Connect with us

International

चीन ने दिखाई दादागिरी इसलिए अचानक ‘क्वाड’ में शामिल हुआ भारत, पूर्व अमेरिकी विदेश मंत्री का दावा

Published

on


वॉशिंगटन: अमेरिका के पूर्व विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने दावा किया है कि विदेश नीति को लेकर स्वतंत्र रुख अपनाने वाले भारत को चीन के आक्रामक कदमों के कारण अपनी रणनीतिक स्थिति में बदलाव करना पड़ा और वह चार देशों के समूह ‘क्वाड’ में शामिल हुआ। भारत और चीन के बीच 31 महीने से पूर्वी लद्दाख में सीमा पर गतिरोध जारी है। पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में जून, 2020 में घातक झड़प के बाद दोनों देशों के संबंधों में तनाव पैदा हो गया है। भारत का कहना है कि जब तक सीमावर्ती क्षेत्र में शांति स्थापित नहीं हो जाती, द्विपक्षीय संबंध सामान्य नहीं हो सकते।

पोम्पिओ ने मंगलवार से बाजार में उपलब्ध हुई अपनी पुस्तक ‘नेवर गिव एन इंच: फाइटिंग फॉर अमेरिका आई लव’ में भारत को क्वाड में ‘वाइल्ड कार्ड’ (अचानक प्रवेश करने वाला) बताया, क्योंकि वह समाजवाद की विचारधारा पर स्थापित राष्ट्र है और उसने शीत युद्ध में न तो अमेरिका और नहीं तत्कालीन यूएसएसआर का साथ दिया था। पोम्पिओ ने अपनी पुस्तक में लिखा, ‘इस देश (भारत) ने किसी भी वास्तविक गठबंधन प्रणाली के बिना अपना रास्ता खुद बनाया है और मोटे तौर पर अब भी ऐसा ही है, लेकिन चीन के कदमों के कारण भारत ने पिछले कुछ साल में अपना रणनीतिक रुख बदला है।’

चीन के आक्रामक व्यवहार से निपटने के लिए बना है क्वाड

पोम्पिओ (59) ने बताया कि अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन किस प्रकार क्वाड समूह में भारत को शामिल करने में सफल रहा। अमेरिका, जापान, भारत और ऑस्ट्रेलिया ने संसाधनों से संपन्न हिंद प्रशांत क्षेत्र में चीन के आक्रामक व्यवहार से निपटने के लिए क्वाड का गठन किया था। पोम्पिओ ने लिखा, ‘चीन ने अपने बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के जरिए भारत के कट्टर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के साथ निकट साझेदारी की।’

उन्होने कहा, ‘चीनी बलों ने जून 2020 में सीमा पर झड़पों में 20 भारतीय जवानों की हत्या कर दी। उस घटना के कारण भारतीय जनता ने चीन के साथ अपने देश के संबंधों में बदलाव की मांग की।’ पोम्पिओ ने कहा, ‘भारत ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए टिकटॉक और दर्जनों चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया। इस बीच, एक चीनी वायरस लाखों भारतीय नागरिकों की जान ले रहा था। मुझसे कभी-कभी पूछा जाता था कि भारत चीन से दूर क्यों चला गया और मैं सीधे वही उत्तर देता हूं, जो मैंने भारतीय नेतृत्व से सुना: क्या आप ऐसा नहीं करते? समय बदल रहा है और हमारे लिए कुछ नया करने की कोशिश करने और अमेरिका एवं भारत को पहले से कहीं अधिक करीब लाने का अवसर पैदा कर रहा है।’

शिंजो आबे असाधारण साहस दिखाने वाले नेता

पोम्पिओ ने अपनी किताब में जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को असाधारण साहस और दूरदृष्टि वाले वैश्विक नेता के रूप में वर्णित किया है। उन्होंने साहस दिखाने और चीनी आक्रामकता के खिलाफ खड़े होने के लिए ऑस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन की भी प्रशंसा की है। इससे पहले पोम्पियो ने भारत और पाकिस्‍तान के बीच परमाणु युद्ध को लेकर बड़ा दावा किया था।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

International

ईरान में जबरदस्त भूकंप, अब तक 7 की गई जान, करीब 450 घायल

Published

on

By


Image Source : AP
ईरान में भूकंप से आई तबाही

Iran Earthquake: ईरान में जबरदस्त भूकंप आया है। ईरान की मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिमोत्तर ईरान के खोय शहर में आए 5.9 तीव्रता के भूकंप में अब तक सात लोगों की मौत की खबर है और 440 लोग घायल बताए जा रहे हैं। शनिवार की रात उत्तर पश्चिम ईरान के पश्चिम अजरबैजान प्रांत के खोय शहर में भूकंप के झटके आए। ये इलाका तुर्की-ईरान सीमा के पास उत्तर पश्चिमी ईरान में पड़ता है। स्थानीय समयानुसार भूकंप शनिवार को रात 9:44 बजे आया। ईरानी सीस्मोलॉजिकल सेंटर ने बताया कि भूकंप का केंद्र जमीन से 7 किमी की गहराई पर था। 

यह खबर अपडेट हो रही है…

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन





Source link

Continue Reading

International

LIVE: ईरान में भूकंप से मची तबाही, अब तक 7 लोगों की मौत, 440 घायल, राहत बचाव कार्य शुरू

Published

on

By


ईरान: उत्तर पश्चिमी ईरान के पश्चिम अजरबैजान प्रांत के खोय शहर में शनिवार रात भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5.9 मापी गई। जानकारी के अनुसार ईरान के शहर इस्फहान के सैन्य संयंत्र में तेज धमाके की आवाज भी सुनाई दी है। ईरान मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, भूकंप में अब तक 7 लोगों की मौत हो गई और करीब 440 लोग घायल हैं। राहत और बचाव कार्य शुरू हो गया है। घायलों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। भूकंप प्रभावित इलाके के आसपास क्षेत्रों में भी लोग दहशत में हैं।

खोय शहर में काफी तेज भूकंप के झटके महसूस किए हैं। भूकंप से काफी नुकसान होने की सूचना मिल रही है। ईरानी मीडिया के अनुसार, मौत का आकंड़ा अभी और बढ़ने की संभावना है भूकंप के तेज झटकों की वजह से खोय शहर में कई इमारतें गिर गई हैं। मलबे में कई लोगों के दबे होने की संभावना है। राहत और बचाव कार्य तेजी से चल रहा है।



Source link

Continue Reading

International

अमेरिका के कैलिफोर्निया में फिर हुई गोलीबारी, मौके पर ही मारे गए तीन लोग, चार अन्य घायल

Published

on

By


बेवर्ली क्रेस्ट: अमेरिका के कैलिफोर्निया राज्य में शनिवार की सुबह गोलीबारी की हुई नवीनतम घटना में कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई और चार अन्य घायल हुए हैं। पुलिस ने यह जानकारी दी। लॉस एंजिलिस पुलिस विभाग के सार्जेंट फ्रैंक प्रेसियाडो ने लॉस एंजिलिस के नजदीक बेवर्ली क्रेस्ट में देर रात दो बजकर करीब 30 मिनट पर गोलीबारी होने की पुष्टि की।

एक ही गाड़ी में सवार थे मारे गए तीनों लोग
उन्होंने बताया कि जिन सात लोगों को गोली मारी गई उनमें चार बाहर थे जबकि मारे गए तीन लोग वाहन में सवार थे। प्रेसियाडो ने कहा कि उनके पास गोलीबारी की वजह की जानकारी नहीं है और यह भी नहीं पता कि घटना आवास में हुई या बाहर। गौरतलब है कि कैलिफोर्निया में इस महीने यह गोलीबारी की चौथी घटना है।

एक हफ्ते पहले भी कैलिफोर्निया में हुई थी गोलीबारी
गोलीबारी की यह घटना लॉस एंजिलिस के उपनगर स्थित डांस हॉल में गोलीबारी की घटना के एक सप्ताह बाद हुई है जिसमें 11 लोग मारे गए थे और नौ अन्य घायल हुए थे। गत सोमवार को भी बंदूकधारी ने सैन फ्रांसिस्को के दो मशरूम फार्म में गोलीबारी कर सात लोगों को मौत के घाट उतार दिया था और एक को घायल कर दिया था। गोलीबारी की इन घटनाओं से राज्य को झटका लगा है जहां पर सबसे सख्त बंदूक कानून लागू है और गोलीबारी की घटनाओं में मौत की दर सबसे कम है।



Source link

Continue Reading