Connect with us

International

पाकिस्‍तान संग F-16 डील, बाजवा की यात्रा… जानें क्‍यों इसे भारत-रूस दोस्‍ती पर अमेरिका की चेतावनी बता रहे विशेषज्ञ

Published

on


वॉशिंगटन/इस्‍लामाबाद: साल 2008 में परमाणु डील के बाद भारत और अमेरिका के बीच संबंध नई ऊंचाइयों को छू रहे हैं। भारत न केवल अमेरिका के साथ बड़े पैमाने पर हथियार खरीद रहा है, बल्कि क्‍वॉड जैसे संगठन में कंधे से कंधा मिला मिलाकर चल रहा है। इस बीच अब अमेरिका अचानक से भारत के दुश्‍मन पाकिस्‍तान के साथ अपने रिश्‍तों को फिर से मजबूत करने में जुट गया है। अमेरिका ने पाकिस्‍तान के F-16 फाइटर जेट के लिए करोड़ों डॉलर का पैकेज दिया है, बाढ़ पीड़‍ितों के लिए बाइडन ने बड़े पैमाने पर मदद भेजी और अब पाकिस्‍तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा अमेरिका की यात्रा पर हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि यह अमेरिका की रूस के साथ दोस्‍ती बरकरार रखने वाले भारत को चेतावनी है। वे पाकिस्‍तान को भारत-रूस दोस्‍ती के खिलाफ अमेरिका का प्‍लान बी तक बता रहे हैं। आइए समझते हैं पूरा मामला…

पाकिस्‍तान और अमेरिका के संबंध ट्रंप प्रशासन के कार्यकाल में रसातल में चले गए थे। अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप ने पाकिस्‍तान को दी जाने वाले मदद को भी बंद कर दिया था। अमेरिका में जो बाइडन के राष्‍ट्रपति बनने के बाद पाकिस्‍तान के तत्‍कालीन प्रधानमंत्री इमरान खान चाहते थे कि वह उनसे फोन पर बात करें लेकिन यह संभव नहीं हुआ। इमरान खान ने यूक्रेन युद्ध शुरू होने के ठीक बाद रूस की यात्रा की जिससे अमेरिका भड़क गया था। दोनों देशों के बीच संबंध उस समय सबसे खराब दौर में चले गए थे जब इमरान खान ने आरोप लगाया कि अमेरिका ने उनकी सरकार को गिराने की साजिश रची। यही नहीं अमेरिका इस बात से भी नाराज था कि पाकिस्‍तान तालिबान को समर्थन दे रहा है और चीन के साथ रिश्‍ते मजबूत कर रहा है। इस पूरे घटनाक्रम के बाद पाकिस्‍तान में शहबाज शरीफ की सरकार आई जो अब अमेरिका के साथ अपने रिश्‍ते को मजबूत करने में जुट गई है।
मूर्ख मत बनाइए! पता है F-16 का इस्तेमाल किसके खिलाफ किया जाता है… US-पाकिस्तान की दोस्ती पर जयशंकर की ‘सर्जिकल स्ट्राइक’
बाजवा अपने रिटायरमेंट से ठीक पहले अमेरिका पहुंचे
शहबाज शरीफ ने अमेरिका यात्रा के दौरान बाइडन से मुलाकात की है। पाकिस्‍तानी विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो ने अमेरिका के विदेश मंत्री के साथ कई बैठकें की हैं। वहीं अब आर्मी चीफ बाजवा अपने रिटायरमेंट से ठीक पहले अमेरिका पहुंचे हैं। कई पश्चिमी विशेषज्ञों का कहना है कि अमेरिका अब भारत और पाकिस्‍तान के साथ रिश्‍तों में फिर से संतुलन बना रहा है। इन पश्चिमी विशेषज्ञों का कहना है कि यह बदलाव भारत के लगातार रूस का पक्ष लेने और पाकिस्‍तान के अलकायदा समेत आतंकियों के खिलाफ अमेरिकी मदद के बाद हुआ है। जीजीरो की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका अब दक्षिण एशिया में भारत और पाकिस्‍तान के बीच वही गेम फिर से दोहरा रहा है जो वह दशकों से खेल रहा है। पाकिस्‍तान अब अमेरिका के लिए ‘प्‍लान बी’ बन गया है।

शनिवार को अमेरिका की ओर से रूस के खिलाफ लाए गए प्रस्‍ताव पर भारत तटस्‍थ रहा और वोटिंग में हिस्‍सा नहीं लिया। भारत ने इससे पहले भी रूस के खिलाफ लाए गए प्रस्‍ताव पर मतदान में हिस्‍सा नहीं लिया था। भारत ने साफ कह दिय है कि वह अपने हितों को ध्‍यान में रखकर ही कोई फैसला लेगा। पीएम मोदी ने पुतिन के सामने ही उन्‍हें नसीहत दी थी कि यह युद्ध का युग नहीं है। भारतीय प्रधानमंत्री के बयान की अमेरिका ने तारीफ की थी। अब भारत के वोट नहीं देने से अमेरिका को झटका लगा है। अमेरिका के साथ बढ़ती दोस्‍ती के बाद भी भारत ने रूस के साथ रिश्‍ते को मजबूत करना जारी रखा है और एस-400 जैसे अत्‍याधुनिक हथियारों को ले रहा है। अमेरिका के रैंड कार्पोरेशन में रक्षा विश्‍लेषक डेरेक ग्रॉसमैन कहते हैं, ‘रूस ने जब से यूक्रेन में हमला किया है, पीएम मोदी और उनकी सरकार ने विदेश नीति को लेकर बहुत ही यथार्थवादी रवैया अपना रखा है।’ उन्‍होंने कहा कि भारत ने इस हमले की आलोचना की बजाय रूस से तेल खरीदा है और मूल्‍यों की बजाय बिजनस को तवज्‍जो दी है।
जयशंकर का मैराथन दौरा, 10 दिन में 50 मीटिंग… अमेरिका में दिखा विदेश मंत्री का ‘सुपर स्टैमिना’, सब हैरान
अमेरिका का ‘प्‍लान बी’ है पाकिस्‍तान ?

रिपोर्ट के मुताबिक भारत के इस रुख पर अमेरिका अब प्‍लान बी पर काम कर रहा है और पाकिस्‍तान के साथ संतुलित रक्षा संबंध बना रहा है। साल 2018 में पाकिस्‍तान के साथ सभी तरह के रक्षा संबंध रोकने के बाद अमेरिका के रक्षा मंत्रालय ने पिछले महीने अपने रुख में बड़ा बदलाव किया और पाकिस्‍तान के एफ- 16 फाइटर जेट को अपग्रेड करने के लिए एक बड़े पैकेज का ऐलान कर दिया। यह वही फाइटर जेट है जिसका इस्‍तेमाल पाकिस्‍तान ने भारतीय मिग-21 फाइटर जेट को मार गिराने के लिए किया था। भारत ने इस पैकेज का कड़ा विरोध किया। विदेश मंत्री जयशंकर ने यहां तक कह दिया कि अमेरिका मूर्ख बना रहा है। भारत के विरोध पर अमेरिका ने कहा कि वह दोनों ही देशों के साथ संबंधों को तवज्‍जो देता है और यह मदद आतंकवाद के खिलाफ है।

अब पाकिस्‍तान के सबसे शक्तिशाली इंसान आर्मी चीफ जनरल बाजवा अमेरिका के दौरे पर पहुंच गए हैं। बाजवा का अमेरिका के कई शीर्ष अधिकारियों और मंत्रियों से मिलने का कार्यक्रम है। बाजवा के इशारे पर ही अमेरिका विरोधी इमरान खान की सत्‍ता गई थी। पाकिस्‍तानी सेना अब अमेरिका की अफगानिस्‍तान में आतंकवाद को रोकने, तालिबान, अलकायदा और आईएसआईएस के पर नकेल कसने में मदद करने जा रही है। विशेषज्ञों का कहना है कि इस बदलाव के बाद भी अमेरिका के लिए भारत आगे भी काफी महत्‍वपूर्ण बना रहेगा। अमेरिका और भारत दोनों का ही शत्रु चीन है। वहीं चीन की गोद में जा चुका पाकिस्‍तान अब अमेरिका के साथ अपने रिश्‍तों को मजबूत बनाने में जुट गया है ताकि तब तक संतुलन बनाए रखा जाए जब तक कि चीन उन्‍हें कोई बढ़‍िया ऑफर न दे दे। अमेरिका की पाकिस्‍तान को सैन्‍य सहायता भारत के साथ हो रहे रक्षा गठजोड़ की तुलना में बहुत ही कम है। भारत अमेरिका का रणनीतिक साझीदार बन चुका है।
अमेरिका में बज रहा भारत का डंका, महामारी में छोटे देशों के लिए बना ‘हीरो’, न्यूयॉर्क में सबने कहा- थैंक्यू!
पाकिस्‍तान संग दोस्‍ती के बाद भी अमेरिका-भारत के रिश्‍ते रहेंगे मजबूत
दक्षिण एशिया मामलों के विशेषज्ञ माइकल कुगेलमैन कहते हैं कि भारत और अमेरिका दोनों ही एक-दूसरे के शत्रु देश के साथ अपने रिश्‍ते को एक बार फिर से मजबूत करने में जुट गए हैं। भारत पहले रूस से हथियारों की निर्भरता को घटा रहा था लेकिन अब यह बढ़ गया है। वहीं अमेरिका पाकिस्‍तान को सैन्‍य मदद देना फिर से शुरू कर चुका है। अमेरिका एक तरह से भारत और रूस के रिश्‍ते के जवाब में पाकिस्‍तान को मदद दे रहा है। उन्‍होंने कहा कि पाकिस्‍तान भले ही अमेरिका के रेडॉर में फिर से आ गया हो लेकिन भारत से रिश्‍ता कम नहीं होने जा रहा है।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

International

Rajasthan: भारत-पाक इंटरनेशनल बॉर्डर पर बीएसएस और पाक रेंजर्स के बीच गोलीबारी

Published

on

By



Rajasthan अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखा गुजरात, पंजाब और जम्मू से भी गुजरती है. बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया कि इस घटना के बारे में और जानकारी का अभी इंतजार है.



Source link

Continue Reading

International

इजराइल के पूर्व पीएम नेतन्याहू ने राष्ट्रपति से सरकार बनाने के लिए और समय मांगा

Published

on

By



इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन पूर्व नेतन्याहू।

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने राष्ट्रपति इसाक हजरेग से नई गठबंधन सरकार बनाने के लिए और समय की मांग की है। उनकी लिकुड पार्टी ने बताया कि, लिकुड पार्टी ने गठबंधन सरकार बनाने के लिए औपचारिक रूप से हजरेग को 14 दिनों का समय मांगने के लिए पत्र लिखा था। राष्ट्रपति ने अभी तक अपने फैसले की घोषणा नहीं की है। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, अगर वह अनुरोध को स्वीकार करने से इनकार करते हैं, तो नेतन्याहू का 28 दिनों का शासनादेश शनिवार और रविवार की मध्यरात्रि को समाप्त हो जाएगा।

राष्ट्रपति से और समय मांगा

नेतन्याहू ने अनुरोध में लिखा, “बातचीत तेजी से चल रही है और इसमें काफी प्रगति हुई है। उन्होंने कहा कि उन्हें नई सरकार बनाने के लिए अभी और समय चाहिए।” उन्होंने कहा कि, कुछ और समय चाहिए ताकि कुछ मंत्रियों की नियुक्ति के लिए बाकी मुद्दों को सुलझा लिया जाए। इससे पहले गुरुवार को, लिकुड पार्टी ने घोषणा की कि, उसने 120 सीटों वाली संसद में 64 सीटों का बहुमत हासिल किया है। इजराइल के सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाले नेता, नेतन्याहू के सत्ता से बाहर होने के लगभग डेढ़ साल बाद फिर से सत्ता में लौटने की उम्मीद है।

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन





Source link

Continue Reading

International

टेक ऑफ से पहले रनवे पर फटा एयर इंडिया फ्लाइट का टायर, 173 लोग थे सवार

Published

on

By


Image Source : PTI
टायर फटने से रद्द की गई एयर इंडिया की फ्लाइट(फाइल फोटो)

काठमांडू: नेपाल(Nepal) की राजधानी काठमांडू में शुक्रवार को नई दिल्ली जाने वाले विमान(Air India) के उड़ान भरने से पहले उसका टायर फट गया, जिसके चलते फ्लाइट को रद्द कर दिया गया। अधिकारी ने बताया कि विमान में कुल 173 लोग सवार थे, जिनमें 164 यात्री और नौ चालक दल के सदस्य थे। जानकारी के मुताबिक फिलहाल एयर इंडिया की इस फ्लाइट को री-शिड्यूल किया गया है। 

शाम साढ़े चार बजे की है घटना

अधिकारी ने बताया कि विमान स्थानीय टाइम के मुताबिक शाम साढ़े चार बजे काठमांडू के त्रिभुन एयरपोर्ट से नई दिल्ली के लिए रवाना होना था। तभी एआई के एक ड्यूटी ऑफिसर ने विमान संख्या एआई 216 के टायर फटने की सूचना दी। जिसके बाद विमान को पार्किंग क्षेत्र में ले जाया गया। 

फ्लाइट को री-शिड्यूल किया गया

एयर इंडिया के अधिकारी ने कहा कि टायर फटने की सूचना मिलने के बाद Airbus 320 विमान को रनवे से हटाकर पार्किंग क्षेत्र में ले जाया गया। अधिकारी ने कहा कि जरूरी मेंटिनेंस और मरम्मत का काम पूरा होने के बाद एयर इंडिया की यह उड़ान शनिवार को रवाना की जाएगी। 

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन





Source link

Continue Reading