Connect with us

TRENDING

मंगेतर नूपुर संग इस अंदाज में सगाई करने पहुंची आमिर खान की बेटी आइरा खान, VIDEO हुआ वायरल

Published

on


चर्चा में रहा आइरा खान का इंगेजमेंट लुक

नई दिल्ली :

आमिर खान की बेटी आइरा खान ने अपने लॉन्ग टाइम बॉयफ्रेंड नूपुर शिखरे के साथ सगाई कर ली है. कुछ समय पहले नूपुर ने आइरा को प्रपोज किया था, जिसका एक वीडियो आइरा ने अपने इंस्टा हैंडल पर शेयर किया था. अब दोनों आधिकारिक तौर पर एक-दूसरे के हो गए हैं. आइरा की इंगेजमेंट में उनका लुक सबसे ज्यादा चर्चा में रहा. आइरा ने अपने खास दिन के लिए जहां लाल रंग के डीप नेक लॉन्ग ट्यूब गाउन को चुना था. वहीं उनके मंगेतर नूपुर शिखरे ब्लैक सूट में नजर आए. आइरा खान का एक वीडियो इस समय तेजी से इंटरनेट पर वायरल हो रहा है, जिसमें वे नूपुर संग अपनी इंगेजमेंट सेरेमनी में जाती हुई दिखाई दे रही हैं.

यह भी पढ़ें

हालांकि इस वीडियो के सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर एक बड़ी संख्या में लोग आइरा को ट्रोल करने लगे हैं. दरअसल, लोगों को आइरा का इंगेजमेंट लुक कुछ खास पसंद नहीं आया, जिस वजह से सोशल मीडिया यूजर्स आमिर खान की बेटी का जमकर मजाक उड़ा रहे हैं. वीडियो में आप देख सकते हैं कि आइरा ने लाल रंग के गाउन के नीचे सफेद रंग का जूता पहना है. वीडियो पर एक यूजर ने कमेंट कर लिखा है, ‘ये कौन सा लुक हुआ भाई. गाउन के नीचे जूता’. तो वहीं एक अन्य ने लिखा है, ‘कोई और ड्रेस नहीं मिला. कितना बेकार है’. जबकि एक यूजर ने आइरा के मंगेतर नूपुर पर कमेंट करते हुए लिखा है, ‘मुझे लगा ब्लैक में जो लड़का है वह उसका बॉडीगार्ड है. बाद में पता चला कि मंगेतर है’. 

हालांकि कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्हें आइरा प्यारी लग रही हैं. एक यूजर ने लिखा है, ‘आइरा और नूपुर साथ में कितने अच्छे लग रहे हैं’. बता दें, वीडियो को वूम्पला के ऑफिशियल इंस्टा हैंडल से शेयर किया गया है, जिस पर हजारों की संख्या में लाइक्स आए हैं. आपको कैसा लगा आइरा का लुक? हमें कमेंट कर जरूर बताएं.

       

Featured Video Of The Day

BCCI ने सेलेक्शन कमेटी को क्यों किया बर्खास्त ? जानिए वजह





Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

TRENDING

जाति आधारित नाम वाले विद्यालयों का नाम बदलेगी पंजाब सरकार 

Published

on

By


पंजाब सरकार ने कहा कि स्कूल के जाति आधारित नाम समाज में जातिगत अलगाव को बढ़ावा देते हैं.

चंडीगढ़ :

पंजाब के स्कूल शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस ने गुरुवार को राज्य के उन सभी सरकारी विद्यालयों के नाम बदलने का आदेश जारी किया है, जिनका नाम किसी जाति और बिरादरी के आधार पर रखा गया है. उन्होंने कहा कि इससे समाज में जातिगत अलगाव को बढ़ावा देते हैं.

बैंस ने यहां एक बयान में कहा, ‘‘राज्य के कई सरकारी विद्यालयों के नाम किसी जाति से जुड़े होने के कई मामले सामने आए हैं.”

       

उन्होंने कहा कि पंजाब के सरकारी विद्यालयों में सभी विद्यार्थियों को समानता के आधार पर शिक्षा दी जा रही है, इसलिए सरकारी विद्यालयों के नाम किसी विशेष वर्ग या जाति से संबंधित नहीं हो सकते.

 

Featured Video Of The Day

कर्नाटक का झंडा लहराया तो मराठी स्टूडेंट ने कर दी पिटाई



Source link

Continue Reading

TRENDING

बिहार में फिल्म निर्माण की अपार संभावनाएं, इसे बढ़ावा देने के लिए सरकार ने किए हैं कई उपाय: नीतीश कुमार

Published

on

By


नीतीश कुमार ने कहा कि राजगीर में एक अत्याधुनिक फिल्म सिटी का निर्माण किया जा रहा है. (फाइल फोटो)

पटना:

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को कहा कि बिहार में फिल्म निर्माण की अपार संभावनाएं हैं और उनकी सरकार ने राज्य में फिल्म निर्माण को बढ़ावा देने के लिए कई उपाय किए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि फिल्में पर्यटन को बढ़ावा देती हैं और बिहार के लोगों के लिए रोजगार पैदा करती हैं, फिल्में राज्य की समृद्ध संस्कृति और परंपराओं को भी चित्रित करती हैं.

यह भी पढ़ें

नीतीश ने कहा, “नवादा में शेखोदेवरा विकसित करने के अलावा राजगीर में राज्य सरकार द्वारा पहले से ही एक अत्याधुनिक फिल्म सिटी का निर्माण किया जा रहा है. राज्य के प्राकृतिक सिनेमाई खजाने फिल्म निर्माताओं को आकर्षित करने के लिए काफी हैं. अब बिहार में फिल्म निर्माण को सुविधाजनक बनाने और निर्माताओं को पूर्ण संस्थागत समर्थन देने की पहल की जानी चाहिए.”

       

इससे पहले दिन में एक बैठक के दौरान अधिकारियों ने नीतीश को बिहार फिल्म प्रचार नीति के मसौदे की प्रमुख विशेषताओं के बारे में जानकारी दी.

Featured Video Of The Day

मुमताज पटेल ने कहा- ” पिता अहमद पटेल की याद आ रही है, लड़ाई बीजेपी और कांग्रेस के बीच”



Source link

Continue Reading

TRENDING

हरियाणा कैबिनेट ने गैरकानूनी धर्मांतरण रोकथाम नियम के मसौदे को दी मंजूरी

Published

on

By


हरियाणा विधानसभा का शीतकालीन सत्र 22 दिसंबर से शुरू होगा.

चंडीगढ़:

हरियाणा कैबिनेट ने गैरकानूनी धर्मांतरण को लेकर इस साल की शुरुआत में बने कानून के मसौदे सहित कई प्रस्तावों को गुरुवार को मंजूरी दे दी. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कैबिनेट बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह भी बताया कि हरियाणा विधानसभा का शीतकालीन सत्र 22 दिसंबर से शुरू होगा.

यह भी पढ़ें

कैबिनेट ने विधायकों को 20,000 रुपये प्रति माह चालक भत्ता देने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी और हरियाणा भूमि साझेदारी नीति-2022 पेश करने का फैसला किया.

खट्टर ने कहा कि हाल ही में हुए पंचायत चुनावों में चुने गए पंचों और सरपंचों को राज्य भर में तीन दिसंबर को होने वाली ग्राम सभा की बैठक में पहली बार ग्राम संरक्षक शपथ दिलाएंगे.

मुख्यमंत्री ने बताया कि ‘हरियाणा पंचायत संरक्षक योजना-2021’ के तहत विभिन्न विभागों में सेवारत प्रथम श्रेणी के अधिकारियों को ग्राम संरक्षक के रूप में नामित किया गया है. ये अधिकारी ग्रामीणों की समस्याओं के समाधान में मदद करेंगे और उनके द्वारा गोद लिए गए गांवों के समग्र विकास को सुनिश्चित करेंगे.

       

एक बयान के अनुसार, हरियाणा कैबिनेट ने गैरकानूनी धर्मांतरण रोकथाम नियम, 2022 के मसौदे को मंजूरी दे दी है.

Featured Video Of The Day

आफताब का नार्को टेस्ट हुआ पूरा, बताया कहां फेंके श्रद्धा के कपड़े और मोबाइल



Source link

Continue Reading