TRENDING

“कहीं ऐसा न हो, राहुल गांधी को ‘कांग्रेस खोजो’ यात्रा करनी पड़े…”, गुजरात नतीजों पर शिवराज चौहान ने कसा तंज़

Published

on

By


शिवराज सिंह चौहान ने राहुल गांधी पर कसा तंज

गुजरात में बीजेपी की प्रचंड जीत को लेकर बीजेपी खेमे में काफी उत्साह है. इस जीत के साथ ही कांग्रेस की जीत के दावे भी धूल हो गए. इस पर जब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा कि राहुल जी भारत जोड़ो यात्रा कर रहे हैं ऐसा ना हो बाद में उन्हें कांग्रेस खोजो यात्रा करनी पड़े. गुजरात के नतीजों में 20 के नीचे समिट जाना अपने आप में कांग्रेस की स्थिति बताता है. अब वे सोचे या ना सोचें, लेकिन सच में यह भारतीय जनता पार्टी के लिए यह विजय अद्भुत और अभूतपूर्व है. 

यह भी पढ़ें

वहीं केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि गुजरात में भाजपा की प्रचंड जीत गुजरात की जनता की भाजपा और पीएम मोदी के प्रति अटूट विश्वास और स्नेह की जीत है. गुजरात में भाजपा ने जो विकास की राजनीति की, जनता ने उस पर फिर एक बार मोहर लगाई है. इस विश्वास के लिए गुजरात की जनता का कोटि कोटि धन्यवाद. प्रधानमंत्री मोदी जी, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृह मंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री भुपेंद्रभाई पटेल, प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल समेत पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को हार्दिक बधाई.

केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि गुजरात चुनावों में भाजपा की ऐतिहासिक विजय विकास, सुशासन और लोक कल्याण के प्रति पार्टी की प्रतिबद्धता की जीत है. इस विजय का सबसे बड़ा श्रेय पीएम मोदी  के नेतृत्व के प्रति जनविश्वास, उनकी लोकप्रियता और विश्वसनीयता को जाता है. उन्हें बधाई एवं जनता के प्रति आभार. वहीं सीआर पाटिल ने कहा कि यह केंद्र और गुजरात में भाजपा सरकार के सुशासन और विकास की जीत है.

बता दें कि गुजरात में तो बीजेपी की प्रचंड लहर दिखी लेकिन वह हिमाचल प्रदेश का किला नहीं बचा सकी. हिमाचल में कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है. 

 

Featured Video Of The Day

कांग्रेस अपने विधायकों को हिमाचल से कर सकती है शिफ्ट : सूत्र



Source link

Continue Reading

TRENDING

आप भी हैं ट्रेडिंग के शौकीन तो ठहर जाएं! RBI ने टाइमिंग में किया है बड़ा बदलाव

Published

on

By


Photo:INDIA TV आप भी हैं ट्रेडिंग के शौकीन तो ठहर जाएं और ये जान लें

Trading Time: भारतीय रिजर्व बैंक ने मनी मार्केट और रुपया ब्याज दर डेरिवेटिव के कुछ सेगमेंट के लिए ट्रेडिंग की टाइमिंग में बदलाव किया है। अब से कोरोना महामारी से पहले की ट्रेडिंग घंटे के हिसाब से कारोबार हो सकेगा। 

अब दो घंटे अधिक मिलेंगे ट्रेडिंग के लिए समय

बता दें, महामारी से पहले ट्रेडिंग के लिए टाइमिंग सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक हुआ करती थी, जिसे बाद में बदल कर 9 बजे से 3 बजे तक कर दिया गया था। आरबीआई ने कहा कि इंटरबैंक कॉल मनी मार्केट, कमर्शियल पेपर मार्केट, डिपॉजिट सर्टिफिकेट मार्केट, कॉरपोरेट बॉन्ड में रेपो और रुपये की ब्याज दर डेरिवेटिव के लिए आईएसटी को बहाल कर दिया गया है। आरबीआई की घोषणा 12 दिसंबर से प्रभावी हो जाएगी। सरकारी सिक्योरिटी में बाजार रेपो भी सुबह 9 बजे से दोपहर 2:30 बजे के बाद के COVID समय के साथ जारी रहेगा।

7 अप्रैल को हुआ था बदलाव

केंद्रीय बैंक ने कहा कि सरकारी बॉन्ड बाजार और मुद्रा बाजार विदेशी मुद्रा डेरिवेटिव सहित सुबह 9 बजे से दोपहर 3:30 बजे के बाद के समय के साथ जारी रहेगा। रिजर्व बैंक द्वारा विनियमित विभिन्न बाजारों के लिए व्यापारिक घंटों को 7 अप्रैल 2020 से संशोधित किया गया था, जो परिचालन अव्यवस्थाओं और COVID-19 द्वारा उत्पन्न स्वास्थ्य जोखिमों के उच्च स्तर को देखते हुए संशोधित किया गया था।

महामारी से संबंधित समस्याओं को कम करने के साथ 09 नवंबर 2020 से चरणबद्ध तरीके से बाजार के घंटों की बहाली शुरू की गई थी। उस समय सभी मार्केट सेगमेंट के लिए ट्रेड टाइमिंग को संशोधित कर सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक कर दिया गया था।

Latest Business News





Source link

Continue Reading