Connect with us

TRENDING

मुन्ना भाइयों पर कस जाएगी नकेल, अब नहीं दे पाएंगे एग्जाम; रेलटेल ने शुरू की ये सुविधा

Published

on


Image Source : FILE
सांकेतिक फोटो

एग्जाम में फेक या डमी अभ्यर्थी से पेपर दिलाने जैसे धोखाधड़ी को रोकने के लिए रेलटेल ने एक बयोमेट्रिक सुविधा मुहैया की। रेलटेल रेल मंत्रालय के तहत काम करने वाली पब्लिक क्षेत्र की एक कंपनी है। अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक हाल में हरियाणा में हुई कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट(CET)-2022 में असली अभ्यर्थी की जगह फेक या डमी अभ्यर्थी से एग्जाम दिलाने जैसी धोखाधड़ी पर रोक लगाने लिए ‘आधार’ आधारित बयोमेट्रिक सेवा मुहैया की। 

पहली बार रेलटेल को मिली ये जिम्मेदारी

ऑटोमेशन के तहत टेक्नोलॉजी का उपयोग किया जाता है और मानवीय हस्तक्षेप को बिलकुल कम किया जाता है। हरियाणा कर्मचारी आयोग की परीक्षा का आयोजन नेशनल टेस्ट एजेंसी (NTA) द्वारा किया गया था। अधिकारी ने कहा कि यह पहली बार है, जब NTA ने सात लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों की बायोमेट्रिक समेत उनके आधार की सत्यता की जांच की जिम्मेदारी रेलटेल को सौंपी। 

एग्जाम को ज्यादा भरोसेमंद बनाना लक्ष्य

ऑटोमेशन प्रोजेक्ट का मकसद फेक या डमी अभ्यर्थी से एग्जाम दिलाने पर रोक लगाना और भर्ती प्रक्रिया के दौरान उन्हें पकड़ना था। जिससे परीक्षा को अत्यधिक विश्वसनीय बनाया जा सके। NTA ने रेलटेल को एग्जाम से पहले केंद्रों पर बायोमेट्रिक और चेहरे की तस्वीर लेकर हरियाणा CET में शामिल हो रहे अभ्यर्थियों की पहचान सुनिश्चित करने के लिए कहा था। अभ्यर्थी के ‘फिंगरप्रिंट’ और चेहरे की फोटो एक बार फिर एग्जाम क्लास में ली गई, ताकि अभ्यर्थियों की सत्यता की जांच हो सके।

Latest Education News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन





Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

TRENDING

केजरीवाल को जान से मार दूंगा, PCR में फोन कर धमकी देने वाले को क्यों पुलिस ने छोड़ा

Published

on

By



दिल्ली पुलिस उस समय सकते में आ गई जब पीसीआर में आई एक कॉल पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जान से मारने की धमकी दी गई। तुरंत हरकत में आई पुलिस आरोपी तक पहुंच गई।



Source link

Continue Reading

TRENDING

तीसरे टी20 में बेंच पर बैठे इस खिलाड़ी को मौका देंगे हार्दिक पांड्या! जानें कैसी होगी प्लेइंग 11

Published

on

By


Image Source : AP
भारतीय क्रिकेट टीम

IND vs NZ: भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज का तीसरा और निर्णायक मुकाबला बुधवार को दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला जाएगा। इस मैच में दोनों टीमों के लिए करो या मरो कि स्थिति है। सीरीज में 1-1 की बराबरी पर चल रही दोनों टीमों के बीच अहमदाबाद में कांटे की टक्कर देखने को मिल सकती है। इस मैच को जीतने वाली टीम सीरीज अपने नाम कर लेगी। ऐसे में भारत के कप्तान इस मैच को किसी भी हाल में जीतना चाहेंगे। हार्दिक की कप्तानी में भारत ने एक भी टी20 सीरीज नहीं गवाई है। हार्दिक इस मैच में टीम इंडिया में कुछ बदलाव कर सकते हैं। ऐसे में तीसरे टी20 मैच में बेंच पर बैठे खिलाड़ियों को मौका दिया जा सकता है। आइए इस मैच से पहले एक नजर भारत की संभावित प्लेइंग 11 पर डाले।

टॉप ऑर्डर में बदलाव

न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए पहले दो टी20 मुकाबले में फेल साबित हुई भारत की टॉप ऑर्डर में हार्दिक कुछ बदलाव कर सकते हैं। वनडे मैचों में अपना लोहा मनवा चुके शुभमन गिल को तीसरे टी20 मुकाबले में टीम से ड्रॉप किया जा सकता है। उनकी जगह बेंच पर बैठे पृथवी शॉ को मौका दिया जा सकता है। हार्दिक को टॉप ऑर्डर को मजबूत करने के लिए यह फैसला लेना ही होगा। वहीं पृथवी के साथ ईशान किशन ओपन करते नजर आएंगे। तीसरे नंबर पर राहुल त्रिपाठी को ही मौका दिया जाएगा। राहुल ने पिछले कुछ मैचों से कुछ खास नहीं किया है, लेकिन कप्तान हार्दिक उन्हें मौका देना चाहेंगे।

ये संभालेंगे मिडिल ऑर्डर

मिडिल ऑर्डर को इस मैच में भी सूर्यकुमार यादव और हार्दिक पांड्या ही संभालेंगे। हार्दिक बल्ले के साथ-साथ गेंद से भी टीम के लिए कमाल कर सकते हैं। इनके अलावा दीपक हुड्डा और वॉशिंगटन सुंदर पांचवें और छठे नंबर पर नजर आएंगे। ये दोनों खिलाड़ी नरेंद्र मोदी स्टेडियम के स्पिन ट्रेक्स पर अपना कमाल दिखा सकते हैं। हालांकि रांची और लखनऊ के पिचों की स्थिति को देखते हुए अहमदाबाद में पिच को थोड़ा कम स्पिन फ्रैंडली बनाया जा सकता है। दीपक हुड्डा को इस मैच में बल्ले से कमाल करने की जरूरत है। उनके फ्लॉप होने के कारण टीम की बल्लेबाजी में गहराई नजर नहीं आ रही है। वॉशिंगटन सुंदर की बात करे तो वह बल्ले और गेंद दोनों से शानदार फॉर्म में हैं।

इनके हाथों में होगी गेंदबाजी की कमान

गेंदबाजों की बात करे तो इस मैच में हार्दिक वहीं गेंदबाजी यूनिट के साथ जाना चाहेंगे जिन गेंदबाजों को उन्होंने पहले दोनों टी20 मैचों में खिलाया था। ऐसे में एक बार फिर से स्पिन यूनिट को कुलचा यानी युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव संभालेंगे। वहीं तेज गेंदबाजों के रूप में शिवम मावी और अर्शदीप सिंह एक बार फिर से एक्शन में नजर आ सकते हैं।

तीसरे टी20 के लिए भारत की संभावित प्लेइंग 11

पृथवी शॉ, ईशान किशन, राहुल त्रिपाठी, सूर्यकुमार यादव, दीपक हुड्डा, हार्दिक पांड्या, वॉशिंगटन सुंदर, शिवम मावी, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अर्शदीप सिंह

यह भी पढ़े-

Latest Cricket News





Source link

Continue Reading

TRENDING

बजट से पहले IMF का अनुमान, 2023 में तेजी के साथ आगे बढ़ेगी इंडियन इकोनॉमी, चीन और अमेरिका बहुत पीछे

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

कल यानी एक फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण भारत सरकार का अगला आम बजट पेश करेंगी। बजट में होने वाले ऐलान को लेकर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं। बजट और इकोनॉमिक सर्वे से पहले आईएमएफ ने झटका दिया है। आईएमएफ (IMF) की डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर गीता गोपीनाथ ने रिपोर्ट को ट्वीट करते हुए बताया है कि ग्लोबल इकोनॉमी में इस साल पिछले वर्ष की तुलना में गिरावट देखने को मिल सकती है। भारत के लिए अच्छी बात यह है कि मौजूदा साल में देश की ग्रोथ रेट चीन और अमेरिका से अधिक रहने की उम्मीद है। हालांकि, पिछले साल के मुकाबले ग्रोथ रेट में गिरावट देखने को मिल सकती है।

आईएमएफ ने अपने अनुमान में जताया है, “भारत की ग्रोथ रेट 2022 के 6.8 प्रतिशत से घटकर 6.1 प्रतिशत 2023 में रह सकती है। हालांकि, यह एक बार फिर इसे 2024 में 6.8 प्रतिशत तक जाने की संभावना जताई जा रही है।” वहीं, आईएमएफ के चीफ इकोनॉमिस्ट और रिसर्च डायरेक्टर ने कहा, “चालू वित्त वर्ष के लिए हमने अक्टूबर के अनुमान को बरकरार रखा है। लेकिन मार्च के बाद ग्रोथ रेट में गिरावट देखने को मिल सकती है। वित्त वर्ष 2023 भारत की अर्थव्यवस्था की रफ्तार 6.1 प्रतिशत रह सकती है। ग्रोथ रेट में गिरावट की वजह वैश्विक अस्थिरता है।”

सरकारी कंपनी ने डिविडेंड का किया ऐलान, रिकॉर्ड डेट 10 फरवरी से पहले

अमेरिका और चीन से तेज रहेगी भारत की रफ्तार 

आईएमएफ ने अपने प्रोजेक्शन में कहा है कि साल 2023 के अमेरिकी अर्थव्यवस्था की ग्रोथ रेट 1.4 प्रतिशत, चीन की 5.2 प्रतिशत रह सकती है। जोकि भारत की तुलना में कम है। बता दें, चीन के लिए पिछला साल काफी चुनौती पूर्ण रहा है। जीरो कोविड पॉलिसी ने चीनी अर्थव्यस्था के लिए बुरा साल साबित हुआ था। लेकिन नया वर्ष भारत के पड़ोसी के लिए राहत भरा हो सकता है। 

भारत की सबसे तेज रहेगी ग्रोथ रेट 

जहां चीन कोविड की मार झेल रहा है। तो वहीं, रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध ने अमेरिका और यूरोपिय देशों पर बुरा असर डाला है। संकट के दौर में भी भारत सबसे तेज ग्रोथ रेट दर्ज करेगा। 2023 ही नहीं 2024 में भी भारत की इकोनॉमी चीन,अमेरिका जैसे देशों की तुलना में अधिक तेजी के साथ बढ़ेगी। 



Source link

Continue Reading