Connect with us

Business

वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनने की अच्छी स्थिति

Published

on


पीरजाजा अबरार / बेंगलूरु 11 18, 2022






इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने कहा कि ‘चीन प्लस वन’ रणनीति के तहत भारत इलेक्ट्रॉनिक्स और सेमीकंडक्टर उत्पादों के निर्माण में एक प्रमुख खिलाड़ी के रूप में उभरने की स्थिति में है।

चीन प्लस वन नीति को प्लस वन के नाम से भी जाना जाता है। यह केवल चीन में निवेश करने से बचने और अन्य देशों में व्यापार को विविधता प्रदान करने की व्यावसायिक रणनीति है। यह 2018 में लोकप्रिय होना शुरू हुई और कोविड -19 महामारी के बाद इसे और अधिक महत्व मिला। कोविड के बाद वैश्विक मूल्य श्रृंखलाएं (जीवीसी) बदल रही हैं और स्थानांतरित हो रही हैं। 

चंद्रशेखर ने गुरुवार शाम बेंगलुरु टेक समिट में कहा, ‘दुनिया भर के लोग अब एकमात्र स्रोत के रूप में चीन पर निर्भर नहीं रहना चाहते हैं।’ चीन प्लस वन विविधीकरण चल रहा है। इन जीवीसी में खुद को एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी के रूप में स्थापित करने के लिए भारत द्वारा पिछले 5-6 वर्षों में किए गए प्रयासों को देखते हुए देश अच्छी स्थिति में है।

भारत के लिए अवसर बड़ा है, क्योंकि इलेक्ट्रॉनिक्स और सेमीकंडक्टर उद्योग 1.5 लाख करोड़ का है। हालांकि चीन के पास इसकी 75 फीसदी हिस्सेदारी है और पिछले दो दशकों से इस उद्योग पर चीन का दबदबा है। विश्व चीन पर अपनी निर्भरता को कम करना चाहता है। चंद्रशेखर ने कहा कि भारत मजबूत भूमिका निभाने के लिए बहुत अच्छी स्थिति में है। 

 



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Business

सिख संत गुरु तेग बहादुर, समाज सुधारक ज्योतिबा फुले को UP CM योगी आदित्यनाथ ने श्रद्धांजलि दी

Published

on

By


भाषा / नई दिल्ली November 28, 2022






उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को सिख संत गुरु तेगबहादुर के बलिदान दिवस और समाज सुधारक महात्मा ज्योति राव गोविंद राव फुले की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि दी है। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को ट्वीट किया, ‘‘महान समाज सुधारक एवं चिंतक, महात्मा ज्योतिराव गोविंदराव फुले की पुण्यतिथि पर उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि।’’ 


उन्होंने लिखा, ‘‘महिलाओं को शिक्षा का अधिकार दिलाने और छुआछूत समेत अनेक कुरीतियों के उन्मूलन में उनके अविस्मरणीय योगदान समाज के लिए सदैव प्रेरणा रहेंगे।’’ 


एक अन्य ट्वीट में गुरु तेग बहादुर को नमन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘महान संत, ‘हिन्द दी चादर’ श्रद्धेय गुरु श्री तेग बहादुर जी महाराज के बलिदान दिवस पर उन्हें कोटि-कोटि नमन।’’ 


उन्होंने कहा, ‘‘आप अधर्म और अत्याचार के विरुद्ध संघर्ष के प्रबल प्रतीक हैं। धर्म, संस्कृति व मानवता की रक्षा को समर्पित आपका संपूर्ण जीवन मानव समाज के लिए एक महान प्रेरणा है।’’ 



Source link

Continue Reading

Business

विश्व कप में मोरक्को की जीत के बाद बेल्जियम, नीदरलैंड में दंगे ब्रसेल्स

Published

on

By


भाषा / नई दिल्ली November 28, 2022






फुटबॉल विश्वकप में रविवार को बेल्जियम पर मोरक्को की 2-0 से जीत के बाद बेल्जियम और नीदरलैंड के कई शहरों में दंगे भड़क उठे। ब्रसेल्स में भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने पानी की बौछार छोड़ी और आंसू गैस के गोले दागे। 


पुलिस ने ब्रसेल्स में करीब एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया जबकि उत्तरी शहर एंटवर्प में भी आठ लोगों को पकड़ा गया। ब्रसेल्स पुलिस की प्रवक्ता इल्से वैन डे कीरे ने कहा कि कई दंगाई सड़कों पर उतर आए और कारों, ई-स्कूटरों में आग लगा दी तथा गाड़ियों पर पथराव किया। घटना में एक व्यक्ति के घायल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की। 


ब्रसेल्स के महापौर फिलिप क्लोज ने लोगों से शहर के मध्य में जमा नहीं होने का अनुरोध किया और कहा कि अधिकारी सड़कों पर व्यवस्था बहाल करने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं। हालांकि पुलिस के आदेश के बाद ट्रेन और ट्राम यातायात बाधित हुआ है। क्लोज ने कहा, ‘‘ये लोग खेल के प्रशंसक नहीं हैं बल्कि ये दंगाई हैं।’’ 


आंतरिक मंत्री एनेलीज वेरलिंडेन ने कहा, ‘‘यह देखना दुखद है कि किस तरह से मुट्ठी भर लोग स्थिति को खराब कर रहे हैं।’’ 


पड़ोसी देश नीदरलैंड में पुलिस ने कहा कि रॉटरडैम में हिंसा भड़क उठी और दंगा रोधी अधिकारियों ने करीब 500 लोगों के फुटबॉल समर्थक समूह को रोकने का प्रयास किया जिन्होंने पुलिस पर पथराव किया और आगजनी तथा तोड़फोड़ की। घटना में दो पुलिस अधिकारी घायल हुए हैं।


रविवार देर शाम कई शहरों में अशांति की सूचना मिली। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक देश की राजधानी एम्सटर्डम और हेग में अशांति का माहौल है।

 



Source link

Continue Reading

Business

कर्मचारियों को रोकने के लिए 1800 डॉलर तक का बोनस दे रही फॉक्सकॉन

Published

on

By


बीएस वेब टीम / नई दिल्ली 11 28, 2022






चीन में ऐपल के सबसे बड़े प्लांट फॉक्सकॉन में शुरु हुए कर्मचारियों के विरोध के बाद, कई ने प्लांट छोड़ दिया। अब कंपनी ने फॉक्सकॉन प्लांट में कर्मचारियों को रोकने के लिए 1800 डॉलर तक के बोनस का ऐलान किया है। 

 

ब्लूमबर्ग की खबर के मुताबिक, कंपनी दिसंबर और जनवरी में उन कर्मचारियों के वेतन में 13,000 युआन प्रति माह की बढ़ोतरी करेगी, जो नवंबर या उससे पहले की शुरुआत में शामिल हुए थे। 

 

पिछले हफ्ते, फॉक्सकॉन ने अपने उन कर्मचारियों के लिए भी ऐसे ही बोनस की घोषणा की थी जो कि हिंसक प्रदर्शन में शामिल हुए थे और प्लांट छोड़ना चाहते थे। 

 

कंपनी का इस तरह से असामान्य रूप से बोनस का ऑफर देना इस बात की पुष्टि करता है कि इस समय फॉक्सकॉन को कर्मचारियों की जरूरत है ताकि काम को फिर से गति दी जा सके। 

 

वहीं Apple ने कहा है कि वह संचालन बहाल करने के लिए फॉक्सकॉन के साथ मिलकर काम कर रहा है और दोनों कंपनियों का कहना है कि वो कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध हैं। 

 

iPhone 14 Pro और Pro Max वो फोन हैं, जो इस साल सबसे अधिक डिमांड में हैं। वहीं चीन में स्थापित ऐपल के सबसे बड़े प्लांट में कोविड के चलते अप्रत्याशित नीति और अनिश्चित व्यापार संबंधों ने ऐपल के प्रोडक्शन को प्रभावित किया है। इस बारे में अमेरिकी कंपनी ने इसी महीने चेतावनी भी दी थी कि उसके लेटेस्ट प्रीमियम आईफ़ोन की शिपमेंट पहले की अपेक्षा कम होगी। 

 

 वहीं मॉर्गन स्टेनली के विश्लेषकों के अनुसार इस महीने आईफोन प्रो आउटपुट में 6 मिलियन यूनिट की कटौती देखने को मिल सकती है।



Source link

Continue Reading