Connect with us

TRENDING

गहलोत आउट, दिग्विजय इन, अब खड़गे की भी एंट्री; कांग्रेस अध्यक्ष के लिए रोचक हुई लड़ाई

Published

on


Congress President Election: कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव की लड़ाई तेज होते ही गुरुवार की रात पृथ्वीराज चव्हाण, मनीष तिवारी, भूपेंद्र हुड्डा समेत जी-23 के कुछ नेताओं ने कांग्रेस के दिग्गज नेता आनंद शर्मा के आवास पर बैठक की। सूत्रों के मुताबिक इन नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव से पहले उभर रहे पूरी स्थिति पर चर्चा की। वहीं, आज सुबह खबर आई कि गांधी परिवार के वफादार और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे भी नामांकन दाखिल कर सकते हैं। अगर ऐसा होता है तो दिग्विजय सिंह और शशि थरूर के साथ इस चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिल सकता है।

कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव से जुड़े बड़े अपडेट्स:

-जी-23 नेताओं के साथ बैठक के बाद आनंद शर्मा ने जोधपुर में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से भी मुलाकात की। गुरुवार को अशोक गहलोत ने सोनिया गांधी से भी मुलाकात की और राजस्थान में गहराए सियासी संकट के माफी मांगी थी। इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस प्रमुख चुनाव नहीं लड़ने की भी घोषणा की थी।

-एक रिपोर्ट के मुताबिक, मुकुल वासनिक और मीरा कुमार भी इस चुनाव में आलाकमान के आधिकारिक उम्मीदवार हो सकते हैं। 

-भारत जोड़ो यात्रा आज कर्नाटक में प्रवेश कर गई है। इसके साथ ही यह भी चर्चा है कि कर्नाटक से आने वाले मल्लिकार्जुन खड़गे कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए सबसे आगे चल रहे हैं। खड़गे ने कल रात सोनिया गांधी से मुलाकात की थी।

-सोनिया गांधी ने गुरुवार रात प्रियंका गांधी वाड्रा से उनके आवास पर मुलाकात भी की। कांग्रेस सांसद अब्दुल खालिक ने कहा था, ”प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस अध्यक्ष होना चाहिए। राहुल गांधी कहते हैं कि गांधी परिवार से कोई भी नहीं बनना चाहिए। महिलाएं उस परिवार का हिस्सा बन जाती हैं जहां वे शादी के बाद जाती हैं। आज वह वाड्रा परिवार की बहू हैं, गांधी परिवार का हिस्सा नहीं हैं।”

-ऐसा माना जाता है कि मनीष तिवारी भी कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव में दाव आजमाने की इच्छा रखते हैं। हालांकि, अभी तक कोी पुष्टि नहीं हुई है। आनंद शर्मा के आवास पर मुलाकात के बाद मनीष तिवारी ने कल रात कहा, ”अभी तक किसी ने नामांकन दाखिल नहीं किया है। नॉमिनेशन हो जाने दीजिए, इसके बाद इस विषय पर चिंतन होगा। लोकतांत्रिक प्रक्रिया शुरू हो गई है। बीएस हुड्डा, आनंद शर्मा, पृथ्वीराज चव्हाण और मैं विचार-विमर्श के लिए बैठे और ताजा सियासी घटनाओं पर चर्चा की। देखते हैं कल क्या होता है।” 

– आनंद शर्मा के आवास से निकलते समय पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा, “यह अच्छा है कि पार्टी में लोकतांत्रिक तरीके से चुनाव हो रहे हैं। हमने स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव के लिए सोनिया गांधी को धन्यवाद दिया है। देखते हैं कौन नामांकन दाखिल करेगा। हम कुछ नाम सुने हैं। हम मैदान में सर्वश्रेष्ठ उम्मीदवार का समर्थन करेंगे।”

दिग्विजय सिंह इन, अशोक गहलोत आउट

-गुरुवार को कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि अशोक गहलोत के दौड़ से बाहर होने के बाद वह शुक्रवार को अध्यक्ष चुनाव के लिए अपना नामांकन दाखिल करेंगे। 

-अशोक गहलोत ने कल सोनिया गांधी से मुलाकात की थी और राजस्थान में उनके प्रति वफादार विधायकों द्वारा विद्रोह की नैतिक जिम्मेदारी ली थी। उनके कट्टर विरोधी सचिन पायलट भी देर शाम कांग्रेस अध्यक्ष के आवास पहुंचे और उनसे चर्चा की। पायलट ने कहा कि यह सुनिश्चित करना उनकी प्राथमिकता रही है कि कांग्रेस 2023 का चुनाव भी जीते। इस बीच एआईसीसी महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल ने संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष एक या दो दिन में फैसला करेंगे कि राजस्थान का मुख्यमंत्री कौन होगा।

आज नामांकन दाखिल करेंगे थरूर

-कांग्रेस सांसद शशि थरूर कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव के लिए आज दोपहर 12:15 बजे 24 अकबर रोड स्थित कांग्रेस मुख्यालय में अपना नामांकन पत्र जमा करेंगे।

-कांग्रेस के शीर्ष पद के लिए नामांकन 30 सितंबर तक होगा। चुनाव 17 अक्टूबर को होगा।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

TRENDING

Jaya Ekadashi 2023: जया एकादशी के दिन करें ये खास उपाय, घर-परिवार पर बरसेगी मां लक्ष्मी की विशेष कृपा 

Published

on

By


Jaya Ekadashi 2023 Date: जया एकादशी पर प्रसन्न हो सकती हैं मां लक्ष्मी. 

Jaya Ekadashi 2023: शास्त्रों के अनुसार माघ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को जया एकादशी कहा जाता है. एकादशी पर भगवान विष्णु (Lord Vishnu) की विशेष पूजा-आराधना की जाती है. वहीं, जया एकादशी की बात करें तो इस दिन को पुण्यदायी माना जाता है. कहते हैं इस दिन पूजा करने वाले को विशेष फल की प्राप्ति होती है और भगवान विष्णु व्यक्ति के कष्टों को हर लेते हैं. इस वर्ष 1 फरवरी, बुधवार के दिन जया एकादशी का व्रत रखा जाएगा. मान्यतानुसार माता लक्ष्मी भगवान विष्णु की पत्नी हैं. इस चलते जया एकादशी पर कुछ उपाय करने पर भगवान विष्णु के साथ-साथ लक्ष्मी मां (Lakshmi Ma) की भी विशेष कृपा मिल सकती है. 

यह भी पढ़ें

Tulsi Niyam: मान्यतानुसार इस दिन नहीं चढ़ाया जाता तुलसी पर जल, घर में नहीं आती खुशहाली

जया एकादशी के उपाय | Jaya Ekadashi Upay 


पंचांग के अनुसार 31 जनवरी रात 11 बजकर 53 मिनट से जया एकादशी की शुरूआत हो रही है. इसका समापन अगले दिन 1 फरवरी दोपहर 2 बजकर 1 मिनट पर होगा. लेकिन, उदयातिथि के अनुसार जया एकादशी 1 फरवरी के दिन ही मनाई जाएगी. इस एकादशी पर व्रत का पारण 2 फरवरी सुबह 7 बजकर 9 मिनट से 9 बजकर 19 मिनट के बीच करना शुभ रहेगा. 


मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए जया एकादशी का व्रत (Jaya Ekadashi Vrat) किया जा सकता है. इस व्रत को करने पर भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की विशेष कृपा प्राप्त होगी. पूजा में पीले वस्त्र, पीले फूल, पीली मिठाई व फल शामिल करें. भोग में मां लक्ष्मी और भगवान विष्णु को केवल फल ही अर्पित करें.


जया एकादशी पर गाय को चारा खिलाना भी बेहद शुभ साबित होगा. गरीबों को भोजन खिलाने पर खासतौर से मां लक्ष्मी का चित्त प्रसन्न होगा और मान्यतानुसार भक्तों को आशीर्वाद मिलेगा. 

जया एकादशी के दिन तामसिक भोजन करने से परहेज करें. व्रत रखने वाले व्यक्ति के अलावा परिवार के अन्य सदस्यों को भी मान्यतानुसार अंडा, मांस, मछली और लहसुन-प्याज खाने से परहेज करना चाहिए. 

एक और उपाय (Ekadashi Upay) इस दिन किया जा सकता है जिसके लिए किसी मंदिर के पास पीपल के पेड़ तक जाना होगा. जया एकादशी के दिन पीपल के वृक्ष पर जल चढ़ाना शुभ साबित होगा. साथ ही, पीपल की परिक्रमा कर देसी घी का दीपक जलाया जा सकता है. पीपल के समक्ष मनोकामना मांगना सफल साबित हो सकता है. 

वास्तु शास्त्र के अनुसार पर्स में कभी नहीं रखनी चाहिए ये चीजें, माना जाता है रूठ जाती हैं मां लक्ष्मी

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

Featured Video Of The Day

सच की पड़ताल : क्‍या पठान की कामयाबी बॉलीवुड में नई जान फूंक पाएगी? 



Source link

Continue Reading

TRENDING

10 साल का इंतजार… रेप केस में आसाराम की सजा का ऐलान आज

Published

on

By


Image Source : FILE PHOTO
स्वयंभू बाबा आसाराम

गांधीनगर: गुजरात के गांधीनगर कोर्ट ने महिला अनुयायी से रेप के मामले में स्वयंभू बाबा आसाराम को दोषी करार दिया है और अब आज इस मामले में फैसला सुनाया जाएगा। गांधीनगर एडिशन डिस्ट्रिक्ट एंड सेशंस कोर्ट आज सुबह 11 बजे सजा सुनाएगी। 2013 में सूरत की दो बहनों से रेप के मामले में गांधीनगर सेशन कोर्ट ने आसाराम को दोषी ठहराया है। आसाराम का बेटा नारायण साईं भी इस मामले में आरोपी है। बता दें कि आसाराम को अगस्त 2013 में इंदौर से गिरफ्तार किया गया था और उसके बाद जोधपुर लाया गया था। इस केस में आसाराम की पत्नी लक्ष्मी, बेटी भारती और चार महिला अनुयायी ध्रुवबेन, निर्मला, जस्सी और मीरा को भी आरोपी बनाया गया था। हालांकि सबूतों के अभाव में इन सभी को  कोर्ट ने बरी कर दिया।

रेप के अन्य मामले में जेल में बंद हैं आसाराम


आसाराम एक अन्य रेप के मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद इस समय जोधपुर जेल में बंद है और आज कोर्ट सजा सुनाएगी। 2013 में सूरत की दो बहनों ने आसाराम और नारायण साईं के खिलाफ रेप की शिकायत दर्ज कराई थी। छोटी बहन ने शिकायत में कहा था कि नारायण साईं ने 2002 से 2005 के बीच उसके साथ बार-बार रेप किया। वहीं बड़ी बहन ने शिकायत में आसाराम पर रेप का आरोप लगाया था। पीड़िता ने कहा कि अहमदाबाद के आश्रम में आसाराम ने उसके साथ कई बार रेप किया।

अप्रैल 2022 में आसाराम के आश्रम से मिला था शव

नाबालिग से रेप के आरोप में जेल में बंद आसाराम बापू की मुसीबतें अप्रैल 2022 में भी बढ़ी थीं, जब जेल में बंद आसाराम बापू के यूपी के गोंडा स्थित आश्रम में एक नाबालिग लड़की का शव मिला था। शव आश्रम के अंदर काफी दिनों से खड़ी एक कार में मिला था। शव की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी और शव को कब्जे में ले लिया था।

मिली जानकारी के मुताबिक, लड़की अपने घर से 4 दिन पहले गायब हो गई थी, जिसका शव आसाराम बापू के आश्रम में कई दिनों से खड़ी कार से मिला था। मामला नगर कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत विमौर का था। यहां आसाराम का आश्रम है। नाबालिग लड़की 5 अप्रैल से लापता थी। कार में शव का पता उस दौरान लग सका जब उससे दुर्गंध आने लगी। आश्रम के कर्मचारी ने गाड़ी को खोलकर देखा तो उसमें बच्ची की लाश पड़ी हुई थी।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





Source link

Continue Reading

TRENDING

बीच सड़क पर बेसुध पड़ा था कुत्ता, रास्ते से जा रहे शख्स ने किया कुछ ऐसा, हर कोई कर रहा तारीफ

Published

on

By


बीच सड़क पर बेसुध पड़ा था कुत्ता, रास्ते से जा रहे शख्स ने गोद में उठाकर किया कुछ ऐसा

दुनिया में दयालु लोग बहुत नहीं हैं और जो मौजूद हैं उन्हें क़ीमती बनाने की ज़रूरत है. खासकर वो जो जानवरों के लिए भी दया भाव रखते हैं. हमारे पास इसका एक वीडियो के रूप में सबूत है जो ऑनलाइन वायरल हो गया है. क्लिप में, एक शख्स एक घायल कुत्ते (Dog) को बचाता है जो एक बिज़ी सड़क पर बेहोश पड़ा हुआ था. उनके निस्वार्थ भाव ने इंटरनेट पर लोगों का दिल जीत लिया है.

यह भी पढ़ें

वायरल हो रहे इस वीडियो को इंस्टाग्राम पर Kartavya Society नाम के एक पेज ने शेयर किया है. क्लिप में, एक पुरुष और महिला एक बिजी सड़क के किनारे रुके, जब उन्होंने एक कुत्ते को बेसुध पड़ा देखा. उस पर से गाड़ियां गुज़र रही थीं और कुत्ते की ओर किसी का ध्यान नहीं गया.

दोनों ने सोचा कि कुत्ता मर गया है और उसे सम्मानपूर्वक दफनाने का फैसला किया. हालांकि, जब वह शख्स उसके करीब गया, तो उसने देखा कि कुत्ता जिंदा था. उसने जल्दी से उसे उठाया और पशु चिकित्सक के क्लीनिक की ओर दौड़ा.

बेचारा कुत्ता सिर में चोट लगने के कारण बेहोश था और खून भी बह रहा था. पराग पंड्या नाम के पशु चिकित्सक ने पूरी जांच के बाद इसका इलाज किया. और सौभाग्य से कुत्ता ठीक हो गया. और क्या आप जानना चाहते हैं कि इस प्यारे कुत्ते का नाम क्या था? चमत्कार! 

देखें Video:

ऑनलाइन शेयर किए जाने के बाद से वीडियो को 10 मिलियन से अधिक बार देखा गया. इंस्टाग्राम यूजर्स ने पुरुष और महिला के निस्वार्थ और दयालु काम की तारीफ की और कमेंट सेक्शन में अपने प्यार की बौछार की. एक यूजर ने लिखा, “एवेंजर्स जैकेट. एवेंजर बिहेवियर.” एक अन्य यूजर ने कमेंट किया, “हमें इस दुनिया में उनके जैसे और लोगों की जरूरत है.”

Featured Video Of The Day

अयोध्‍या के लिए स्‍वर्णिम युग आ रहा है : राम मंदिर निर्माण पर बोले बिमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्रा





Source link

Continue Reading