Connect with us

TRENDING

दो पिस्टल के साथ सोते हैं एलन मस्क, ट्वीट में खोले पर्सनल लाइफ के कई राज

Published

on

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

TRENDING

Vande Bharat के बाद रेलवे चलाएगी वंदे मेट्रो ट्रेन, रेलमंत्री ने बताया कब से होगी शुरुआत?

Published

on

By



नई दिल्ली:

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को 2023-24 का बजट (Union Budget 2023) पेश कर दिया है. बजट में रेलवे के लिए 2.40 लाख करोड़ रुपये अलॉट किया गया है. बजट पेश किए जाने के बाद रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भी बड़े ऐलान किए हैं. उन्होंने कहा कि वंदे भारत ट्रेन ( Vande Bharat Train) की सफलता के बाद अब रेलवे 2024-25 तक वंदे मेट्रो ट्रेन ( Vande Metro Train) की शुरुआत करने जा रही है. 

यह भी पढ़ें

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ( Rail Minister Ashwini Vaishnaw) ने कहा कि शहरों में 50-60km की दूरी तय करने को लेकर वंदे मेट्रो कॉन्सेप्ट लेकर आ रहे हैं. इस साल प्रोडक्शन और डिजाइन का काम हो जायेगा. अगले साल से इसे शुरू करने की योजना है. रेल मंत्री ने बताया कि वंदे मेट्रो 125 से 130km की रफ्तार के साथ दौड़ेगी. इसका डिजाइन मुंबई सब-अर्बन की तर्ज पर होगा. हालांकि, वंदे मेट्रो में टॉयलेट की व्यवस्था नहीं होगी. 

वंदे मेट्रो ट्रेन की और क्या होगी खासियत?

वंदे मेट्रो ट्रेन 1950 और 1960 में डिजाइन किए गए कई ट्रेनों को रिप्लेस करेगा. इसकी डिजाइन से पर्दा अभी नहीं हटा है, लेकिन माना जा रहा है कि इसमें सुविधाएं कमोबेश वैसी ही होगी, जैसी वंदे भारत ट्रेनों में है. इंजन पूरी तरह से हाइड्रोजन बेस्ड होगी. जिसके कारण प्रदूषण जीरो होगा. वंदे भारत ट्रेन की तरह इस ट्रेन में भी आधुनिक ब्रेक सिस्टम, रेड सिग्नल ब्रेक करने से रोकने के लिए कवच सेफ्टी सिस्टम, ऑटोमेटिक डोर, फायर सेंसर, जीपीएस, एलईडी स्क्रीन उपलब्ध होगी, जो यात्रियों को अगले स्टेशन के बारे में पूर्व सूचित करेगा. इस ट्रेन का किराया बेहद कम होगा, ताकि गरीब और मध्यम वर्ग के लोग भी सफर कर सकें.

टिकट में No waiting कब तक हो जाएगी खत्म?

ट्रेन की टिकट में नो वेटिंग कब तक खत्म हो जाएगी? इस सवाल के जवाब में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा, 10 साल पहले हर दिन 4km नए ट्रैक बनते थे. आज 12km हर दिन नए ट्रैक बिछा रहे हैं. अगले साल इसे 16km तक लेकर जाएंगे. कई दशकों की कमियों को 8 साल में पूरा करने की कोशिश की है. इंफ्रास्ट्रक्चर की जरूरत को पूरा करने से ही डिमांड और सप्लाई की खाई घटेगी. इसके बाद ही नो वेटिंग को लेकर कुछ कहा जा सकता है.

2023-24 में मुशाफिरों से रेलवे को 70 हजार करोड़ की कमाई का अनुमान

बजट में रेलवे ने अपने आय और व्यय का ब्यौरा भी उपलब्ध कराया है. इसने 2023-24 बजट में यात्रियों से 70 हजार करोड़ रुपये की कमाई का अनुमान लगाया है, जो पिछले बजट सत्र में 64 हजार करोड़ था. वहीं, माल धुलाई से इस साल 1.79 लाख करोड़ रुपये की कमाई होने का अनुमान है, जो पिछले बजट सत्र में 1.65 लाख करोड़ था.

ये भी पढ़ें:-

Budget 2023: देश में दिसंबर 2023 तक चलेगी हाइड्रोजन ट्रेन, रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने किए ये बड़े ऐलान

निर्मला सीतारमण ने Budget 2023 में मिडिल क्लास का रखा खास ख्याल, यहां पढ़ें वित्त मंत्री का पूरा बजट भाषण

 



Source link

Continue Reading

TRENDING

बजट 2023 के बाद आयकर व्‍यवस्‍था में बदल जाएंगी ये 5 चीजें

Published

on

By


नई दिल्‍ली :
अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव पहले अपने अंतिम पूर्ण बजट में केंद्र सरकार ने कई अहम ऐलान किए. बजट में मध्‍य वर्ग को खुश करने की पूरी कोशिश की गई है.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. अब 7 लाख रुपये तक की आय कर मुक्‍त होगी, पहले यह राशि पांच लाख रुपये थे. महंगाई की मार झेल रहे मध्‍य वर्ग के लिए इस ऐलान को बड़ी राहत माना जा रहा है. 

  2. दो साल पहले, सरकार ने एक नई व्यक्तिगत कर व्यवस्था पेश की थी और करदाताओं को पुरानी और नई व्यवस्था में से चयन का विकल्‍प दिया था. वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज घोषणा की कि इस वर्ष पेश की गई नई व्‍यवस्‍था अब डिफॉल्‍ट हो जाएगी.  उन्होंने कहा कि करदाता अभी भी पुरानी कर व्‍यवस्‍था के लिए अनुरोध कर सकेंगे, जो छूट की अनुमति देता है जबकि नई व्यवस्था में छूट की कोई गुंजाइश नहीं है, हालांकि इसकी कर-मुक्त सीमा 7 लाख रुपये है

  3. वित्‍त मंत्री ने टैक्स स्लैब की संख्या छह से घटाकर पांच कर दी है, इसके साथ ही टैक्स छूट की सीमा भी 2.5 लाख रुपये से बढ़ाकर 3 लाख रुपये कर दी है.

  4. व्यक्तिगत आयकर में कर की उच्‍चतम दर, जो वर्तमान में 42.74 प्रतिशत है, को अब घटाकर 39 प्रतिशत कर दिया गया है. वित्‍त मंत्रीने आज अपने बजट भाषण में कहा, “15.5 लाख रुपये या उससे अधिक की आय वाले वेतनभोगी व्यक्ति को 52,500 रुपये का लाभ होगा.”

  5. उन्‍होंने नई कर व्यवस्था में उच्चतम सरचार्ज  को 37 प्रतिशत से घटाकर 25 प्रतिशत करने का भी प्रस्ताव रखा है.

Featured Video Of The Day

PM के आर्थिक सलाहकार समिति के सदस्य नीलकंठ मिश्रा ने कहा- “सरकार ने आर्थिक स्थिरता पर फोकस किया है”



Source link

Continue Reading

TRENDING

अडानी ग्रुप ने पूरी तरह सबस्क्राइब FPO वापस लिया, निवेशकों के पैसे लौटाएगा

Published

on

By


अडानी ग्रुप में अपना एफपीओ वापस लिया, निवेशकों के पैसे लौटाएगा

नई दिल्‍ली :

अडानी इंटरप्राइजेज लिमिटेड ने फुली सबस्‍क्राइब होने के एक दिन बाद 20 हजार करोड़ रुपये का FPO (follow on public offer) वापस ले लिया है. कंपनी ने एक बयान में यह जानकारी दी. कंपनी ने बयान में कहा, “बाजार में उतार-चढ़ाव को ध्‍यान में रखते हुए उसने फॉलोआन पब्लिक ऑफर (FPO)वापस ले लिया है और वह निवेशकों के पैसे वापस लौटाएगी.”

यह भी पढ़ें

अडानी इंटरप्राइजेज के चेयरमैन गौतम अडानी ने बयान में कहा, , “आज मार्केट अप्रत्‍याशित रहा है और हमारी स्‍टॉक प्राइज दिनभर ऊपर-नीचे होती रही. इन असाधारण परिस्थितियों में कंपनी के बोर्ड ने महसूस किया कि आगे बढ़ना नैतिक रूप से सही नहीं होगा. निवेशकों का हित सर्वोपरि है इसलिए उनको किसी भी संभावित नुकसान से बचाने के लिए बोर्ड ने एफपीओ के साथ आगे नहीं बढ़ने का फैसला लिया है.” 

कंपनी ने कहा कि इस फैसले से उसकी आगे की योजनाएं प्रभावित नहीं होंगी. कंपनी ने कहा कि हमारी बैलेंस शीट बहुत अच्छी स्थिति में है और क़र्ज़ चुकाने के मामले में हमारा ट्रैक रिकॉर्ड बेदाग रहा है.

गौतम अडानी ने एफपीओ के प्रति समर्थन जताने के लिए निवेशकों को धन्‍यवाद दिया है क्‍योंकि सबस्क्रिप्‍शन मंगलवार को सफलतापूर्ण बंद हो गया था. उन्‍होंने कहा, “पिछले एक सप्‍ताह से स्‍टॉक में उतार-चढ़ाव के बावजूद आपका कंपनी के प्रति विश्‍वास आश्‍वस्‍त करने वाला है.”

Disclaimer: New Delhi Television is a subsidiary of AMG Media Networks Limited, an Adani Group Company.

Featured Video Of The Day

न्यू टैक्स रिजीम को लेकर क्यों कहा गया कि यह डिफॉल्ट है?



Source link

Continue Reading