Connect with us

TRENDING

पटना रेलवे स्टेशन के पास हुई फायरिंग, व्यापारी के सीने में लगी गोली, बीजेपी बोली- अपराध चरम पर है

Published

on


Image Source : FILE PHOTO
पटना में फायरिंग

बिहार: पटना जंक्शन से सटे करबिगहिया थोक बाजार में शुक्रवार की दोपहर एक दुकान पर दो हमलावरों ने फायरिंग कर दी, जिससे एक व्यापारी की मौत हो गई। वहां मौजूद लोगों ने दोनों शूटरों को पकड़ लिया और पिटाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया। मृतक की पहचान जक्कनपुर के किराना व्यापारी राहुल कुमार के रूप में हुई। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, वह अपनी दुकान के रास्ते में था, तभी उसे सीने में गोली लगी। पीड़ित को राजा बाजार स्थित पारस अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

एक स्थानीय व्यापारी जो एक चश्मदीद था, उन्होंने कहा, “दो बाइक सवार हमलावर एक बिस्कुट थोक व्यापारी की दुकान पर आए और गोलीबारी शुरू कर दी। राहुल कुमार इसकी चपेट में आ गया। चूंकि इलाका ज्यादा भीड़भाड़ वाला है, इसलिए हमने आरोपियों का पीछा किया और उन्हें पकड़ने में कामयाब रहे। स्थानीय व्यापारियों ने उन्हें बेरहमी से पीटा और उनकी बाइक को भी आग लगा दी। जक्कनपुर की पुलिस मौके पर पहुंची और उन्हें थाने ले गई।”

इस बाजार में छह महीने पहले फायरिंग हुई थी- व्यापारी

स्थानीय व्यापारियों ने दावा किया कि एक वैन बिस्किट एजेंसी के बाहर खड़ी थी और उसके चालक का एजेंसी के मालिक बंटी कुमार से विवाद हो गया था। व्यापारियों ने इसी विवाद में शूटरों को बुलाने का भी आरोप लगाया। एक अन्य व्यापारी ने कहा, “इस बाजार में छह महीने पहले फायरिंग हुई थी और आज फिर से हुई है। हमने बार-बार स्थानीय पुलिस से गश्त बढ़ाने का आग्रह किया है, लेकिन वे इसके प्रति गंभीर नहीं हैं। व्यापारी डरे हुए हैं और वे बिहार से पलायन के बारे में सोच रहे हैं। हमने घटना के विरोध में अपनी दुकानें बंद कर दी हैं।”

आक्रोशित व्यापारियों ने व्यस्त चिरैयाटांड़ फ्लाईओवर को भी जाम कर दिया, जिससे आस-पास की सड़कों पर भारी जाम लग गया। पटना पुलिस ने इस घटना के बाद दो लोगों को गिरफ्तार करने का दावा किया है, लेकिन उनके नाम और वास्तविक मकसद का खुलासा नहीं किया। घटना के बाद विधानसभा में विपक्ष के नेता विजय सिन्हा ने घटनास्थल का दौरा किया और नीतीश कुमार सरकार पर निशाना साधा। 

‘नीतीश कुमार ने बिहार को अपराधियों के हवाले कर दिया’

विजय सिन्हा ने कहा, “नीतीश कुमार धृतराष्ट्र बन गए हैं। उन्होंने बिहार को अपराधियों के हवाले कर दिया है और चुपचाप बैठे हैं। राज्य में अपराध के मामले चरम पर हैं और हत्याएं नियमित हैं। लोग दिन के उजाले में हत्या कर रहे हैं। मैं आज आरा से लौट रहा हूं, जहां बेखौफ अपराधियों ने एक व्यापारी की दुकान में घुसकर उसकी गोली मारकर हत्या कर दी और अब यह घटना पटना में हुई है। कानून-व्यवस्था सवालों के घेरे में है। यहां के अधिकारी खामोश और बेअसर हैं।





Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

TRENDING

Rajasthan Crisis: आ गई वो घड़ी जिसका था इंतजार? पायलट-गहलोत के लिए ये महीने कैसे सबसे अहम

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

Sachin Pilot vs Ashok Gehlot: राजस्थान संकट के हल का इंतजार कर रहे कांग्रेस के लाखों कार्यकर्ताओं के लिए आखिर वह घड़ी नजदीक आ ही गई है, जिसका बेसब्री से बहुत लंबे समय से इंतजार किया जा रहा था। सूत्रों की मानें तो कांग्रेस आलाकमान इसी महीने अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच के विवाद का हल निकाल सकता है। मालूम हो कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में चल रही ‘भारत जोड़ो यात्रा’ राजस्थान में चार दिसंबर की शाम को प्रवेश करने वाली है। यह यात्रा प्रदेश में लगभग 15 दिनों तक चलेगी और इस दौरान 520 किलोमीटर लंबा सफर तय होगा। वहीं, गुजरात विधानसभा चुनाव के नतीजों का भी ऐलान आठ दिसंबर को होने जा रहा है।

कांग्रेस आलाकमान ने बना लिया है ‘मूड’

राजस्थान में सचिन पायलट लंबे समय से नेतृत्व परिवर्तन की राह देख रहे हैं। उनके समर्थक अशोक गहलोत की जगह सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने की मांग कर रहे हैं। सूत्रों की मानें तो कांग्रेस आलाकमान ने भी राजस्थान में नेतृत्व परिवर्तन का मन बना लिया है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे भारत जोड़ो यात्रा और गुजरात चुनाव के चलते इस पर फैसला नहीं ले रहे थे। माना जा रहा है कि गुजरात चुनाव के नतीजों के आने के बाद और राजस्थान में यात्रा के अंतिम दिनों के दौरान ही इस पर फैसला लिया जा सकता है और मुख्यमंत्री में बदलाव किया जा सकता है। सूत्रों की मानें तो राजस्थान में करवाया गया कांग्रेस का आंतरिक सर्वे भी अशोक गहलोत की बजाए सचिन पायलट के पक्ष में गया था, जिसके चलते कांग्रेस आलाकमान ने वहां एक नया चेहरा देना तय किया है। 

अब तक राजस्थान संकट हल करने से क्यों बचती रही कांग्रेस?

कांग्रेस आलाकमान ने 25 सितंबर को राजस्थान में मल्लिकार्जुन खड़गे और अजय माकन को भेजकर एक लाइन का प्रस्ताव पारित करवाने के लिए कहा था। लेकिन अशोक गहलोत के करीबी विधायकों की बगावत के बाद ऐसा संभव नहीं हो सका था। इसके बाद से ही माना जा रहा था कि देर-सबेर गहलोत को बदलकर सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बना दिया जाएगा। हालांकि, तब से अब तक दो महीने से अधिक का समय बीत चुका है, लेकिन फैसला नहीं हुआ। सूत्रों की मानें तो अशोक गहलोत के गुजरात चुनाव के सीनियर ऑब्जरवर बनाए जाने की वजह से और ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के राजस्थान से गुजरने की वजह से इस पर अब तक कोई भी फैसला नहीं लिया जा सका था। अब इसी महीने इस पर फैसला लिया जा सकता है।

पोस्टरों में पायलट-ही-पायलट

राजस्थान में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा की एंट्री झालावाड़ से होगी। अभी से ही तैयारियां शुरू हो गई हैं। सचिन पायलट के चेहरे को झालावाड़ में काफी अहमियत दी जा रही है। झालावाड़ में लगाए गए बैनर और पोस्टरों में सिर्फ पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ही दिखाई दे रहे हैं। सड़क के दोनों ओर पोस्टरों पर राहुल गांधी और सचिन पायलट की बड़ी-बड़ी तस्वीरें देखी जा सकती हैं। हालांकि, अशोक गहलोत को पूरी तरह से नजरअंदाज नहीं किया गया है। कुछ-कुछ पोस्टरों में गहलोत और गोविंद सिंह डोटासरा की भी तस्वीर लगाई गई है। मालूम हो कि झालावाड़ को बीजेपी नेता और पूर्व सीएम वसुंधरा राजे का गढ़ माना जाता है। यहां पर बड़ी संख्या में गुर्जर आबादी है। जब पायलट कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष थे, तब उन्होंने विधानसभा चुनाव से पहले 100 किलोमीटर की पैदल यात्रा भी की थी और माना जाता है कि इसने प्रदेश में कांग्रेस के पक्ष में माहौल बनाने में काफी मदद भी की। 



Source link

Continue Reading

TRENDING

IPL 2023 Auction : इस टीम के पर्स में सबसे ज्यादा रकम, जानिए किसके पास है सबसे कम

Published

on

By


Image Source : TWITTER
IPL 2023 Update News

IPL 2023 Mini Auction :  आईपीएल 2023 के ऑक्शन के लिए टीमें अब तेजी के साथ तैयारी में जुटने जा रही हैं। बीसीसीआई ने उन खिलाड़ियों की लिस्ट जारी कर दी है, जो इस बार के मिनी ऑक्शन में शामिल होंगे। फिलहाल जो सूची सामने आई है, उसमें 991 खिलाड़ी हैं। इस बीच अब टीमें अपना हिसाब किताब भी लगाने में जुट गई हैं। टीमों की ओर से रिलीज और रिटेन लिस्ट 15 नवंबर को ही जारी कर दी गई थी। इसके बाद साफ हो गया था कि इस टीम के पास पर्स में कितना पैसा बाकी हैं। जिस टीम के पास सबसे ज्यादा पैसा होगा, उसे खरीदारी भी सबसे ज्यादा करनी होगी। साथ ही ये भी ध्यान रखना होगा कि जिसके पास पर्स में रकम ज्यादा होगी, वो टीम अपने पसंदीदा खिलाड़ी को किसी भी कीमत पर जाकर खरीद सकती है। चलिए आपको बताते हैं कि किस टीम के पास सबसे ज्यादा रकम है और किस टीम के पास सबसे कम। इसके बाद हम आपको ये भी बताएंगे कि किस टीम में इस वक्त कौन कौन से खिलाड़ी हैं, यानी टीमों की रिटेन लिस्ट क्या है। 

 

Rajasthan Royals

Image Source : IPLT20.COM

Rajasthan Royals

सनराइजर्स हैदराबाद के पर्स में इस वक्त सबसे ज्यादा रकम 

आईपीएल की एक बार की चैंपियन टीम एसआरएच यानी सनराइजर्स हैदराबाद के पास पर्स में इस वक्त सबसे ज्यादा 42.25 करोड़ की रकम बची हुई है। हालांकि इस टीम को खरीदारी भी बहुत करनी होगी। क्योंकि टीम ने अपने बड़े बड़े खिलाड़ी रिलीज कर दिए हैं। टीम के कप्तान केन विलियमसन भी रिलीज हो गए हैं। इसलिए टीम को ये भी सोचना होगा कि रिटेन खिलाड़ियों में से ही कोई खिलाड़ी कप्तान बनेगा या फिर मिनी ऑक्शन से किसी खिलाड़ी लाकर कप्तान बनाया जाएगा। इसके बाद दूसरे नंबर पर पंजाब किंग्स की टीम है। पंजाब की टीम के पास इस वक्त 32.2 करोड़ रुपये बाकी हैं। टीम ने अपना कप्तान पहले ही मयंक अग्रवाल को रिलीज कर शिखर धवन को बना दिया है। इसके बाद बात अगर एलएसजी की करें तो इस टीम के पास भी 23.35 करोड़ रुपये बाकी हैं। चेन्नई सुपरकिंग्स क पास 20.45 करोड़ रुपये की रकम है और डीसी यानी दिल्ली कैपिटल्स के पास 19.45 करोड़ रुपये अभी पर्स में बचे हुए हैं। केकेआर के पास सबसे कम केवल 7.05 करोड़ रुपये हैं। टीम ने ट्रेड विंडो के तहत कुछ खिलाड़ी खरीदे हैं। इसलिए अगर आप केकेआर के फैंन हैं तो मिनी ऑक्शन के दिन आप देखेंगे कि इसी टीम का हाथ खिलाड़ियों को खरीदने के लिए सबसे कम उठेगा। मुंबई इंडियंस के पास 20.55 करोड़ रुपये की रकम बाकी है। आरसीबी के भी पास इस वक्त केवल 8.75 करोड़ रुपये बचे हुए हैं। राजस्थान रॉयल्स के पास 13.2 करोड़ रुपये हैं। हालांकि इस बीच आपको ये भी बता दें कि बीसीसीआई की प्लानिंग हैं कि इस बार सभी टीमों के पर्स में करीब पांच करोड़ रुपये की रकम और बढ़ा दी जाएगी। अगर ऐसा हुआ तो पहले जो रकम आपने अभी पढ़ी है, उसमें सभी में पांच पांच करोड़ रुपये एड कर दीजिएगा। 

Umran Malik

Image Source : IPLT20.COM

Umran Malik

दिल्ली कैपिटल्स की मौजूदा टीम:  ऋषभ पंत, डेविड वॉर्नर, पृथ्वी शॉ, रिपल पटेल, रोवमैन पॉवेल, सरफराज खान, यश ढुल, मिचेल मार्श, ललित यादव, अक्षर पटेल, एनरिक नोर्खिया, चेतन सकारिया, कमलेश नागरकोटी, खलील अहमद, लुंगी एनगिडी, मुस्तफिजुर रहमान, अमन खान, कुलदीप यादव, प्रवीण दुबे, विक्की ओस्तवाल
ट्रेडेड, अमन खान
पर्स शेष: 19.45 करोड़

राजस्थान रॉयल्स की मौजूदा टीम: संजू सैमसन, यशस्वी जायसवाल, शिमरोन हेटमायर,  देवदत्त पडिक्कल, जोस बटलर, ध्रुव जुरेल, रियान पराग, प्रसिद्ध कृष्णा, ट्रेंट बोल्ट, ओबेड मैककॉय, नवदीप सैनी, कुलदीप सेन, कुलदीप यादव, आर अश्विन, युजवेंद्र चहल, केसी करियप्पा
पर्स शेष: 13.2 करोड़

आरसीबी की मौजूदा टीम: फाफ डु प्लेसिस, विराट कोहली, सुयश प्रभुदेसाई, रजत पाटीदार, दिनेश कार्तिक, अनुज रावत, फिन एलेन, ग्लेन मैक्सवेल, वानिंदु हसरंगा, शाहबाज अहमद, हर्षल पटेल, डेविड विली, कर्ण शर्मा, महिपाल लोमरोर, मोहम्मद सिराज, जोश हेजलवुड, सिद्धार्थ कौल, आकाश दीप
पर्स शेष: 8.75 करोड़

एलएसजी की मौजूदा टीम: केएल राहुल, आयुष बदोनी, करण शर्मा, मनन वोहरा, क्विंटन डी कॉक, मार्कस स्टोइनिस, कृष्णप्पा गौतम, दीपक हुड्डा, काइल मेयर्स, क्रुणाल पंड्या, आवेश खान, मोहसिन खान, मार्क वुड, मयंक यादव, रवि बिश्नोई
पर्स शेष: 23.35 करोड़

जीटी की मौजूदा टीम: हार्दिक पांड्या, शुभमन गिल, डेविड मिलर, अभिनव मनोहर, साईं सुदर्शन, रिद्धिमान साहा, मैथ्यू वेड, राशिद खान, राहुल तेवतिया, विजय शंकर, मोहम्मद शमी, अल्जारी जोसेफ, यश दयाल, प्रदीप सांगवान, दर्शन नालकंडे, जयंत यादव, आर साई किशोर, नूर अहमद
पर्स शेष: 19.25

केकेआर की मौजूदा टीम: श्रेयस अय्यर, नितीश राणा, रहमानुल्लाह गुरबाज, वेंकटेश अय्यर, आंद्रे रसेल, सुनील नरेन, शार्दुल ठाकुर, लॉकी फर्ग्यूसन, उमेश यादव, टिम साउदी, हर्षित राणा, वरुण चक्रवर्ती, अनुकुल रॉय, रिंकू सिंह, शार्दुल ठाकुर, रहमानुल्लाह गुरबाज, लॉकी फर्ग्यूसन
पर्स शेष: 7.05 करोड़

पंजाब किंग्स की मौजूदा टीम: शिखर धवन, शाहरुख खान, जॉनी बेयरस्टो, प्रभसिमरन सिंह, भानुका राजपक्षे, जितेश शर्मा, राज बावा, ऋषि धवन, लियाम लिविंगस्टोन, अथर्व तायडे, अर्शदीप सिंह, बलतेज सिंह, नाथन एलिस, कगिसो रबाडा, राहुल चाहर, हरप्रीत बराड़
पर्स शेष: 32.2 करोड़

सीएसके की मौजूदा टीम: एमएस धोनी, डेवन कॉनवे, रुतुराज गायकवाड़, अंबाती रायडू, सुभ्रांशु सेनापति, मोईन अली, शिवम दूबे, राजवर्धन हैंगरगेकर, ड्वेन प्रिटोरियस, मिचेल सेंटनर, रवींद्र जडेजा, तुषार देशपांडे, मुकेश चौधरी, मथीशा पथिराना, सिमरजीत सिंह, दीपक चाहर, प्रशांत सोलंकी, महेश तीक्षणा
पर्स शेष: 20.45

सनराइजर्स हैदराबाद की मौजूदा टीम: अब्दुल समद, एडेन मार्करम, राहुल त्रिपाठी, ग्लेन फिलिप्स, अभिषेक शर्मा, मार्को जानसन, वाशिंगटन सुंदर, फजलहक फारूकी, कार्तिक त्यागी, भुवनेश्वर कुमार, टी नटराजन, उमरान मलिक
पर्स शेष: 42.25 करोड़

मुंबई इंडियंस की मौजूदा टीम: रोहित शर्मा, टिम डेविड, रमनदीप सिंह, तिलक वर्मा, सूर्यकुमार यादव, इशान किशन, ट्रिस्टन स्टब्स, डेवाल्ड ब्रेविस, जोफ्रा आर्चर, जसप्रीत बुमराह, अर्जुन तेंदुलकर, अरशद खान, कुमार कार्तिकेय, ऋतिक शौकीन, जेसन बेहरेनडोर्फ, आकाश मधवाल
पर्स शेष: 20.55 करोड़

Latest Cricket News





Source link

Continue Reading

TRENDING

“हिंदु 40 से पहले शादी नहीं करते, उससे पहले 2-3 बीवियां रखते हैं, बच्चा कहां से होगा, उन्हें मुस्लिमों से सीखना चाहिए”

Published

on

By


Image Source : ANI
AIUDF के अध्यक्ष मौलाना बदरुद्दीन अजमल

AIUDF के अध्यक्ष मौलाना बदरुद्दीन अजमल ने जनसंख्या वृद्धि पर हिंदुओं को लेकर विवादित टिप्पणी की है। मौलाना ने हिंदुओं पर शादी से पहले गैरतरीके से 2-3 बीवियां रखने का आरोप लगाया है। साथ ही साथ उन्होंने यह भी कहा कि हिंदुओं में शादी 40 के बाद होती है तो ऐसी स्थिति में उनका बच्चा कहां से पैदा होगा। ऐसे में उन्हें हम मुस्लमानों से सीखना चाहिए। 

“हिंदु शादी से पहले 2-3 बीवियां रखते हैं”

मौलाना बदरुद्दीन अजमल से जनसंख्या वृद्धि पर जब सावल किया गया तो उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण के बजाय बढ़ाने की सलाह दे डाली। उन्होंने कहा, ” मुसलमानों में लड़कियों की शादी 18 साल पर करने की इजाजत सरकार ने दी है जो कि कर दी जाती है। लेकिन हिंदुओं में लोग 40-40 साल तक शादी नहीं करते और शादी से पहले 2-3 गैरकानूनी तरीके से बीवियां रखते हैं और बच्चे होने नहीं देते हैं। सिर्फ इसलिए ताकि खर्चा बच सके। शादी से पहले खूब मजा उड़ाते हैं। उसके बाद जब 40 के होते हैं तो मां-बाप ने मजबूर किया या कहीं फंस गए तो शादी कर ली। फिर 40 साल के बाद बच्चा पैदा करने की ताकत कहां रहती है। 

“हिंदुओं को भी मुसलमानों का फॉर्मूला अपनाना चाहिए”

इसके बाद मौलाना ने कहा “जब ये स्थिति रहेगी तो आप कैसे उम्मीद करते हैं कि हिंदुओं के यहां जनसंख्या बढ़ेगी। जो लोग समय से उर्वरक जमीन पर मिट्टी और दवा डालेंगे तो वहां से तो धान ही धान उगेगा। खेती अच्छी होगी, लहो-लहान होगी, तरक्की ही तरक्की होगी। इसके बाद मौलाना ने हिंदुओं को सलाह दिया कि उन्हें भी अपनाना चाहिए मुसलमानों के इस फॉर्मूले को। अपने लड़कों की 20-22 के उम्र में शादी कराओ, लड़कियों की 18-20 की उम्र में शादी कराओ फिर देखो आपके यहां भी कितने बच्चे पैदा होते हैं लेकिन 2 नंबर का धंधा मत करो।  

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





Source link

Continue Reading