Connect with us

TRENDING

कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए तीन नाम, खड़गे, थरूर और त्रिपाठी

Published

on


Image Source : INDIA TV
Congress President Election

Highlights

  • ‘कांग्रेस को बदलाव की पार्टी बननी चाहिए’ – थरूर
  • मल्लिकार्जुन खड़गे ने दाखिल किया नामांकन
  • आखिरी मौके पर खड़गे की एंट्री

Congress President Election: कई दिनों से अफवाहों और कयासों के बाद आज आखिरकार कांग्रेस अध्यक्ष पद के प्रत्याशियों के चेहरे साफ़ हो गए हैं। अध्यक्ष पद के लिए कुल तीन लोगों ने नामांकन किया है। एक पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा में पार्टी के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे दूसरा केरल से पार्टी के सांसद शशि थरूर और तीसरा झारखंड कांग्रेस के नेता केन त्रिपाठी। 

‘कांग्रेस को बदलाव की पार्टी बननी चाहिए’ – थरूर 

तीनों नेताओं ने आज दोपहर में AICC ऑफिस पहुंचकर नामांकन दाखिल किया।  नामांकन दाखिल करने के बाद शशि थरूर मीडिया से बात करते हुए बोले कि, “मेरे पास कांग्रेस के लिए दूरदृष्टि है, 9,000 से अधिक डेलीगेट को दृष्टिपत्र भेजूंगा और उनका समर्थन मांगूंगा।” उन्होंने कहा कि कांग्रेस को बदलाव की पार्टी बननी चाहिए, हमें पार्टी को मजबूत करने तथा देश को आगे ले जाने की उम्मीद है। 

मल्लिकार्जुन खड़गे ने दाखिल किया नामांकन 

वहीं वरिष्ठ कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने शुक्रवार को पार्टी अध्यक्ष पद के लिए अपना नामांकन दाखिल कर दिया। उनकी उम्मीदवारी के प्रस्तावकों में पार्टी नेता अशोक गहलोत, दिग्विजय सिंह, प्रमोद तिवारी, पी एल पुनिया, ए के एंटनी, पवन कुमार बंसल और मुकुल वासनिक शामिल रहे। कांग्रेस में बदलाव की वकालत करने वाले जी23 समूह के नेता आनंद शर्मा और मनीष तिवारी भी खड़गे के नामांकन के प्रस्तावकों में शामिल थे। तिवारी ने कहा कि खड़गे पार्टी के सबसे अनुभवी नेताओं में शामिल हैं और दलित भी हैं। दिग्विजय सिंह ने शुक्रवार को ही घोषणा की कि वह पार्टी अध्यक्ष का चुनाव नहीं लड़ेंगे और खड़गे की उम्मीदवारी का समर्थन करेंगे। वहीं माना जा रहा है कि पार्टी का G-23 ग्रुप भी खडगे का समर्थन कर रहा है। यह शशि थरूर के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है, क्योंकि थरूर भी उसी गुट से आते हैं। 

आखिरी मौके पर खड़गे की एंट्री 

 इस रेस में मल्लिकार्जुन खड़गे की एंट्री भी आखिरी मौके पर हुई। अशोक गहलोत के अध्यक्ष पद की रेस से बाहर होने के बाद सबसे ज्यादा चर्चा दिग्विजय सिंह के नाम की थी। उन्होंने कल कांग्रेस चुनाव कार्यालय से फॉर्म लिया था और यह कहा था कि संभवत: वे कल (30 सितंबर) नामांकन दाखिल करेंगे। लेकिन आखिरी वक्त पर मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम सामने आया और दिग्विजय सिंह ने खड़गे का समर्थन करते हुए नामांकन नहीं भरने का ऐलान किया।

Latest India News





Source link

TRENDING

CUET (UG) 2023 के लिए आया बड़ा अपडेट, UGC अध्यक्ष ने कही यह बात

Published

on

By


Image Source : TWITTER
यूजीसी के अध्यक्ष एम जगदीश कुमार

कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट, सीयूईटी (यूजी) 2023 के लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस जल्द ही शुरू होने वाले हैं। इसके लिए तारीखों की घोषणा जल्द कर दी जाएगी। इसकी जानकारी यूजीसी के अध्यक्ष एम. जगदीश कुमार ने दी है। एक बार रजिस्ट्रेशन पोर्टल एक्टिव होने के बाद छात्र आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अप्लाई कर सकेंगे। कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट के जरिए देश भर की यूनिवर्सिटी में एडमिशन मिलता है।

क्या कहा एम जगदीश कुमार?

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, एम जगदीश कुमार ने कहा कि कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट, सीयूईटी (यूजी) 2023 के जरिए सेंट्रल यूनिवर्सिटीज और अन्य भाग लेने वाले यूनिवर्सिटीज में ग्रेजुएट प्रोग्रामों में एडमिशन लेने के लिए रजिस्ट्रेशन और एप्लीकेशन प्रोसेस कुछ दिनों में शुरू कर दिए जाएंगे। इस सूचना के मिलते ही युवाओं ने खुशी जाहिर की है।

13 भाषाओं में होंगे एग्जाम

वहीं, ऑफिशियल नोटिस के अनुसार, सीयूईटी (यूजी) 2023 का आयोजन 21 मई और 31 मई के बीच होगा। बता दें कि एंट्रेस टेस्ट एग्जाम कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT) होगी। ये एग्जाम अंग्रेजी भाषा सहित 13 भाषाओं में आयोजित की जाएगी।

बता दें कि इससे पहले यूजीसी अध्यक्ष ने कहा था कि CUET एग्जाम के पैटर्न और सब्जेक्ट च्वाइस में कोई भी बदलाव नहीं होगा। इसके साथ ही एग्जाम सेंटर की संख्याओं को बढ़ाया जाएगा। इन्हें 450 से बढ़ाकर 1,000 किया जाएगा। बता दें कि पिछले साल 14.9 लाख छात्रों ने CUET के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया था। साथ ही देशभर के 450 एग्जाम सेंटर पर सीयूईटी एग्जाम आयोजित हुए थे।


 

इसे भी पढ़ें-

क्यों आते हैं भूकंप, आखिर कैसे मापी जाती है इसकी तीव्रता; जानें यहां सबकुछ

Optical illusion: इस तस्वीर में छिपा है टाइगर, 7 सेकेंड में ढूंढ लिया तो आप से ज्यादा बुद्धिमान कोई नहीं

 

Latest Education News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन





Source link

Continue Reading

TRENDING

उर्फी जावेद के पास मिली शाहरुख खान की 90s में खोई हुई जींस! फैन की वीडियो देख एक्ट्रेस भी नहीं रोक पाईं हंसी

Published

on

By


उर्फी जावेद ने शेयर किया वीडियो

नई दिल्ली:

उर्फी जावेद अपने अजीबोगरीब फैशन के लिए अक्सर सोशल मीडिया पर छाई रहती हैं. लेकिन हाल ही में एक्ट्रेस द्वारा पहने गए एक आउटफिट ने लोगों को शाहरुख के 90 के दशक की फिल्म की याद दिला दी है. दरअसल, एक्ट्रेस  ने हाल ही में डेनिम की एक ड्रेस पहनी थी, जिसे देखकर फैंस ने भी रिएक्शन दिया था. वहीं अब एक्ट्रेस के आउटफिट को देखकर फैंस को शाहरुख खान की एक पुरानी फिल्म की याद दिला दी है, जिसकी चर्चा सोशल मीडिया पर हो रही है. 

यह भी पढ़ें

दरअसल, शाहरुख खान औऱ करिश्मा कपूर की फिल्म दिल तो पागल है का एक सीन फैंस को याद आ गया है, जिसमें करिश्मा कपूर उर्फ निशा और शाहरुख खान उर्फ राहुल खरीदारी करने जाते हैं. वहीं जब शाहरुख खान यानी राहुल बिना पैंट पहने ट्रायल रूम से बाहर निकल जाते हैं, तो करिश्मा पूछती हैं, “तुम्हारी पैंट कहा है? ”

उर्फी जावेद द्वारा शेयर की गई वीडियो में शाहरुख खान और करिश्मा कपूर के इस सीन के आगे वह डेनिम पैंट को टॉप के रूप में पहनकर अपनी कार से बाहर निकलते हुए नजर आ रही हैं. इस वीडियो के कैप्शन में एक्ट्रेस ने लिखा, “यह इतना मज़ेदार था कि मैं मदद नहीं कर सकता था लेकिन दोबारा पोस्ट कर सकता था.” वहीं इस वीडियो को देखकर सेलेब्स और फैंस फनी रिएक्शन देते दिख रहे हैं. 

बता दें, उर्फी जावेद हाल ही में एक रियलिटी शो में शिरकत करती नजर आईं थीं. इसके अलावा उनका फैशन अक्सर चर्चा में रहता है. हाल ही में उर्फी जावेद ने कचरे के थैली से बना आउटफिट पहना था, जिसे वह बिग बॉस ओटीटी में भी पहन चुकी हैं. वहीं इसकी चर्चा सोशल मीडिया पर काफी हुई थी. 

Featured Video Of The Day

सच की पड़ताल: समाजिक सेक्टर का बजट कम क्यों? जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट





Source link

Continue Reading

TRENDING

अडानी समूह में हड़कंप: हिंडनबर्ग रिपोर्ट के बाद निवेशकों के डूब गए ₹9.5 लाख करोड़

Published

on

By


ऐप पर पढ़ें

Adani group Stock: अडानी समूह की ज्यादातर कंपनियों के शेयरों में गिरावट का सिलसिला सोमवार को भी जारी रहा। इस गिरावट के बीच समूह की सभी कंपनियों का सम्मिलित रूप से मार्केट कैप नौ कारोबारी दिनों में 9.5 लाख करोड़ रुपये कम हो चुका है। विदेशी मुद्रा कारोबारियों ने कहा कि हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट आने के बाद से अडानी समूह के शेयरों को लेकर बाजार की धारणा खराब हुई है जिससे इन शेयरों की कीमतों में भारी गिरावट दर्ज की गई है।

सप्ताह के पहले दिन का कारोबार बंद होने पर अडानी समूह की दस में से छह कंपनियों के शेयर नुकसान में रहे। अडानी ट्रांसमिशन का शेयर 10 प्रतिशत टूट गया जबकि अडानी टोटल गैस, अडानी पावर, अडानी ग्रीन एनर्जी और अडानी विल्मर के शेयरों में पांच-पांच प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।

टाटा की इस कंपनी को बड़ा नुकसान, निवेशकों में हड़कंप, शेयर बेचने की होड़

समूह की प्रमुख कंपनी अडानी एंटरप्राइजेज का शेयर 0.74 प्रतिशत की हल्की गिरावट के साथ बंद हुआ। हालांकि शुरुआती कारोबार में इसका शेयर 9.50 प्रतिशत नीचे आ गया था लेकिन बाद में इसकी स्थिति सुधर गई। समूह की चार कंपनियों ने गिरावट के रुख के बीच भी बढ़त दर्ज की। इनमें अडानी पोर्ट्स एंड एसईजेड लिमिटेड में 9.46 प्रतिशत की तेजी हासिल करने में सफल रही। अंबुजा सीमेंट में 1.54 प्रतिशत, एसीसी में 2.24 प्रतिशत और एनडीटीवी में 1.37 प्रतिशत का सुधार देखा गया। 

स्टॉक्सबॉक्स के शोध प्रमुख मनीष चौधरी ने कहा कि पिछले नौ कारोबारी दिनों में समूह की सभी कंपनियों का सम्मिलित बाजार पूंजीकरण 9.5 लाख करोड़ रुपये यानी करीब 49 प्रतिशत तक गिर चुका है। उन्होंने कहा कि हिंडनबर्ग की रिपोर्ट आने और एफपीओ को वापस लेने से कारोबारी धारणा पर प्रतिकूल असर पड़ा है।

इस पेनी स्टॉक पर फिदा हैं विदेशी निवेशक, डबल कर दी अपनी हिस्सेदारी, एक्सपर्ट बोले- ₹23 पर जाएगा भाव

अमेरिका की ‘शॉर्ट सेलर’ फर्म हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट में अडाणी समूह पर धोखाधड़ी वाले लेनदेन और शेयर की कीमतों में हेरफेर का आरोप लगाया गया था। उसके बाद से समूह की कंपनियों के शेयरों में गिरावट का सिलसिला शुरू हो गया। हालांकि, अडानी समूह ने इन आरोपों को झूठा बताते हुए कहा है कि वह सभी कानूनों और खुलासा अनिवार्यताओं को पूरा करता रहा है। 

     

 



Source link

Continue Reading