Connect with us

Sports

IND vs NZ: डेब्यू मैच में उमरान ने अपनी रफ्तार से बरपाया कहर, कांप गए न्यूजीलैंड के बल्लेबाज

Published

on


ऑकलैंड: न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले वनडे मैच में तेज गेंदबाज उमरान मलिक को डेब्यू का मौका मिला। अपनी रफ्तार के लिए मशहूर उमरान जब गेंदबाजी के लिए आए तो उन्होंने निराश भी नहीं किया। कप्तान शिखर धवन ने पहले पावर प्ले में ही जम्मु एक्सप्रेस को गेंद थमाई और अपने पहले ओवर की पहली ही गेंद पर न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन को चौंका दिया। उमरान ने वनडे करियर की अपनी पहली गेंद 145.9 किलोमीटर घंटे की रफ्तार फेंकी। उमरान यहीं नहीं रुके और लगातार अपनी रफ्तार को बढ़ाते रहे। इस दौरान उन्होंने 150 किलोमीटर की तेज गति की गेंद पर विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों डेवोन कॉन्वे को कैच आउट करा दिया।

उमरान ने अपने डेब्यू वनडे मैच में 10 ओवर की गेंदबाजी की जिसमें उन्होंने 66 रन खर्च कर 2 विकेट हासिल किए। हालांकि इसके बाद भी टीम इंडिया को इस मैच में हार का सामना करना पड़ा लेकिन उमरान ने जरूर अपनी गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया।

मैच में उमरान ने डेवोन कॉन्वे के अलावा डिरेल मिचेल को भी अपना शिकार बनाया जो न्यूजीलैंड के लिए 11 रन बनाकर आउट। वहीं इस मुकाबले में उनकी गति की बात करें तो उन्होंने सबसे तेज 153 किलोमीटर की रफ्तार से गेंद फेंकी।

टॉम लाथम और विलियमसन ने बिगाड़ा खेल

तीन वनडे मैचों की इस सीरीज के पहले मुकाबले में भारत को 7 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। इस मुकाबले में न्यूजीलैंड की टीम ने टॉस जीतकर पहले भारत को बल्लेबाजी का न्योता दिया था। मैच में टीम इंडिया के लिए शिखर धवन और शुभमन गिल ने बेहतरीन शुरुआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 124 रनों की पार्टनरशिप की। भारत के लिए कप्तान धवन ने 72 रनों की पारी खेली जबकि गिल ने 50 रनों का योगदान दिया।

इन दोनों के बाद श्रेयस अय्यर ने 76 गेंद में 80 रनों की पारी खेली जिसके बदौलत टीम इंडिया ने 50 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 306 रनों का विशाल स्कोर खड़ा लेकिन न्यूजीलैंड के टॉम लाथम और कप्तान केन विलियमसन ने भारत का खेल बिगाड़ दिया।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरुआत हांलाकि कुछ खास नहीं रही। फिन एलन 22 और डेवोन कॉन्वे ने 24 रन बनाकर आउट हो गए। हालांकि इसके बाद लाथम और विलियमसन ने क्रीज पर अंगद की तरह अपने पैर जमा लिए टीम को 47.1 ओवर में ही जीत दिला दी। लाथम 104 गेंद में 145 रन बनाकर नाबाद रहे जबकि विलियमसन 94 रन बनाकर वापस लौटे।

इस तरह 7 विकेट से जीत के साथ ही मेजबान न्यूजीलैंड ने सीरीज में अब 1-0 की बढ़त बना ली है।

Rohit Sharma World Cup: वर्ल्ड कप जीतना चाहते है तो IPL छोड़ दो, बचपन के कोच ने रोहित शर्मा को क्यों दी यह सलाह
Ind vs Nz: जो विराट-रोहित नहीं कर सके, वो श्रेयस अय्यर ने कर दिखाया, बनाया गजब रिकॉर्ड
Ravindra Jadeja Trolls: शर्म आनी चाहिए भाई तुम्हें… BJP के पोस्टर में टीम इंडिया की जर्सी में रविंद्र जडेजा, देखते ही भड़क गए फैंस



Source link

Sports

रिकॉर्ड के शिखर पर रुतुराज गायकवाड़, धोनी के ‘धाकड़’ कर डाले 5 अजब-गजब करिश्मे

Published

on

By


Curated by नित्यानंद पाठक | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: Nov 28, 2022, 3:15 PM

इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स के स्टार ओपनर रुतुराज गायकवाड़ ने विजय हजारे ट्रॉफी के क्वॉर्टर फाइनल में उत्तर प्रदेश के खिलाफ धमाकेदार नाबाद 220 रनों की पारी खेली। इस दौरान उन्होंने एक ओवर में लगातार 7 छक्के उड़ाए, जो वर्ल्ड रिकॉर्ड है।

 



Source link

Continue Reading

Sports

ऋतुराज गायकवाड़ से पहले ये भारतीय लगा चुका है एक ओवर में 7 बाउंड्री, नाम जानकर आप हो जाएंगे हैरान

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

भारतीय सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ ने आज घरेलू क्रिकेट में अपनी लाजवाब बल्लेबाजी से तहलका मचा दिया है। विजय हजारे ट्रॉफी 2022 में महाराष्ट्र की कप्तानी करते हुए इस खिलाड़ी ने उत्तर प्रदेश के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में ना सिर्फ दोहरा शतक ठोका बल्कि एक ओवर में 7 छक्के भी लगाए। जी हां, उन्होंने एक नो बॉल पर छक्का लगाने के साथ कुल 7 छक्के ठोकर बड़ा करिशमा किया। गायकवाड़ इसी के साथ वर्ल्ड क्रिकेट में एक ओवर में 7 छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं। मगर क्या आप जानते हैं उनसे पहले एक भारतीय खिलाड़ी ऐसा भी है जिसने 1 ओवर में 7 बाउंड्री लगाई थी। 

ऋतुराज गायकवाड़ ने ठोका दोहरा शतक, एक ही ओवर में 7 छक्के जड़कर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

यह खिलाड़ी और कोई नहीं बल्कि भारतीय पूर्व बल्लेबाज सुरेश रैना है। मिस्टर आईपीएल के नाम से मशहूर इस खिलाड़ी ने दुनिया की सबसे चर्चित लीग IPL में ये कारनामा 2014 में किया था। रैना ने इस दौरान किंग्स इलेवन पंजाब के प्रविंदर अवाना के ओवर में 2 छक्कों के साथ 5 चौके जड़े थे। इनमें से एक चौका उन्होंने नो बॉल पर लगाया था। रैना के अलावा आईपीएल में क्रिस गेल भी 2011 में एक ओवर में 7 बाउंड्री लगा चुके हैं।

दाएं हाथ के बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ ने 159 गेंदों में 220 रन की नाबाद पारी खेली, जिसमें 10 चौके और 16 छक्के शामिल थे। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 138.36 का था। उन्होंने 9 छक्के आखिरी के दो ओवरों में जड़े।

ऑस्ट्रेलिया के नए स्टार कैमरन ग्रीन ने IPL के लिए रजिस्टर कराया अपना नाम, बताया कारण

गायकवाड़ की इस तूफानी पारी के दम पर महाराष्ट्र की टीम पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में बोर्ड पर 5 विकेट के नुकसान पर 330 रन लगाने में कामयाब रही। हैरानी की बात यह रही कि कप्तान के अलावा कोई भी बल्लेबाज 40 रन का आंकड़ा पार नहीं कर पाया।



Source link

Continue Reading

Sports

संजू सैमसन टीम इंडिया से बाहर, अब नहीं खेल पाएंगे अगली सीरीज

Published

on

By


Image Source : GETTY
Sanju Samson

Sanju Samson : टीम इंडिया इस वक्त न्यूजीलैंड के दौरे पर है, वहां तीन वन डे मैचों की सीरीज खेली जा रही है। हालांकि दूसरा मैच हुआ तो लेकिन बारिश के कारण पूरा नहीं हो पाया और बाद में इसे रद घोषित कर दिया गया। टीम इंडिया सीरीज में अभी एक मैच हारकर 0.1 से पीछे चल रही है और आखिरी मैच जीतना सीरीज बराबर करने के लिए जरूरी है। सीरीज के पहले मैच में संजू सैमसन को मौका दिया गया था, उन्होंने ठीकठाक बल्लेबाजी भी की थी, लेकिन दूसरे मैच में उन्हें फिर प्लेइंग इलेवन से बाहर कर दिया गया और उनकी जगह दीपक हुड्ड को मौका दिया गया था। अब देखना दिलचस्प होगा कि तीसरे मैच में भारत की प्लेइंग इलेवन क्या होगी, क्या संजू सैमसन फिर से बाहर ही बैठेंगे, या फिर उन्हें मौका दिया जाएगा। 

बांग्लादेश के खिलाफ होने वाली वन डे सीरीज में नहीं हैं संजू सैमसन 

न्यूजीलैंड के खिलाफ वन डे सीरीज के आखिरी मैच में अगर संजू सैमसन को मौका मिला तो उनके पास अपने आप को साबित करने का आखिरी मौका होगा। क्योंकि इस सीरीज के बाद भारतीय टीम को बांग्लादेश दौरे पर जाना है, जहां तीन वन डे मैच होने हैं। इस सीरीज के लिए भी टीम इंडिया का सेलेक्शन हो गया है, लेकिन इसमें संजू सैमसन को मौका नहीं दिया गया है। यानी वे उस सीरीज का हिस्सा नहीं होंगे। टीम का ऐलान पहले ही कर दिया गया था, लेकिन इस बीच कुछ बदलाव भी किए गए। क्योंकि रवींद्र जडेजा अभी अपनी इंजरी से पूरी तरह से नहीं उबरे हैं और यश दयाल के साथ भी कुछ दिक्कत है। इसके बाद टीम बदली गई, लेकिन इसके बाद भी संजू सैमसन को मौका नहीं दिया गया। बांग्लादेश के खिलाफ भारतीय टीम को टेस्ट मैच भी खेलने हैं, उस टीम में भी संजू सैमसन को मौका नहीं दिया गया है। 

संजू सैमसन को जब भी मौका मिला, किया है प्रदर्शन 
संजू सैमसन को लगातार टीम इंडिया के लिए मौका नहीं मिल पा रहा है। लेकिन जब भी उन्हें मौका मिलता है तो वे कमाल की पारी जरूर खेलते हैं। पिछले ही मैच की बात की जाए तो 36 रन बनाए थे। इससे पहले जब दक्षिण अफ्रीकी टीम भारत के दौरे पर आई थी और तीन वन डे मैचों की सीरीज खेली गई थी, तब वे तीनों मैच खेले थे, लेकिन आपको ये जानकार ताज्जुब होगा कि तीनों मैचों में वे बल्लेबाजी के लिए आए, लेकिन एक बार भी वे आउट नहीं हुए। सीरीज के पहले मैच में संजू सैमसन ने 86 रनों की नाबाद पारी खेली, इसके बाद दूसरे मैच में नाबाद 30 रन बनाए और आखिरी मैच में दो रन बनाए और आउट नहीं हुए। इस तरह के प्रदर्शन के बाद भी बांग्लादेश के खिलाफ होने वाली सीरीज में उन्हें जगह नहीं मिली है।

बांग्लादेश वनडे के लिए भारत की टीम: रोहित शर्मा, केएल राहुल, शिखर धवन, विराट कोहली, रजत पाटीदार, श्रेयस अय्यर, राहुल त्रिपाठी, ऋषभ पंत, इशान किशन, शाहबाज अहमद, अक्षर पटेल, वाशिंगटन सुंदर, शार्दुल ठाकुर, मो शमी, मो सिराज, दीपक चाहर, कुलदीप सेन.

Latest Cricket News





Source link

Continue Reading