Connect with us

TRENDING

बिहार में 11 लोगों को मारी गई गोली, घटना के विरोध में BJP ने खोला मोर्चा

Published

on


Image Source : INDIA TV
BJP protest against the incident in Begusarai

Bihar News: बिहार के बेगूसराय जिले में मंगलवार की शाम बाइक पर सवार दो बदमाशों द्वारा 11 लोगों को गोली मार देने की घटना के बाद अब बिहार की सियासत गर्म हो गई है। इस बीच, भाजपा ने बुधवार को बेगूसराय बीएनडी बुलाया है। बेगूसराय के सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने राज्य में ‘जंगलराज’ बताते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। मामले में बेगूसराय एसपी ने कड़ा एक्शन लिया है। एसपी ने 7 पुलिस वालों को सस्पेंड कर दिया है। 

एक की हुई मौत

बेगूसराय के विभिन्न थाना क्षेत्रों में एक बाइक पर सवार दो लोगों द्वारा की गई गोलीबारी की घटना में 1 व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि 10 से 11 लोग घायल हो गए। बेगूसराय जाने के क्रम में पटना पहुंचे केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बुधवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा, “दुर्भाग्य है कि बिहार में सरकार नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। बिहार में जंगलराज की परिभाषा बदल दी गई, अब जनता राज बताया जा रहा।” उन्होंने कहा “मुख्यमंत्री को भय लगता है कि जिस दिन जंगलराज कहूंगा, उस दिन उपमुख्यमंत्री उन्हें सत्ता से हटा देंगे।”

‘रोपे पेड़ बबूल का तो आम कहां से होए’

उन्होंने कहा कि जब अपराधी बेखौफ हो जाते हैं तो बेगूसराय जैसी घटना घटती है। 30 किमी तक चार थाने से होते हुए अपराधी रोड से बिना रोक टोक गुजरते हैं, बेखौफ गोलियां चलाते हैं, भय नाम की चीज खत्म हो गई है। भाजपा नेता ने मुख्यमंत्री से नैतिकता के आधार पर सामने आकर अपराधियों पर नकेल कसने की अपील की। उन्होंने यह भी कहा, “महत्वाकांक्षा के लिए आपने जो कदम उठाया तो यह होना ही है, रोपे पेड़ बबूल का तो आम कहां से होए।”

भाजपा ने बुलाया बंद

इस बीच, भाजपा ने बुधवार को बेगूसराय बंद बुलाया है। बुधवार की सुबह से ही बंद का असर भी दिख रहा है। सड़क पर वाहन कम दिख रहे हैं। इधर, अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए आसपास थाना पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। कई इलाकों में वाहनों की जांच की जा रही है।

मामले में 7 पुलिसकर्मी सस्पेंड

इस मामले में 7 पुलिसकर्मी सस्पेंड किए गए। बेगूसराय एसपी ने कड़ा रुख अपनाते हुए एक्शन लिया है। एसपी ने 7 पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया है।

क्या था पूरा मामला

सीसीटीवी की तस्वीरों में कैद दो बदमाश दिख रहे हैं, इन्होंने बिहार के बेगूसराय शहर में मंगलवार की शाम साढ़े पांच बजे सनसनी फैला दी। NH-28 पर दिखे इन बदमाशों ने एक के बाद एक कई जगहों पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं। कुल 10 लोगों को इन बदमाशों ने गोली मारी, जिनमें से एक चंदन कुमार नाम के शख्स की मौत हो गई। एक के बाद एक घायल लोग बेगूसराय जिले के सिविल और निजी अस्पतालों में भेजे गए। पूरे शहर में अफरातफरी का माहौल था। इस घटना से पुलिस के भी हाथ-पैर फूल गए। फुलवरिया बछवाड़ा, तेघडा और चकिया थाना इलाकों में फायरिंग की एक के बाद एक खबर आती रही।CCTV Footege

Image Source : SCREENGRAP

CCTV Footege

बेगूसराय समेत 6 जिलों में नाकेबंदी

इस वारदात के बाद पुलिस ने पूरे शहर को सील कर दिया। एसपी से लेकर आईजी तक सड़कों पर दिख रहे। पास के जिलों को भी अलर्ट किया गया। कई जगहों पर नाकेबंदी की गई। पुलिस ने ताबड़तोड़ छापे भी मारे, लेकिन बाइक सवार इन बदमाशों तक पुलिस नहीं पहुंच पाई है। पटना, समस्तीपुर, खगडिया, नालंदा, लखीसराय जिलों में नाकेबंदी की गई है। चंदन कुमार की मौत के बाद उनके परिजनों और स्थानीय लोगों ने बरौनी थाना के पास मोती चौक पर जाम कर दिया। सूचना पर एसपी योगेंद्र कुमार खुद मौके पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को समझा-बुझाकर मामले को शांत कराया। एसपी योगेंद्र कुमार ने कहा कि दहशत फैलाने के लिए इस पूरी घटना को अंजाम दिया गया है।

फिलहाल अभी बिहार पुलिस की 3 टीमें बदमाशों की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही हैं। एसपी योगेंद्र कुमार ने कहा कि इस घटना में पिस्टल का इस्तेमाल किया गया, शुरुआती जांच में दहशत फैलाने के लिए बात सामने आ रही है, 10 लोगों को गोली लगी थी, जिसमें से एक चंदन कुमार की मौत हो गई है जबकि 9 लोगों का इलाज चल रहा है।





Source link

TRENDING

चिंताजनक: भारत से क्यों भाग रहे करोड़पति? यूएई, ऑस्ट्रेलिया, सिंगापुर को बना रहे नया ठिकाना

Published

on

By



इस साल दुनियाभर में करीब 88 हजार मिलेनियर्स ने अपना मुल्क छोड़ा है। भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा मुल्क हैं, जहां से 8000 करोड़पति देश छोड़कर जा चुके हैं। चीन से सर्वाधिक 15 हजार तो रूस से 10 हजार ।



Source link

Continue Reading

TRENDING

चीन के हालात देख अमेरिका बोला, शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना सबका अधिकार, गलत कर रहा ड्रैगन

Published

on

By



अमेरिका का यह बयान चीन में उसकी 'शून्य कोविड नीति' के खिलाफ होते प्रदर्शनों के बीच आया है। व्हाइट हाउस के राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद ने कहा, 'हम अमेरिका में शून्य कोविड नीति का पालन नहीं करते।



Source link

Continue Reading

TRENDING

बच्चे के रूप में किडनैप हुई थी अमेरिकी महिला, 51 साल बाद फिर परिवार से मिली

Published

on

By


अमेरिका के टेक्सास से एक हैरान करने वाली खबर सामने आई है. यहां 51 साल पहले बच्चे के रूप में एक एक महिला लापता हो गई थी. लेकिन अब वह फिर से अपने अपने परिवार को फिर से मिल गई है. द गार्जियन की एक रिपोर्ट के अनुसार, 23 अगस्त, 1971 को, मेलिसा हाईस्मिथ को फोर्ट वर्थ, टेक्सास से अपहरण कर लिया गया था.

उसकी मां, अल्टा अपेंटेंको ने एक समाचार पत्र में दाई को लेकर एक विज्ञापन पोस्ट किया था. उसने बिना मिले ही एक महिला को काम पर रख लिया क्योंकि किसी को उसकी बेटी को देखने की जरूरत थी, जबकि वह काम कर रही थी क्योंकि वह खुद ही छोटे बच्चे की परवरिश कर रही थी. एपेटेंको की रूममेट ने मेलिसा को दाई को दिया था, जिसने कथित तौर पर उसका अपहरण कर लिया और उसके साथ गायब हो गई.

इस साल सितंबर में, हाईस्मिथ के रिश्तेदारों को एक सूचना मिली कि वह चार्ल्सटन के पास है, जो फोर्ट वर्थ से 1,100 मील से अधिक दूर है. डीएनए परीक्षण के परिणाम, मेलिसा के जन्मचिह्न और उसके जन्मदिन सभी ने परिवार को यह साबित करने में मदद की कि मेलिसा वह बच्चा था जिसे 51 साल पहले उनसे अपहरण कर लिया गया था.

द गार्जियन द्वारा किए गए समूह के एक बयान के अनुसार, मेलिसा शनिवार को फोर्ट वर्थ में परिवार के चर्च में एक समारोह में अपनी मां, पिता और अपने चार भाई-बहनों से मिलीं. मेलिसा की बहन, शेरोन हाईस्मिथ के अनुसार, उनके परिवार ने महत्वपूर्ण डीएनए और मेलिसा को खोजने के लिए सार्वजनिक रूप से जानकारी खोजने में सहायता के लिए, एक नैदानिक ​​​​प्रयोगशाला वैज्ञानिक और शौकिया वंशावली विशेषज्ञ, लिसा जो शिएले से संपर्क किया.

शेरोन हाईस्मिथ ने कहा, “हमारा परिवार उन एजेंसियों के हाथों पीड़ित है जिन्होंने इस मामले को गलत तरीके से प्रबंधित किया है.” फिलहाल, हम सिर्फ मेलिसा को जानना चाहते हैं, उसका परिवार में स्वागत करते हैं और 50 साल के खोए हुए समय को पूरा करते हैं,” उसने द गार्जियन से बात करते हुए कहा. 

यह भी पढ़ें –

— स्कूलों में छात्राओं को मुफ्त सैनिटरी पैड देने की याचिका पर SC ने केंद्र को जारी किया नोटिस

— आंध्र सरकार को SC से बड़ी राहत, अमरावती को ही राजधानी बनाने के HC के आदेश पर लगाई रोक

यह भी पढ़ें

       

Featured Video Of The Day

FIFA World Cup: Brazil ने Switzerland को हराकर राउंड ऑफ -16 में बनाई जगह



Source link

Continue Reading