Connect with us

Sports

कभी नंगे पांव फ्रांस को नाकों चने चबवा दिए थे, फिर खराब होने लगी भारतीय फुटबॉल की स्थिति, आखिर क्यों है ऐसा बुरा हाल

Published

on


नई दिल्ली: भारतीय फुटबॉल टीम की एक तस्वीर अब भी गाहे बगाहे सोशल मीडिया पर वायरल हो जाती है। तस्वीर में कुछ खिलाड़ी फुटबॉल ग्राउंड में नंगे पांव दिखते हैं। उनके पीछे स्टेडियम में उमड़ा जनसैलाब दिखता है। यह तस्वीर भारतीय फुटबॉल टीम का है, जो 1948 लंदन ओलिंपिक में फ्रांस के खिलाफ खेलने उतरी थी। इस तस्वीर को शेयर करते हुए फुटबॉल को चलाने वाली वर्ल्ड संस्था फीफा ने एक बार लिखा था- यही वह टीम है, जिसने बिना जूते पहने फ्रांस की टीम को नाकों चने चबवा दिए थे।

फीफा की यह तारीफ करोड़ों की है। भारत वह मैच 1-2 से हारा था। इसके बावजूद फीफा का ट्वीट यह बताने के लिए काफी था कि भारतीय टीम का जज्बा क्या थ। उसमें टैलेंट और फाइटिंग स्पिरिट का लेवल क्या था। बावजूद इसके आज भी भारत फुटबॉल में अपनी जगह बनाने को जूझ रहा है। पुरुष टीम की रैंकिंग 104 है, जबकि महिलाओं की रैंकिंग 58 है। मुट्ठीभर जनसंख्या वाले गरीब कुचले देश केन्या और हैती कहीं बेहतर पोजिशन पर हैं।

आजादी के बाद पहला मुकाबला था

वायरल तस्वीर आजादी के बाद की है, जिसमें भारत फ्रांस को टक्कर देता दिखा था। यही वह टीम है, जिसने 1956 में सिडनी के ऐतिहासिक स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया को 7-1 से रौंदा था। 1956 में ही भारतीय टीम ओलिंपिक के सेमीफाइनल में पहुंची थी। 1964 में एशिया कप की रनरअप भी रही थी। एशियन गेम्स-1951 और 1962 में चैंपियन बनी थी। लेकिन ये बातें इतिहास हैं।

मौजूदा हाल यह है कि ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) में राजनीति चरम पर है। फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल पर टीम पर बैन लगवाने की कोशिश करने का गंभीर आरोप लगा है। भारतीय टीम को समय के साथ जहां बेहतर होना चाहिए था, वहीं लगातार वह ढलान पर रही। ऐसा नहीं है कि फेडरेशन में कोई तनाव रहा। यहां तो लंबे समय तक प्रफुल्ल पटेल का एकतरफा राज रहा। इसके बावजूद भारतीय टीम विकास का आधार मानी जाने वाली रैंकिंग में हमेशा पिछड़ी ही रही।

13 साल तक अध्यक्ष रहे पटेल
2009 में नागरिक उड्डयन मंत्री प्रफुल्ल पटेल को ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन का अध्यक्ष बनाया गया था। उसके बाद से वह लगातर पद पर थे। इस साल सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें पद से हटाया। देश के स्पोर्ट्स कोड के अनुसार कोई भी व्यक्ति 3 बार से ज्यादा अध्यक्ष नहीं रह सकता है। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें हटाने के साथ ही एक कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स का भी गठन किया। अब प्रफुल्ल पटेल राज्य संघों के साथ मिलकर सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज एआर दबे, पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी और भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान भास्कर गांगुली वाली सीओए कमेटी को परेशान करने में लगे हैं।

देश में क्यों खराब है फुटबॉल की हालत?
किसी भी खेल में चैंपियन बनने के लिए खिलाड़ियों को काफी कम उम्र से ही ट्रेनिंग दी जाती है। उनके लिए सही डाइट की जरूरत होती है। विदेशी में छोटे स्तर पर ही टैलेंट की पहचान की जाती है। उन्हें पूरी व्यवस्था दी जाती है। लेकिन भारत में फुटबॉल के लिए जमीनी स्तर पर सुविधा की काफी कमी नजर आती है। खिलाड़ियों के लिए ट्रेनिंग की उचित व्यवस्था नहीं है। वैसे मैदान ही नहीं है जहां उन्हें बड़े स्तर के लिए ट्रेनिंग दी जा सके। इतना बड़ा देश होने के बाद भी यहां चंद ही इंटरनेशनल लेवल के फुटबॉल स्टेडियम हैं।

खेल में राजनीति का बोलबाला
भारत के ज्यादातर फुटबॉल मैदान नेताओं के नाम पर हैं। फुटबॉल के कई स्टेडियम पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के नाम पर हैं। कई बार इसपर सवाल भी उठ चुके हैं। खेल को चलाने वाले लोगों में पूर्व खिलाड़ी दूर-दूर तक नजर नहीं आते हैं। हर बड़े पद पर किसी न किसी पार्टी के नेता बैठे हैं। वे न तो खेल को समझते हैं और न ही उन्हें खेल से ज्यादा मतलब होता है। यही वजह है कि देश में फुटबॉल का खेल लगातार पीछे जा रहा है।



Source link

Sports

हम अनफिट नहीं हुए हैं, हमें नजर लग गई है; शाहीन अफरीदी ने बताई चोट की वजह तो लोग ठहाके मारकर हंसने लगे, देखिए वीडियो

Published

on

By



स्टार तेज गेंदबाज शाहीन अफरीदी चोट की वजह से पाकिस्तान की टीम से बाहर हैं। एक इवेंट के दौरान जब उनसे चोट के बारे में पूछा गया तो उन्होंने एक मजेदार जवाब दिया है, जोकि वायरल हो रहा है।



Source link

Continue Reading

Sports

BCCI ने किया भारत के अगले 3 महीने के शेड्यूल का ऐलान, इन 3 टीमों के खिलाफ खेलेगा भारत; जानें पूरी डिटेल

Published

on

By


भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने गुरुवार को टीम इंडिया के आगामी तीन महीने के शेड्यूल का ऐलान कर दिया है। जनवरी से मार्च तक भारत घर पर श्रीलंका, न्यूजीलैं और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलेगा। नए साल का आगाज भारत श्रीलंका के खिलाफ तीन मैच की टी20 सीरीज के साथ करेगा, इसके बाद भारत को उनके खिलाफ तीन मैच की वनडे सीरीज भी खेलनी है। श्रीलंका के भारत दौरे का आगाज 3 जनवरी को मुंबई में खेले जाने वाले पहले टी20 से होगा।

क्रिप्टोस से भी तेज गिर रही है हमारी परफॉर्मेंस, टीम इंडिया पर ऐसे निकला वीरेंद्र सहवाग का गुस्सा

श्रीलंका के भारत दौरे का शेय्डूल इस प्रकार है-

पहला टी20 – 3 जनवरी (मुंबई)

दूसरा टी20 – 5 जनवरी (पुणे)

तीसरा टी20 – 7 जनवरी (राजकोट)

पहला वनडे – 10 जनवरी (गुवाहाटी)

दूसरा वनडे – 12 जनवरी (कोलकाता)

तीसरा वनडे – 15 जनवरी (तिरुवनंतपुरम) 

IND vs BAN: रोहित शर्मा के कवर के रूप में इस खिलाड़ी को मिल सकती है जगह, उमरान मलिक की हो सकती है टेस्ट टीम में एंट्री

श्रीलंका दौरे के बाद भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ 18 जनवरी से तीन मैच की वनडे सीरीज खेलनी है। कीवी टीम के खिलाफ भारत वनडे के बाद इतने ही मैच की टी20 सीरीज की भी मेजबानी करेगा। वनडे सीरीज का दूसरा मुकाबला रायपुर में खेला जाएगा और यह रायपुर का पहला इंटरनेशनल मैच होगा।

न्यूजीलैंड के भारत दौरे का शेड्यूल इस प्रकार है-

पहला वनडे – 18 जनवरी (हैदराबाद)

दूसरा वनडे – 21 जनवरी (रायपुर)

तीसरा वनडे – 24 जनवरी (इंदौर)

डेविड वॉर्नर के सपोर्ट में आए माइकल क्लार्क, कहा- CA ने उसको बलि का बकरा बनाया

पहला टी20 – 27 जनवरी (रांची)

दूसरा टी20 – 29 जनवरी (लखनऊ)

तीसरा टी20 – 1 फरवरी (अहमदाबाद) 

श्रीलंका और न्यूजीलैंड के बाद भारत को घर पर ही ऑस्ट्रेलिया की भी मेजबानी करनी है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत चार मैच की टेस्ट सीरीज के अलावा तीन मैच की वनडे सीरीज खेलेगा। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ कोई टी20 सीरीज नहीं है। बॉर्डर गावस्कर टेस्ट सीरीज का आगाज 9 फरवरी को नागपुर में खेले जाने वाले पहले टेस्ट से होगा। इसके बाद अगले तीन मैच दिल्ली, धर्मशाला और अहमदाबाद में क्रमश: 17 फरवरी, 1 मार्च और 9 मार्च को शुरू होंगे। ये चारों टेस्ट WTC का हिस्सा होंगे और भारत के इस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाने के लिए यह टेस्ट सीरीज काफी अहम होगी। वहीं बॉर्डर गावस्कर टेस्ट सीरीज में आखिरी बार चार मैच की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी, इसके बाद सीरीज में चार की जगह 5 मैच होंगे। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद भारत को कंगारुओं के खिलाफ तीन मैच की वनडे सीरीज भी खेलनी है।

IND vs BAN: रोहित शर्मा की कप्तानी पारी के बावजूद सुनील गावस्कर हुए नाराज, पूछ लिया ये कड़वा सवाल

ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे का शेड्यूल इस प्रकार है-

पहला टेस्ट – 9 फरवरी से 13 फरवरी (नागपुर)

दूसरा टेस्ट – 17 से 21 फरवरी (दिल्ली)

तीसरा टेस्ट – 1 से 5 मार्च (धर्मशाला)

चौथा टेस्ट – 9 से 13 मार्च (अहमदाबाद)

पहला वनडे – 17 मार्च (मुंबई)

दूसरा वनडे – 19 मार्च (विशाखापत्तनम)

तीसरा वनडे – 22 मार्च (चेन्नई) 

IND vs SL, IND vs NZ, IND vs AUS लाइव स्ट्रीमिंग डिटेल

अगले तीन महीनों में भारत इन 3 टीमों के खिलाफ घर पर ही सीरीज खेलेगी, ऐसे में सभी मुकाबलों का लुत्फ आप टीवी पर स्टार स्पोर्ट्स पर उठा सकते हैं, वहीं ऑनलाइन इन मैचों को देखने के लिए आप डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर लॉगिन कर सकते हैं। वहीं लिमिटेड ओवर का लाइव टेलिकास्ट डीडी स्पोर्ट्स पर भी होगा।

 



Source link

Continue Reading

Sports

IND vs BAN: बांग्लादेश के खिलाफ टीम इंडिया में चार बड़े बदलाव, इन खिलाड़ियों की हुई छुट्टी

Published

on

By


Image Source : AP
Indian Cricket Team

IND vs BAN: भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की सीरीज में टीम इंडिया 2-0 से पिछड़ गई है। दोनों टीमों के बीच तीसरा मैच शनिवार को खेला जाएगा। दो मैचों में मिली हार की वजह से टीम इंडिया ने इस सीरीज को गवां दिया। सीरीज के दौरान कुल चार भारतीय खिलाड़ी इंजरी का शिकार हो गए और भारत को इसका खामियाजा बांग्लादेश के खिलाफ हार के साथ भुगतना पड़ा। सीरीज के पहले मैच से ठीक पहले ऋषभ पंत इंजरी का शिकार हो गए और उन्हें बीच में ही भारत वापस लौटना पड़ा। सीरीज के दूसरे मैच से पहले कुलदीप सेन इंजरी का शिकार हो गए। वहीं कप्तान रोहित शर्मा और दीपक चाहर भी दूसरे वनडे के दौरान घायल हो गए। 

रोहित की जगह कौन

कुल मिलाकर देखा जाए तो इन इंजरी के कारण टीम इंडिया को काफी नुकसान हुआ है। दीपक चाहर और रोहित शर्मा को हुई इंजरी से भारतीय टीम को पुरी तरह से बैकफुट पर चली गई है। सीरीज के तीसरे मैच में टीम इंडिया के लिए सम्मान की लड़ाई होगी। भारतीय टीम को बांग्लादेश के खिलाफ क्लीन स्वीप से बचने के लिए सीरीज के अंतिम मैच को किसी भी कीमत पर अपने नाम करना होगा। अगर टीम इंडिया यह मैच हार जाती है तो ऐसा पहली बार होगा जब भारत को बांग्लादेश के हाथों क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ेगा। सीरीज के तीसरे मैच में टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा इंजरी के कारण प्लेइंग 11 का हिस्सा नहीं होंगे। रोहित को दूसरे वनडे के दौरान अंगूठे में चोट लग गई थी। ऐसे में उनकी जगह राहुल त्रिपाठी को टीम में मौका दिया जा सकता है। राहुल त्रिपाठी पिछले कई सीरीज से भारतीय स्क्वाड का हिस्सा हैं लेकिन उन्हें अभी तक डेब्यू करने का मौका नहीं दिया गया है। ऐसे में राहुल त्रिपाठी भारत के लिए अगले मैच में डेब्यू कर सकते हैं।

गेंदबाजी यूनिट हुई कमजोर

इस सीरीज के दौरान टीम के दो गेंदबाज चोटिल हो गए। मोहम्मद शमी सीरीज शुरू होने से पहले ही इंजरी के कारण स्क्वाड से बाहर हो गए उनकी जगह उमरान मलिक को टीम में मौका दिया गया। सीरीज के दौरान दीपक चाहर और कुलदीप सेन की इंजरी ने टीम की मुश्किलें और भी ज्यादा बढ़ा दी हैं। इन गेंदबाजों के बाहर होने की वजह भारतीय गेंदबाजी यूनिट को काफी नुकसान का सामना करना पड़ा है। अब टीम मैनेजमेंट के सामने सबसे बड़ा सवाल यह है कि अगले मैच में भारत किन गेंदबाजों से साथ बांग्लादेश के खिलाफ उतरे। सीरीज के तीसरे मैच में बांग्लादेश के खिलाफ ये भारतीय टीम कमजोर नजर आ रही है।

Latest Cricket News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन





Source link

Continue Reading